21 सौ पन्ने में दर्ज है हमले की दास्तां

Rampur Updated Tue, 06 Nov 2012 12:00 PM IST
रामपुर। सीआरपीएफ हमले की पूरी दास्तां एटीएस ने एक दो पेज में नहीं बल्कि 21 सौ पेज में लिखी दर्ज की है। इसमें दो चार्जशीट फाइल की जा चुकी है। एटीएस ने कड़ी मेहनत के बाद तीन सौ गवाहों की फौज तैयार की है। यह बात अलग है कि पांच साल में सिर्फ छह की ही गवाही हुई है।
सीआरपीएफ ग्रुप सेंटर 31 दिसंबर 2007 की रात में हुए हमले के बाद देश भर में हड़कंप मच गया था। इस हमले के बाद केंद्र और यूपी सरकार एक्टिव हो गई थी। तत्कालीन केंद्रीय गृह मंत्री शिवराज पाटिल व गृह राज्यमंत्री श्रीप्रकाश जायसवाल ने इस मामले की गंभीरता को देखते हुए इस पूरे प्रकरण की जांच एटीएस को सौंप दिया था। एटीएस की टीम ने चालीस दिन बाद आरोपियों को पकड़ा को गिरफ्तार किया। अब तक इस मामले में दो चार्जशीट दायर हो चुकी है।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

रामपुर में मोटरसाईकिल के लिए पत्नी को दिया तीन तलाक

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद सरकार ने तीन तलाक पर कानून बनाने का फैसला तो जरूर कर लिया लेकिन इसका असर दिखाई नहीं दे रहा है।

19 जनवरी 2018