अब तक 6064 ने पेश किया वोटर बनने का दावा

Rampur Updated Sun, 21 Oct 2012 12:00 PM IST
रामपुर। बीस दिन में जिले भर में सिर्फ 6064 लोगों ने ही वोटर बनने का दावा पेश किया है। वोटर बनाने के इस अभियान को लेकर काफी सुस्ती बरती जा रही है।
भारत निर्वाचन आयोग ने लोकसभा चुनाव के लिए एक अक्तूबर से 31 अक्तूबर तक अभियान चलाकर एक जनवरी 2013 को 18 साल की उम्र पूरी करने वाले युवाओं के वोट बनाने के निर्देश दिए हैं,लेकिन इस अभियान को लेकर शुरू से ही प्रशासनिक मशीनरी लापरवाही बरत रही है। हालत यह हैकि बीस दिन बीत गए और इस अभियान के सिर्फ दस दिन ही शेष रह गए हैं,लेकिन अभी तक सिर्फ 6064 लोग ही वोटर बनाने के लिए दावा पेश कर सके हैं। इतनी कम संख्या दावे आने की वजह बीएलओ की सुस्ती ही बताई जा रही है। धीमी प्रगति को लेकर आयोग से लेकर प्रशासन तक नाराज है। प्रशासनिक अमले ने बीएलओ पर खूब शिकंजा भी कसा,लेकिन उनकी सुस्ती कम होती नहीं दिख रही है। यही वजह हैकि यह अभियान बीएलओ की लापरवाही और अफसरों की सुस्ती की भेंट चढ़ गया है।

बीस दिन के अभियान में अब तक जताई दावेदारी
वोटर लिस्ट में नाम शामिल करने के दावे-6064
लिस्ट से नाम हटवाने वालों की संख्या-864
लिस्ट में नाम संशोधित कराने वालों की संख्या-1446


आज फिर चलेगा वोटर को जोड़ने का विशेष अभियान
रामपुर। रविवार को एक बार फिर वोटर बनाने का विशेष अभियान चलाया जाएगा। इस दफा इस अभियान को सफल बनाने के लिए प्रशासन ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। डीएम अनिल ढींगरा ने अफसरों को कसते हुए साफ कर दिया है कि अभियान में लापरवाही अब बर्दाश्त नहीं होगी।
भारत निर्वाचन आयोग के आदेश पर 31 अक्तूबर तक वोटर बनाने का अभियान चलाया जा रहा है,लेकिन हर रविवार को आयोग के आदेश पर विशेष अभियान चलाया जा रहा है। इसी के तहत कल रविवार को तीसरा विशेष अभियान चलेगा। अभियान की सफलता के लिए जिलाधिकारी अनिल ढींगरा ने शनिवार की शाम को चुुनाव से जुड़े अफसरों को सख्त निर्देश जारी किए। साफ किया अभियान में जो भी सुस्ती बरतेगा उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने सभी एसडीएम-तहसीलदार समेत अन्य अफसरों को विशेष अभियान केदौरान बूथों पर छापे मारने के निर्देश दिए हैं। कहा कि जो बीएलओ बूथों पर न मिले उनके खिलाफ इस बार सख्त कार्रवाई की जाए। इस मौके पर उपजिला निर्वाचन अधिकारी सैयद निजामुद्दीन, एसडीएम सदर बृजेश कुमार समेत अन्य अफसर मौजूद रहे।

वीडियोकांफ्रेसिंग के जरिए कसे अफसरों केपेंच
रामपुर। भारत निर्वाचन आयोग के प्रधान सचिव एवं प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने वीडियोकांफ्रेसिंग के जरिए विशेष अभियान की समीक्षा की। मुख्य निर्वाचन अधिकारी उमेश सिन्हा ने वीडियोकांफ्रेसिंग के जरिए अफसरों को हिदायत दी कि अभियान तेजी से चलाया जाए इसमें किसी भी तरह की कोई लापरवाही नहीं बरती जाए। कहा कि यह अभियान बेहद जरूरी है इसलिए इसमें गंभीरता दिखाई जाए। उन्होंने अब तक की प्रगति पर नाराजगी जाहिर की साथ ही इसमें तेजी लाने के निर्देश दिए।

Spotlight

Most Read

National

तीन करोड़ वाले टेबल के चक्कर में फंसा AIIMS, प्रधानमंत्री मोदी से शिकायत

आरोप है कि निविदा में दी गई शर्तों को केवल यूके की कंपनी ही पूरा कर सकती है। इस कंपनी ने टेबल की कीमत तीन करोड़ रुपये तय की है।

23 जनवरी 2018

Related Videos

रामपुर में मोटरसाईकिल के लिए पत्नी को दिया तीन तलाक

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद सरकार ने तीन तलाक पर कानून बनाने का फैसला तो जरूर कर लिया लेकिन इसका असर दिखाई नहीं दे रहा है।

19 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper