बलात्कारी को दस साल कैद की सजा

Saharanpur Updated Sat, 22 Dec 2012 05:30 AM IST
देवबंद। छात्रा से बलात्कार के मामले में अपर सत्र न्यायाधीश ने एक व्यक्ति को दस वर्ष के सश्रम कारावास और 75 हजार रुपये के अर्थदंड की सजा सुनाई है। धनराशि में से 25 हजार रुपये पीड़िता को दिए जाने का आदेश भी दिया गया है।
सहायक जिला शासकीय अधिवक्ता फरीद अहमद सिद्दीकी ने बताया कि थाना नकुड़ के गांव बड़ी छाप्पुर निवासी साहब सिंह का बिलासपुर गांव निवासी एक व्यक्ति के घर पर आना-जाना था। घटना 4 जुलाई 2011 की सुबह 8 बजे की है। वादी की पुत्री को अभियुक्त साहब सिंह अपनी कार में बैठाकर स्कूल छोड़ने के लिए गया था। छुट्टी होने के काफी देर बाद जब छात्रा घर नहीं लौटी तो उसकी तलाश की गई। लेकिन उसका कोई पता नहीं चला। जिसकी रिपोर्ट 5 जुलाई को खेड़ामुगल चौकी में दर्ज कराई गई। पुलिस ने अभियुक्त साहब सिंह के विरुद्ध धारा 363 एवं 366 में मुकदमा दर्ज किया। 16 जुलाई को न्यायिक मजिस्ट्रेट के यहां छात्रा के बयान दर्ज हुए। जिसके आधार पर इस प्रकरण में धारा 376 बढ़ा दी गई। शुक्रवार को अपर सत्र न्यायाधीश शम्भू शरण गुप्ता ने अभियुक्त और अभियोजन पक्ष के अधिवक्ताओं की दलीलों को सुना। जिसके बाद साहब सिंह को धारा 366 के आरोप हेतु 10 वर्ष की कारावास व 25 हजार रुपये अर्थदंड, धारा 376 में 10 वर्ष के सश्रम कारावास और 50,000 रुपये अर्थदंड की सजा सुनाई गई। अर्थदंड अदा न करने की सूरत में अतिरिक्त कारावास भी भुगतना होगा।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: ‘पद्मावत’ पर बैन को लेकर सुप्रीम कोर्ट की सख्ती का असर दिख रहा है!

सुप्रीम कोर्ट की सख्ती के बावजूद ‘पद्मावत’ पर हो- हल्ला हो रहा है। ऐसे ही विरोध की तस्वीरें दिखाई दी हैं उत्तर प्रदेश के आगरा,सहारनपुर और हापुड़ में जहां पद्मावत का जबरदस्त विरोध हुआ।

23 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls