विज्ञापन

132 गांवों पर मंडराएगा बाढ़ का खतरा

Saharanpur Updated Sun, 01 Jul 2012 12:00 PM IST
ख़बर सुनें
सहारनपुर। पिछले कई दशकों से बाढ़ की विभीषिका का दंश झेलते आ रहे यमुना, हिंडन नदी और अन्य बरसाती नदियों के किनारे बसे 132 गांवों पर एक बार फिर बाढ़ का खतरा मंडराने लगा है। हालात ऐसे हैं कि गत वर्ष क्षतिग्रस्त हो चुके तटबंधों और बांध तक की मरम्मत नहीं की जा सकी है। प्रशासन ने बाढ़ से निपटने की कार्ययोजना तो तैयार कर ली है लेकिन क्रियान्वयन के लिए बजट ही नहीं है। ऐसे हालात में 132 गांवों के हजारों लोगों की सुरक्षा सिर्फ रामभरोसे ही है।
विज्ञापन
विज्ञापन
जिले के इन 132 गांवों के साथ दो दुर्भाग्य जुड़े हैं। पहला यह कि गर्मी में यहां के बाशिंदों को पेयजल के लिए तरसना पड़ता है। कई कई किलोमीटर पानी की तलाश में भटकना पड़ता है। जबकि बरसात स्थिति बिल्कुल विपरीत हो जाती है। बरसाती नदियों में आई बाढ़ से भारी विभीषिका झेलनी पड़ती है। दूसरा दुर्भाग्य यह है कि प्रशासन के पास कार्ययोजना तो है, लेकिन इसके क्रियान्वयन के लिए हर साल बजट का लंबा इंतजार करना पड़ता है। गत वर्ष भी प्रशासन ने बाढ़ राहत के लिए सरकार से 54 करोड़ 77 लाख 70 हजार रुपये की मांग की थी, जबकि मिला केवल 27 करोड़, 59 लाख 94 हजार ही। इसे सिंचाई निर्माण खंड एवं अपर खंड पूर्वी यमुना नहर को आवंटित कर दिया गया था, जिसमें तटबंध बनाना, चौकियां और कंट्रोल रूम स्थापित करना जैसे कार्य किये गये। लेकिन इस बार बजट को लेकर कोई कदम नहीं उठाया गया है। हालांकि प्रशासन ने बाढ़ से निपटने के लिए कार्ययोजना तैयार कर ली है। बस बजट का ही इंतजार है।

बजट बिना ही होगा बाढ़ प्रबंधन
सहारनपुर। बाढ़ से निपटने के लिए प्रशासन पूरी तरह तैयार है। यह कहना है एडीएमएफ आरएस धुवन का। कहते हैं कि राजस्व, स्वास्थ्य, पशुधन, सिंचाई विभाग की प्रभावित क्षेत्रों और नदियों के तटबंधों पर 25 चौकियां स्थापित कर दी गई हैं। बाढ़ से निपटने को शासन के निर्देश पर रणनीति तैयारी की जा चुकी है। साथ शासन से बजट की मांग की गई है। जागरूकता कार्यक्रम भी चलाए जा रहे है। आपदा राहत निधि तो प्रशासन के पास मौजूद ही है।

इन गांवों पर मंडराएगा खतरा
नकुड़ तहसील (यमुना नदी) : कुतुबपुर, लाहोरा, अपलाना, समसपुर कलां, वाजिदपुर, रायपुर, भटपुरा, तालाबपुर, खिजरपुरा, सुनारपुरा, कांजीबांस, ढिक्का कला, नवादा, टबरा, सरसावा, भगवानपुर, लखनौती, सराजपुर, जदीद, बिशनगढ़, शेरगढ़, टाप्पू, सरापुर सैयद, सिकंदरपुर, गौसगढ़, शकरपुर, मुंडाजानपुर, माजरी, आलमपुर, बुड्ढाखेड़ा,, खालिदपुर, कुंडाकला, शाहपुर, उमरपुर, मानपुर, अलीपुर हमीरपुर, ढुलावली, चाऊ सहसपुर, फतेहपुर जट्ट, नसरूल्लागढ़, शुक्रताल, लधेबांस, टाबर, साहबा मजरा, नारायणपुर, डाला माजरा, सनौली, रसूलपुर बल्लामाजरा, नागल राजपूत, तातारपुर, हलवाना, नाई माजरा, रानीखेड़ी, अलीपुरा, सराजपुर, कल्लरहेड़ी, हुसैनपुर, नाईमजरा।
बेहट तहसील (यमुना, बरसाती नदी) : बरथा कोरसी, असलमपुर, बरथा, ननियारी, जैनपुर, धौलरा, कसबागढ़, हबीबरपुर, मोहम्मदपुर झाझरा, हैदरपुर, बड़कलां, अलीपुरा, बेगपुर चक, अबाबाकरपुर, कोठड़ी भागमल, कोठड़ी चौहानो वाली, कालूवाला, जहानपुर, सतपुरा, खैरी महती। सहारनपुर तहसील (हिंडन एवं यमुना नदी): जजनैर, बुड्ढ़ाखेड़ा, जटपुरा, हरौड़ा, गागलहेड़ी, उग्राहू, रसूलपुर, पापडे़की, घोघरेकी, अधरेड़ी, मूसापुर, खजूरी, अकबरपुर, बेहड़की, दुमझेड़ा, बैंगनी, चौरी, सादुल्लापुर, खुर्द, हैदरपुर, भिक्खनपुर, झरौली, मंडी, शाहपुर, दरियापुर पिपली, जानिस नगर, मुर्तजानगर, घाघौड़, हुसैनपुर, नौरंगपुर, दरिया बरामद, ग्यासुद्दीनपुर, सौंधेबांस, किड्डेवाला, आल्हनपुर, दभेड़ा, मलका, शाहपुर, दाउद, मकसूदपुर, मझार, पठेड़, पंचकुआ, भूखड़ी, टोडरपुर। देवबंद तहसील (हिंडन नदी): तासीपुर, नैनसोभ, शीतला खेड़ा, सोहनचिड़ा, महेशपुर, सब्बीर, शिमलाना, चिराऊ ।

Recommended

सर्दी में ज्यादा खाएं देसी घी, जानें क्यों कहते हैं इसे ब्रेन फूड और क्या-क्या हैं इसके फायदे
ADVERTORIAL

सर्दी में ज्यादा खाएं देसी घी, जानें क्यों कहते हैं इसे ब्रेन फूड और क्या-क्या हैं इसके फायदे

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Saharanpur

श्रीलंका की प्रियदर्शनी को भाया सहारनपुर का मिथुन

श्रीलंका की प्रियदर्शनी को भाया सहारनपुर का मिथुन

17 जनवरी 2019

विज्ञापन

कोहरे के चलते आपस में भिड़े ट्रक और बस,बस के उड़े परखच्चे

कोहरे के कारण सहारनपुर में दिल्ली देहरादून हाईवे पर एक बड़े हादसे की खबर सामने आई है। जहां पर एक रोड़वेड बस के साथ गैस सिलेंडर से भरे ट्रक की जोरदार टक्कर हो गई।

12 जनवरी 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree