विस्फोट में घायल तौहीद ने लखनऊ में दम तोड़ा

Shahjahanpur Updated Tue, 08 May 2012 12:00 PM IST
छह लोगों की हो गई थी मौके पर ही मौत
- कांट हादसे में मरने वालों की संख्या हुई सात
अमर उजाला नेटवर्क
कांट (शाहजहांपुर)। कांट में आतिशबाजी के गोदाम में विस्फोट से ढहे लिंटर के मलबे में दबकर घायल हुए तौहीद ने भी दम तोड़ दिया है। छह लोगों की विस्फोट के ही दिन मौके पर ही मौत हो गई थी, उनके शव मलबे से निकाले गए थे। अब हादसे में मरने वालों की संख्या सात हो गई है।
कस्बा कांट में स्थित आतिशबाजी के गोदाम में 24 अप्रैल को सुबह के समय आग लग गई थी। जिससे भयंकर विस्फोट हुआ था। जिससे दहलकर छह दुकानों की छत ढह गई थी। मलबे में दबकर आतिशबाज इंतजार अली, उसके भतीजे फैज मोहम्मद के अलावा पड़ोस में ही स्थित टेलर मास्टर जहूर अहमद और उसकी दुकान पर कपड़े सिलाने आई गांव अभायन की गीता और उसके पुत्र अरून व अमन की मौके ही मौत हो गई थी।
आग लगने से उनके शव बुरी तरह झुलस गए थे। बमुश्किल शव बाहर निकाले गए थे। वहीं यहां खड़े तौहीद (20) पुत्र हुल्ला निवासी केले वाली चौपाल मलबे लपटों की चपेट में आकर गंभीर रूप से घायल हो गया था। विस्फोट से उसका शरीर भी झुलस गया था। उसे लखनऊ के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां तौहीद ने सोमवार की सुबह दम तोड़ दिया। उसकी मौत की खबर आने पर यहां परिवार में कोहराम मच गया है। युवक की मौत पर परिजन दहाड़े मार-मार कर रो रहे हैं।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, दोपहर 2 बजे बाद होगा सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

प्रेम में बदनामी के डर से नाबालिग ने खुद को फूंका

शाहजहांपुर में एक नाबालिग लड़की ने बदनामी के डर से आग लगाकर जान दे दी। लड़की के प्रेमी ने लड़की के घर फोन करके दोनों के प्रेम प्रसंग की बात कही। जिसके बाद लड़की ने बदनामी से बचने के लिए ये कदम उठाया।

22 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls