लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Rampur News ›   Accused of not removing transformer even after taking convenience fee, complaint made to higher officials of Electricity Corporation

सुविधा शुल्क लेकर भी ट्रांसफार्मर न हटाने का आरोप, विद्युत निगम के उच्च अधिकारियां से की गई शिकायत

Moradabad  Bureau मुरादाबाद ब्यूरो
Updated Mon, 16 May 2022 10:39 PM IST
Accused of not removing transformer even after taking convenience fee, complaint made to higher officials of Electricity Corporation
विज्ञापन
सुविधा शुल्क लेकर भी ट्रांसफार्मर न हटाने का आरोप, विद्युत निगम के उच्च अधिकारियां से की गई शिकायत

- टांडा क्षेत्र का मामला, अपना दल एस के महासचिव ने की शिकायत
रामपुर। टांडा एसडीओ पर ट्रांसफार्मर हटवाने के एवज में सुविधा शुल्क लेने के बावजूद ट्रांसफार्मर न हटवाने और रुपये भी वापस न करने का आरोप लगाते हुए शिकायत की गई है। मामले में अपना दल एस के महासचिव ने विद्युत निगम के उच्च अधिकारियों से शिकायत की है। वहीं पीड़ित का कहना है कि उन्होंने समाधान दिवस में भी इसकी शिकायत की है।
टांडा निवासी मोहम्मद उस्मान उर्फ हाजी मिक्की का आरोप है कि क्षेत्र में उन्होंने एक दुकान बनवाई है। उसके आगे विद्युत निगम का एक ट्रांसफार्मर लगा हुआ है। ये ट्रांसफार्मर सेंढूवाला गांव के लिए है। मोहम्मद उस्मान का आरोप है कि इस ट्रांसफार्मर को नियमानुसार एस्टीमेट बनवाकर हटवाने के लिए उन्होंने एसडीओ टांडा से संपर्क किया था। जिस पर उनसे एक लाख रुपये की मांग की गई, जो कि उन्होंने दे भी दिए। इसके बावजूद करीब सात-आठ माह बीतने के बाद भी ट्रांसफार्मर नहीं हटाया गया है। इस संबंध में उन्होंने करीब तीन-चार माह पहले समाधान दिवस में भी शिकायत की, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। उनका कहना है कि अगर ट्रांसफार्मर न हटाया जाए तो उनकी रकम वापस दिलाई जाए।

इस मामले में अपना दल एस के महासचिव मोहम्मद वकील एडवोकेट ने भी अब शिकायत की है। उनका कहना है कि उन्होंने मामले में ऊर्जा मंत्री और मुख्यमंत्री से ऑनलाइन माध्यम से शिकायत की है। इसके साथ ही विद्युत निगम के मुख्य अभियंता, अधीक्षण अभियंता और अधिशासी अभियंता से भी शिकायत की है।
- मुझ पर लगाए गए सभी आरोप गलत हैं। शिकायतकर्ता के द्वारा नियम विरुद्ध तरीके से करीब 10-12 साल पुराने एक सौ केवीए के ट्रांसफार्मर को हटवाने के लिए दवाब बनाया जा रहा था। नियम विरुद्ध कार्य न करने पर धमकाया गया और झूठा वीडिया बनाकर वायरल किया गया। ट्रांसफार्मर शिफ्टिंग के लिए जिस स्थान पर ट्रांसफार्मर लगाया जाएगा, उस स्थान के लिए भी एनओसी लेनी होती है, अगर एनओसी मिल जाएगी तो ट्रांसफार्मर हटा दिया जाएगा।
-राजदीप सिंह, एसडीओ टांडा।
- हमारे पास अभी कोई लिखित शिकायत नहीं आई है, लेकिन एक वीडियो वायरल हो रहा है। इसकी जानकारी मिली है। इसकी जांच की जा रही है। जांच रिपोर्ट अधीक्षण अभियंता को भेजी जाएगी। एसडीओ स्तर के अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई का अधिकार मुख्य अभियंता को है। जांच कर अधीक्षण अभियंता के माध्यम से रिपोर्ट मुख्य अभियंता को भेजी जाएगी।
- इमरान अली, अधिशासी अभियंता, विद्युत वितरण खंड द्वितीय।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00