ब्रूसेल्स प्रदर्शनी में नहीं जाएगी दुर्लभ पेंटिंग्स

Rampur Updated Wed, 22 Jan 2014 05:51 AM IST
रामपुर। रजा लाइब्रेरी में संरक्षित पेंटिंग्स की मूल प्रति ब्रूसेल्स में आयोजित प्रदर्शनी में नहीं भेजी जाएगी। प्रदर्शनी में पेंटिंग्स की फोटो कापी भेजी जा सकती है। इस मुद्दे पर सोमवार को रजा लाइब्रेरी बोर्ड की लखनऊ में राज्यपाल की अध्यक्षता में आयोजित मीटिंग में फैसला लिया गया। मीटिंग में दीवान ए हाफिज का प्रकाशन इंडियन काउंसिल आफ कल्चरल रिलेशंस (आईसीसीआर) द्वारा किए जाने को स्वीकृति दे दी गई।
रजा लाइब्रेरी बोर्ड की मीटिंग सोमवार को लखनऊ में राजभवन में राज्यपाल बीएल जोशी की अध्यक्षता में हुई। मीटिंग के एजेंडे में ब्रूसेल्स में आयोजित प्रदर्शनी में रजा लाइब्रेरी की पेंटिंग्स को प्रदर्शित किए जाने का मुद्दा शामिल था। लाइब्रेरी बोर्ड के विशेष आमंत्रित सदस्य नवाब काजिम अली खां उर्फ नवेद मियां ने इस पर आपत्ति जताई। उन्होंने कहा कि प्रदर्शनी में पेंटिंग्स की मूल प्रतियों को भेजे जाने से उनको नुकसान पहुंच सकता है। लाइब्रेरी की बोर्ड मीटिंग में रजा लाइब्रेरी व ईरान की नेशनल लाइब्रेरी के साथ एमओयू पर दस्तखत करने की अनुमति दे दी गई। लाइब्रेरी सुरक्षा की जिम्मेदारी सीआरपीएफ को सौंपे जाने का मुद्दा भी उठा। बैठक में नवेद मियां ने किला के गेटों की सुरक्षा सीआईएसएफ को सौंपे जाने का मुद्दा उठाया। नवेद मियां ने कहा कि रामपुर नगर पालिका की ओर से 26 अप्रैल 2008 को किले के दोनों गेेटों के रखरखाव की जिम्मेदारी रजा लाइब्रेरी को सौंप दी थी। लाइब्रेरी की ओर से इस दिशा में कोई कदम नहीं उठाया गया है। मीटिंग में रजा लाइब्रेरी में होने वाली नियुक्तियों संबंधी रूल्स को स्वीकृति दी गई। मीटिंग में रामपुर के जिलाधिकारी के मौजूद न होने का मुद्दा भी नवेद मियां ने उठाया। बोर्ड के अध्यक्ष ने कहा कि अगली मीटिंग में जिलाधिकारी जरूर भाग लें। मीटिंग में लाइब्रेरी के डायरेक्टर प्रोफेसर एसएम अजीजुद्दीन हुसैन, डा. खालिद अनवर, जगदीश पीयूष, नवेद मियां व प्रोफेसर एसआईआर जैदी मौजूद रहे। मीटिंग में बोर्ड के तीन सदस्य नवाब मोहम्मद अली खां उर्फ मुराद मियां, संस्कृति मंत्रालय के डायरेक्टर लाइब्रेरी व रामपुर के जिलाधिकारी गैरहाजिर रहे।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

रामपुर में मोटरसाईकिल के लिए पत्नी को दिया तीन तलाक

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद सरकार ने तीन तलाक पर कानून बनाने का फैसला तो जरूर कर लिया लेकिन इसका असर दिखाई नहीं दे रहा है।

19 जनवरी 2018