ठंडी नहीं पड़ रही गुस्से की आग

Raebareli Updated Sat, 22 Dec 2012 05:30 AM IST
रायबरेली। पत्रकारों पर हुए लाठीचार्ज से भड़की गुस्से की आग ठंडी पड़ती नजर नहीं आ रही है। शुक्रवार को पत्रकारों ने न सिर्फ शहीद चौक पर धरना दिया, बल्कि जुलूस निकालकर एसपी, कोतवाल के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। इसमें स्वास्थ्य कर्मी भी शामिल हुए। कई संगठनों ने घटना की निंदा करते हुए समर्थन दिया है। गौरतलब है कि बुधवार को एक पत्रकार के भतीजे को पकड़कर पुलिस ने पिटाई कर दी थी। कवरेज करने पहुंचे पत्रकारों से पुलिस ने अभद्रता की थी। इस पर पत्रकारों ने जाम लगाया था, जिस पर पुलिस ने जमकर लाठियां भांजी थी। इसमें कई पत्रकार घायल हुए थे। लाठीचार्ज की घटना की हर तरफ से निंदा हो रही है। वहीं पत्रकार धरना-प्रदर्शन कर रहे हैं। शुक्रवार को पत्रकारों ने डिग्री कॉलेज स्थित शहीद चौक पर धरना दिया। इसमें स्वास्थ्य कर्मियों ने भी भाग लिया। इसके बाद पुलिस कार्यालय तक जुलूस निकालकर एसपी, कोतवाल के खिलाफ नारेबाजी की। उत्तर प्रदेश व्यापार प्रतिनिधिमंडल के बसंत सिंह बग्गा, मनोज गुप्ता, अतुल श्रीवास्तव आदि ने कहा कि हम सब पत्रकारों के साथ है। इसके खिलाफ सड़क पर उतरेंगे। राष्ट्रीय लोकदल के जिलाध्यक्ष जितेंद्र सिंह ने कहा कि इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। लोकदल उत्तर प्रदेश की बैठक में लाठीचार्ज की घटना की निंदा की गई। जिलाध्यक्ष अरविंद कुमार जायसवाल, अमृतलाल सविता ने कहा कि पुलिस का मनवाया रवैया ठीक नहीं है। पत्रकारों का उत्पीड़न बर्दाश्त नहीं होगा।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

जब रात में CM योगी के आवास के बाहर किसानों ने फेंके आलू

लखनऊ में आलू किसानों को जबरदस्त प्रदर्शन देखने को मिला। अपना विरोध जताते हुए किसानों ने लाखों टन आलू मुख्यमंत्री आवास, विधानसभा और राजभवन के बाहर फेंक दिया। देखिए आखिर क्यों भड़क उठा आलू किसानों का गुस्सा।

6 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls