विज्ञापन

दो एसओ समेत 11 पुलिस कर्मचारी सम्मानित हुए

Sant kabir nagar Updated Mon, 28 Jan 2013 05:30 AM IST
विज्ञापन
ख़बर सुनें
संतकबीरनगर। साहसिक एवं उत्कृष्ट कार्य करने वाले पुलिस कर्मचारियों को एसपी ने गणतंत्र दिवस पर पुलिस लाइंस में सम्मानित किया। सम्मान पाने वालों में दो एसओ समेत 11 पुलिस कर्मचारी शामिल हैं। इसमें एसओ मेंहदावल को सर्वाधिक सम्मान पाने का गौरव मिला। इसके अलावा पुलिस लाइंस में तैनात कांस्टेबल देवनाथ को डीजीपी कार्यालय की तरफ से सराहनीय सेवा के लिए 12 नकद पुरस्कार एवं 28 उत्तम प्रवृष्टि प्रदान की गई।
विज्ञापन

23 नवंबर 2012 को अध्यापक कपिलदेव तिवारी को लूट कर भाग रहे बदमाशों को पकड़ने में एवं लूटे गए रुपये की बरामदगी में शामिल रहे एसओ मेंहदावल राकेश यादव और उनकी टीम के सिपाही कांस्टेबल उमाशंकर तिवारी, कांस्टेबल मुहम्मद आरिफ और कांस्टेबल गणेश दत्त मिश्रा को प्रशस्ति पत्र दिया गया। एसओ राकेश यादव ने चोरी के पांच पंपिंग सेट बरामद करते हुए तीन चोरों को पकड़ा था। बखिरा एसओ के पद पर तैनाती के दौरान राकेश यादव ने नंदौर निवासी मोहम्मद युनूस के घर नकबजनी कर 10 लाख रुपये की चोरी की घटना का अनावरण करते हुए चोरों को जेल भेजा था। इसमें कांस्टेबल गणेशदत्त मिश्रा व मुहम्मद आरिफ ने सहयोग किया था। मेंहदावल थाने की नौलखा चौकी पर तैनात कांस्टेबल मुचकुंद तिवारी की साहस की वजह से गत 28 अक्टूबर 2012 को सहजनवां क्षेत्र से बाइक लूटकर भाग रहे बदमाश मकसद में असफल रहे। मौके से लूट की बाइक बरामद हुई थी। इन्हें भी सम्मानित किया गया। 7 नवंबर 2012 को ट्रैफिक के कांस्टेबल कृष्णानंद पांडेय के साहस एवं दिलेरी के चलते मुखलिसपुर तिराहे के पास लहुरादेवा निवासी राम प्रसाद जायसवाल की बाइक की डिग्गी में रखा 1.50 लाख रुपये चुराने के लिए डिग्गी तोड़ते वक्त एक बदमाश पकड़ा गया था। शेष दो बदमाश भाग निकले थे। ट्रैफिक सिपाही को भी प्रशस्ति पत्र दिया गया। एसओ महुली पंकज सिंह व कांस्टेबल राजमंगल सिंंह को भी सम्मानित किया गया। इन लोगों के जरिए चोरी गई ट्रैक्टर व वाहन की बरामदगी की गई थी और अपराधी चंदन सिंह व पमपम पाठक को गिरफ्तार कर लूट की घटना का वर्कआउट किया गया था। कोतवाली में तैनात कांस्टेबल रामस्नेही व दीप नारायन को सम्मानित किया। 14 सितम्बर 2012 को बालू शासन के पास बखिरा क्षेत्र से लूट कर भाग रहे बदमाशों का पीछा कर ग्रामीणों के सहयोग से पकड़ा था। लूट की तीन बाइक बरामद हुई थी। कोतवाली के एसएसआई आरके राय को सर्वोत्तम विवेचक का पुरस्कार दिया गया। दुधारा क्षेत्र के तिलजा गांव निवासी जगदीश बरनवाल ने अपनी छह माह की अंधी बेटी की हत्या कर अपने विरोधियों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया था। एसएसआई ने निष्पक्ष विवेचना कर हत्या का पर्दाफाश किया था और निर्दोषों को जेल होने से बचाया था। एसपी रामपाल ने बताया कि अदम्य साहस का परिचय देकर उत्कृष्ट कार्य करने वाले इन पुलिस कर्मियों को प्रशस्ति पत्र एवं नकद पुरस्कार दिया गया।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us