तहसील दिवस फ्लॉप किया, पीएम का पुतला फूंका और हड़ताल जारी

Sant kabir nagar Updated Wed, 19 Dec 2012 05:30 AM IST
संतकबीरनगर। प्रमोशन में आरक्षण के मुद्दे पर नाराज कर्मचारियों में पांचवें दिन मंगलवार को उबाल आ गया। कर्मचारी पुराने विकास भवन के हॉल में आयोजित तहसील दिवस में पहुंचे और तहसील दिवस का बहिष्कार करते हुए विरोध प्रदर्शन करने लगे। प्रभारी डीएम ने कड़ा रुख अख्तियार करते हुए अवरोध न करने की चेतावनी दी। कर्मचारी हॉल से नीचे आए और गेट का शटर बंद कर नारेबाजी करने लगे। पुलिस ने शटर खुलवाया पर फरियादियों के न पहुंचने से तहसील दिवस में सिर्फ अधिकारीगण बैठे रहे। बाद में कर्मचारियों ने जुलूस निकाल कर बैंक चौराहे पर प्रधानमंत्री का पुतला फूंका।
ग्राम्य विकास मिनिस्ट्रियल एसोसिएशन के अध्यक्ष प्रवीन कुमार यादव एवं राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के अध्यक्ष शक्ति विकास उपाध्याय के नेतृत्व में मंगलवार को पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार कर्मचारी पूर्वाह्न 10 बजे पुराने विकास भवन पर पहुंच कर धरने पर बैठ गए। सभागार कक्ष में प्रभारी डीएम भोलानाथ मिश्र की अध्यक्षता में तहसील दिवस आयोजित किया गया था। आरक्षण के मुद्दे पर आंदोलित कर्मचारी अध्यक्ष प्रवीन यादव, विपिन सिंह की अगुवाई में तहसील दिवस के सभागार कक्ष में पहुंच गए और तहसील दिवस बंद कराने की कोशिश करने लगे। जिस पर प्रभारी डीएम भोलानाथ मिश्र ने कड़ा रुख अपनाया और कर्मचारियों को नीचे जाने की चेतावनी दी। डीएम के रुख से भड़के कर्मचारी नीचे तो उतर आए, लेकिन मुख्य गेट का शटर बंद कर दिए। जिससे फरियादी ऊपर नहीं जा पाए। बाद में सीओ आरके शर्मा और कोतवाल विजय शंकर यादव ने शटर खुलवाया। कर्मचारी गेट पर धरने पर बैठ गए और शासन-प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। स्थिति यह रही कि सिर्फ दो फरियादी ही तहसील दिवस में पहुंचे थे। तहसील दिवस के समापन के वक्त कर्मचारी एकजुट होकर नारेबाजी करते हुए जुलूस की शक्ल में बैक चौराहे पर पहुंचे और प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का पुतला फूंका। कर्मचारी नेताओं का कहना था कि अनुसूचित जाति और जनजाति को प्रमोशन में आरक्षण देने की केंद्र सरकार की नीति देश में गृहयुद्ध के हालात पैदा करने के संकेत हैं। केंद्र सरकार जब तक नीति में बदलाव नहीं लाती है, तब तक उनका आंदोलन जारी रहेगा। बता दें कि कर्मचारियों की हड़ताल से सरकारी कार्यालयों में कामकाज प्रभावित रहा। इस अवसर पर राघवेंद्र यादव, रामदेव गुप्त, सत्यदेव यादव, ऋषिकेश श्रीवास्तव, महंथ प्रसाद आदि दर्जनों कर्मचारी उपस्थित रहे।

तहसील दिवस सफल रहा : प्रभारी डीएम
प्रभारी डीएम भोलानाथ मिश्र ने कहा कि तहसील दिवस शासन की सर्वोच्च प्राथमिकताओं में शामिल है। तहसील दिवस को बंद कराने का कर्मचारियों का प्रयास गलत था। कर्मचारियों को शांतिपूर्वक नीचे जाने को कहा गया। जिससे तहसील दिवस में फरियादी अपनी समस्याएं रख सकें। निर्धारित समय तक तहसील दिवस चला और जो फरियादी आए, उनकी समस्याएं सुनी भी गईं। मेंहदावल और धनघटा तहसीलों में भी तहसील दिवस का आयोजन किया गया और पूरी तरह सफल रहा। कानून हाथ में लेने का अधिकार किसी को नहीं है।

बीएसए कार्यालय पर प्रदर्शन, कामकाज ठप
आरक्षण के मुद्दे पर बीएसए कार्यालय के कर्मचारियों ने मंगलवार को कामकाज ठप रखा। कार्यालय पर जोरदार प्रदर्शन किया और केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। कर्मचारियों का कहना था कि केंद्र सरकार को अपना फैसला बदलना होगा। इस दौरान डीसी डीपी चंद्र, रजनीश बैद्यनाथ, विद्यामणि मिश्रा, राकेश मणि, सुनील पांडेय, राजकुमार पांडेय सहित तमाम कर्मचारी उपस्थित रहे।

