सहारनपुर के खिलाड़ियों का चीन में जलवा

Saharanpur Updated Thu, 04 Oct 2012 12:00 PM IST
सहारनपुर। सहारनपुर की जूडोकाओं विजय कुमार यादव और प्रीति ने चीन में अपनी प्रतिभा का जलवा दिखाकर तिरंगे की शान बढ़ाई। ताइपे में आयोजित हुई एशियन यूथ एंड जूनियर चैंपियनशिप में विजय ने रजत और प्रीति ने कांस्य पदक जीता। दोनों ने देश के साथ सहारनपुर का भी नाम ऊंचा किया। चैंपियनशिप में भारत को पांच पदक मिले हैं। इनमें से दो पदक सहारनपुर के जूडोकाओं ने हासिल किए।
ताइपे में 28 सितंबर से 2 अक्तूबर तक चली एशियन यूथ एंड जूनियर चैंपियनशिप में सहारनपुर की जूडोका प्रीति ने 40 किलोग्राम और जूडो हास्टल के छात्र विजय कुमार यादव ने 60 किलो वर्ग में प्रतिभाग किया। चैंपियनशिप में भारत ने दो रजत समेत पांच पदक जीते । जिनमें से एक रजत विजय यादव और कांस्य प्रीति ने जीतकर सहारनपुर का नाम चमकाया। विजय इससे पहले जूनियर नेशनल में गोल्ड और एशियन जूनियर एवं यूथ जूडो चैंपियनशिप बैंकाक में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व कर चुका है। प्रीति ने जूनियर राष्ट्रीय चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीतकर टीम में अपना चयन कराया। सहारनपुर के खिलाड़ियों की इस उपलब्धि पर विजय के प्रशिक्षक काशी नरेश और प्रीति के प्रशिक्षक दीपक गुप्ता ने खुशी व्यक्त की। जिला खेल अधिकारी संतोष रावत ने भी दोनों खिलाड़ियों को शुभकामनाएं दीं।
पांच दिन फल और जूस से गुजारे
सहारनपुर। जूनियर एशियन में कांस्य पदक विजेता प्रीति का कहना है कि भारत और चीन में जूडो खेल में काफी अंतर है। वहां के खिलाड़ी दिखने में बड़े शांत लगते हैं, लेकिन जब वह मैदान में उतरते हैं तो उनकी चुस्ती और फुर्ती हैरान कर देती है। प्रीति को इस बात से निराशा थी कि चीन में सब कुछ नॉनवेज मिलता है। यहीं वजह रही कि चैंपियनशिप के पांच दिन ड्राई फ्रूट, फल और जूस आदि से ही ब्रेकफास्ट, लंच और डिनर किया। प्रशिक्षक दीपक गुप्ता ने बताया कि भारत से रवाना होते समय खिलाड़ियों को ड्राई फ्रूट की टोकरी दी जाती है ताकि नॉनवेज न खाने की स्थिति में भूखे न रहना पड़े।
प्रीति का भव्य स्वागत
सहारनपुर। बुधवार को अंबेडकर स्टेडियम पहुंचने पर कांस्य पदक विजेता प्रीति का भव्य स्वागत हुआ। जिला खेल अधिकारी संतोष रावत, सहारनपुर जिला जूडो एसोसिएशन के संस्थापक सचिव एवं अंतर्राष्ट्रीय रेफरी दीपक गुप्ता ने प्रीति को बुके और एसोसिएशन के संरक्षक एसी गुप्ता ने नकद इनाम दिया। स्वागत करने वालों में पंकज बंसल, तेग सिंह पुंडीर, पंकज मल्होत्रा, प्रदीप त्यागी, सुषमा, नमनदीप, श्वेतांक चौहान, अगन दीप वर्मा, फुरकान अहमद, खलीफा आदि रहे। पदक लेकर लौटी बेटी प्रीति को पिता छदामी लाल और माता भूदेवी भी उसकी इस उपलब्धि से बेहद खुश हैं।

Spotlight

Most Read

Jammu

पाकिस्तान ने बॉर्डर से सटी सारी चौकियों को बनाया निशाना, 2 नागरिकों की मौत

बॉर्डर पर पाकिस्तान ने एक बार फिर से नापाक हरकत की है। जम्मू-कश्मीर में आरएस पुरा सेक्टर में पाकिस्तान की ओर से सीजफायर का उल्लंघन किया है।

19 जनवरी 2018

Related Videos

ये है यूपी का चलता-फिरता सुपर कंम्प्यूटर

सहारनपुर के चिराग का दिमाग कंप्यूटर से भी तेज है। आठवीं कक्षा में पढ़ने वाले चिराग को 20 करोड़ तक के पहाड़े मुंहजुबानी याद हैं। गणित में कंप्यूटर से भी तेज दिमाग रखने वाले चिराग बड़े होकर वैज्ञानिक बनना चाहते हैं।

18 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper