बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

जान खतरे में डालकर कर रहे तीर्थ यात्रा

Sant kabir nagar Updated Sun, 10 Feb 2013 05:30 AM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
संतकबीरनगर। मौनी अमवस्या पर्व पर कुंभ में और अयोध्या के सरयू नदी में स्नान करने के लिए जाने वाले तीर्थ यात्रियों की भीड़ शनिवार को खलीलाबाद, मगहर रेलवे स्टेशनों पर जुटी रही। ट्रेनों और बसों की स्थिति यह रही कि लोग जान जोखिम में डालकर भी यात्रा करने से नहीं चूके। कई ट्रेन में लोग लटकते हुए यात्रा कर रहे थे। रोडवेज बस से सफर करने वाले तीर्थयात्री बस स्टेशन के अभाव में मेंहदावल बाईपास पर सड़क के किनारे खडे़ हो कर बसों का इंतजार करते दिखे। जिन्हें बस मिल जा रही थी वह किसी भी स्थिति में उसे छोड़ना नहीं चाह रहे थे।
विज्ञापन

कुंभ स्नान के लिए इलाहाबाद जाने वाले रेल यात्रियों की वजह से ट्रेनों में काफी भीड़भाड़ रही। ट्रेन की बोगी के दरवाजे पर भी बैठकर यात्री सफर करते देखे गए। खलीलाबाद स्टेशन पर ट्रेन का इंतजार कर रहे रामभरोसे, सदानंद और महेंद्र ने बताया कि वे इलाहाबाद जा रहे हैं। मौनी अमावस्या पर्व पर कुंभ में स्नान करेंगे। गोरखपुर से चौरीचौरा ट्रेन पकडे़ंगे। उनका कहना था कि कुंभ की वजह से ट्रेनों में भी बैठने की भी जगह मिल जाए तो बड़ी किस्मत होगी। मेंहदावल बाईपास पर रोडवेज बस का इंतजार कर रहे सर्वजीत, सुभाष चंद्र और दुर्गादत्त ने कहा कि ट्रेनों की भीड़ को देखते हुए बस से यात्रा करके इलाहाबाद जाएंगे। बस में भी भीड़ अधिक दिख रही है। विश्वनाथपुर गांव निवासी तवलचंद्र पांडेय, घनश्याम पांडेय, लालजी पांडेय आदि ने कहा कि बस और ट्रेनों की भीड़ को देखते हुए स्नान के लिए करीब 50 व्यक्ति तैयार हो गए। यात्रा की सुविधा के लिए प्राइवेट बस रिजर्व किया गया है। उसी से सफर करके कुंभ स्नान किया जाएगा। कुंभ जाने वालों की भीड़ के चलते अन्य यात्री भी झेल गए।


मौनी अमावस्या आज, घाटों की हुई सफाई
अमर उजाला नेटवर्क

संतकबीरनगर। मौनी अमावस्या पर्व रविवार को मनाया जाएगा। पुण्य के लिए श्रद्धालु नदियों में डुबकी लगाएंगे। इसके लिए जनपद के सरयू नदी के विभिन्न घाटों को पूरी तरह से तैयार कर लिया गया है और श्रद्धालुओं की पूरी सुरक्षा व्यवस्था के लिए पुख्ता इंतजाम किया गया है।
इस बार 10 फरवरी को मौनी अमावस्या है। जिला प्रशासन का अनुमान है कि इस वर्ष हजारों की संख्या में श्रद्धालु सरयू नदी में श्रद्धा की डुबकी लगाएंगे। इसलिए नदी की साफ-सफाई करवा दी गई है। हैंसर प्रतिनिधि के अनुसार सरयू नदी के बिड़हर, मैंदी, चहोड़ा, रामबाग, चाड़ीपुर आदि घाटों पर श्रद्धालुओं का जत्था शनिवार से पहुंचने लगा है। नदी के तटों पर लगने वाले मेले के लिए व्यापारी अपनी-अपनी दुकानों को सजा चुके हैं। मेले में सुरक्षा के लिए भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई है। जिससे श्रद्धालुओं को हर प्रकार की मुश्किलों से बचाया जा सके। इसके अलावा गोताखोरों की भी तैनाती की गई है। थानाध्यक्ष धनघटा शमशेर बहादुर सिंह का कहना है कि मेले में पुलिस बल की तैनाती के साथ-साथ लोगों को जाम की समस्या से निजात दिलाने के लिए उमरियां से ही बैरिकेटिंग कर दी गई है। जिससे बड़े वाहन मेला क्षेत्र में न घुसने पाएं। इनके रूटों को परिवर्तित कर दिया गया है।

मौनी अमावस्या का महात्म्य
सूर्य पुत्र मनु का जन्म मौनी अमावस्या के दिन ही हुआ था। जिससे नदियों का जल अमृत हो जाता है। शास्त्रों में भी मौनी अमावस्या को खास माना गया है।

पुण्यकाल
मौनी अमावस्या शनिवार (9 फरवरी) को 2:43 मिनट से शुरू होकर अगले दिन रविवार(10 फरवरी) के दिन में 12:43 बजे तक रहेगा। ज्योतिषाचार्य पंडित ओम प्रकाश मिश्र ने बताया कि जिस दिन उदया तिथि का सूर्य हो, उसी दिन पर्व मनाया जाता है। इसलिए मौनी अमावस्या का स्नान 10 फरवरी को पूर्वांह्न में शुरू हो जाएगा।

कुंभ जाने के लिए घंटों करते रहे इंतजार
अमर उजाला नेटवर्क
संतकबीरनगर। कुंभ में स्नान करने और अन्य शहरों की तरफ जाने वाले यात्री पूरे दिन मेंहदावल तिराहा बाइपास पर बसों का इंतजार करते रहे। लेकिन उन्हें बस नहीं मिली। स्थिति यह थी कि यदि कोई प्राइवेट वाहन आकर चौराहा पर खड़ा होता था तो यात्रियों का हुजूम उस वाहन की तरफ टूट पड़ता था। जिसकी वजह से उन्हें भी परेशानी उठानी पड़ रही थी।

बसों की अतिरिक्त व्यवस्था होनी चाहिए थी
चार घंटे से बस का इंतजार कर रहे हैं लेकिन अब तक कोई बस नहीं आई है। दिल्ली जाना है। जिसके लिए लखनऊ से ट्रेन पकड़नी है लेकिन लग रहा है कि बस नहीं मिलेगा। सरकार को चाहिए कि यात्रियों के लिए अलग से कुछ व्यवस्था करे।
गोरे लाल- तामेश्वरनाथ निवासी

दो दिन से नहीं मिल रही बस
दो दिनों से बस पकड़ने के लिए आ रहा हूं लेकिन बस नहीं मिल रही है। कुंभ मेला और अनुबंधित बसों की हड़ताल की वजह से बसें नहीं आ रही हैं। काफी देर से इंतजार कर रहा हूं लेकिन बस नहीं मिल रही है।
राममूरत यादव, नाथनगर

स्पेशल बस की व्यवस्था होनी चाहिए
सुबह दस बसे से खड़ा हूं। इलाहाबाद जाना है। कोई बस खाली नहीं मिल रही है। खलीलाबाद से इलाहाबाद जाने के लिए स्पेशल व्यवस्था होनी चाहिए। कई साल बाद कुंभ का मेला लगा है। सरकार को इस दौरान कुछ अतिरिक्त बसों की व्यवस्था करनी चाहिए थी।
विनय कुमार चौरसिया, मैलानी निवासी

अतिरिक्त बसें लगवाएं
इलाहाबाद कुंभ मेला में जाना है लेकिन बस नहीं मिल रही है। प्राइवेट बसें भी नहीं चल रही हैं। मेंहदावल से कुंभ यात्रियों के लिए स्पेशल व्यवस्था है लेकिन खलीलाबाद में नहीं है। प्रशासन को यहां से जाने वाले यात्रियों के लिए कुछ अतिरिक्त बसे लगवानी चाहिए थी।
राजू मद्धेशिया, बघौली निवासी

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us