अधिवक्ताओं ने भी समर्थन दिया
प्रमोशन में आरक्षण के विरोध में सिविल बार एसोसिएशन ने न्यायिक कार्य के बहिष्कार का निर्णय लिया। बार के अध्यक्ष महीप बहादुर पाल ने संगठन के अधिवक्ताओं के साथ पुराने विकास भवन के पास आरक्षण के विरोध में आंदोलनरत कर्मचारियों को नैतिक समर्थन दिया। अध्यक्ष महीप बहादुर पाल ने कहा कि नौकरी पाने के बाद प्रमोशन में आरक्षण देने की केंद्र सरकार की नीति अनुचित है। जिसका अधिवक्ता समाज विरोध करता है। उन्होंने न्यायिक कार्य से विरत रहने का संगठन के माध्यम से प्रस्ताव जिला जज समेत सभी न्यायालयों में प्रेषित किया। वैसे न्यायालयों में हड़ताल का मिलाजुला असर देखने को मिला।

गैरहाजिर अधिकारियों पर कार्रवाई होगी
हैंसर। मंगलवार को आयोजित तहसील दिवस पर धनघटा तहसील पर कुल 36 मामले आए। जिसमें से 10 मामलों का तत्काल निस्तारण किया गया। इस दौरान पांच विभागों के अधिकारी नदारद रहे। जिस पर एसडीएम ने जिलाधिकारी को अनुपस्थित अधिकारियों पर कार्रवाई के लिए पत्र लिखा है। उप जिलाधिकारी विजय शंकर चौधरी की अध्यक्षता में आयोजित तहसील दिवस पर कुल 36 मामले आए। जिसमें 6 राजस्व समेत 4 अन्य मामलों को तत्काल निस्तारित कर दिया गया। तहसील दिवस पर विद्युत, ग्रामीण अभियंत्रण सेवा, थानाध्यक्ष महुली, आपूर्ति व चकबंदी विभाग के अधिकारी नदारत रहे। एसडीएम विजय शंकर चौधरी ने बताया कि तहसील दिवस से गैरहाजिर रहने वाले अधिकारियों के ऊपर कार्रवाई के लिए जिलाधिकारी को पत्र लिखा गया है। इस अवसर पर तहसीलदार विनय गुप्त, बीडीओ सुरेश, राम आशीष चौधरी सहित अन्य लोग मौजूद रहे।

आरक्षण पर जताई खुशी
हैंसर। सफाई कर्मचारी संघ के ब्लाक अध्यक्ष रामभजन की अध्यक्षता में सफाईकर्मियों की बैठक आयोजित हुई। जिसमें सरकारी नौकरियों के प्रमोशन में आरक्षण संबंधी प्रावधान वाले विधेयक पर खुशी इजहार किया गया। इस अवसर पर महेश राम, रामकरन, हरिराम, रामगोपाल आदि लोग मौजूद रहे।

आरक्षण राष्ट्रविरोधी : संतोष
संतकबीरनगर। सपा के वरिष्ठ नेता संतोष यादव उर्फ सन्नी यादव ने कहा कि प्रमोशन में आरक्षण समाज एवं राष्ट्रविरोधी है। इससे समाज में विघटन पैदा होगा। जो देश हित में नहीं है। समाजवादी पार्टी समाज विरोधी आरक्षण बिल किसी भी कीमत पर संसद में पास नहीं होने देगी। उन्होंने कहा कि बिल का समर्थन करने वाले लोग वोट की राजनीति के आकंठ में डूबे हुए हैं। आगामी लोकसभा चुनाव में ऐसे दलों व सांसदों को सबक सिखाने का काम समाजवादी पार्टी व सामान्य, पिछड़ा वर्ग करेगी।

आरक्षण बिल के समर्थन पर आभार जताया
संतकबीरनगर। आरक्षण बचाओ संघर्ष समिति के सदस्यों ने मंगलवार को जिला मुख्यालय पर बैठक की। बैठक में समिति के सदस्याें ने देश के दलित समाज के लोगाें के लिए आरक्षण बिल का समर्थन किया। समर्थन देने वाले राजनीतिक दलों के प्रति आभार जताया गया। इस अवसर पर जिला संयोजक हीरालाल भारती, जिलाध्यक्ष राममिलन कन्नौजिया, कन्हैैया लाल, केसरी लाल, रामकेश, जितेंद्र कुमार, मधुसूदन, रामगोपाल, विनोद कुमार समेत दर्जनाें लोग मौजूद रहे।
इसी क्रम में डॉक्टर भीमराव अंबेडकर समाज सेवा समिति के सदस्यों ने रविदास मंदिर भाटपार, चुरेब बाजार में मंगलवार को बैठक कर प्रमोशन में आरक्षण विधेयक का समर्थन करते हुए राज्यसभा से बिल पास कराने में प्रमुख भूमिका निभाने वाली मायावती के प्रयास की सराहना की। बैठक में
समिति के अध्यक्ष खेदन प्रसाद, श्रीराम दीपक, रामदर्श, सुभाष चंद, वीरेंद नाथ, पूर्णमासी समेत अन्य लोग मौजूद रहे।

Spotlight

Most Read

Mahoba

मंडल में जीएसटी की कम वसूली देख अधिकारियों के कसे पेंच

कर चोरी पर अब होगी सख्त कार्रवाई-

19 जनवरी 2018

Related Videos

नए साल पर सीएम आदित्यनाथ ने वनटांगिया समुदाय को दिया ये तोहफा

नए साल पर यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने महराजगंज जनपद के पनियरा ब्लाक में वनटांगिया समुदाय को सौगात दी। सीएम योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को वनटांगिया समुदाय के 3779 लोगों को आवासीय भूमि का पट्टा प्रदान किया।

2 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper