13 नामजद, 300 अज्ञात पर मुकदमा

Raebareli Updated Thu, 23 Aug 2012 12:00 PM IST
हरचंदपुर (रायबरेली)। बिजली उपकेंद्र का घेराव करने और लखनऊ-इलाहाबाद राजमार्ग जाम करने के मामले में पुलिस ने 13 को नामजद करते हुए 300 अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस के रिपोर्ट दर्ज करने से व्यापारियों और किसानों का गुस्सा फिर भड़क सकता है। पुलिस का कहना है कि जल्द ही नामजदों की गिरफ्तारी की जाएगी।
हरचंदपुर क्षेत्र के व्यापारियों और किसानों ने बिजली कटौती से परेशान होकर मंगलवार को न सिर्फ बिजली उपकेंद्र का घेराव किया था, बल्कि लखनऊ-इलाहाबाद राष्ट्रीय राजमार्ग जाम करके विरोध जताया था। इस दौरान व्यापारियों ने अपनी दुकानें बंद कर रखी थीं। एसडीएम सदर चित्रलेखा सिंह के समझाने-बुझाने के कई घंटे बाद हाइवे पर जाम खोला गया था। किसानों की मांग थी कि बिजली आपूर्ति सुचारु रूप से बहाल की जाए। बुधवार को बिजली उपकेंद्र का घेराव करने और हाइवे जाम करने वालों पर पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर ली है। हरचंदपुर थानेदार रामराघव सिंह की तहरीर पर सुधीर सिंह, प्रशांत सिंह, मनीष सिंह, योगेश घिल्डियाल, जयकांत सिंह समेत 13 लोग नामजद किए गए हैं। जबकि 300 अज्ञात के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत किया गया है। रिपोर्ट दर्ज किए जाने से क्षेत्र में हड़कंप मच गया है। व्यापारियों और किसानों का कहना है कि पुलिस ने यदि किसी का उत्पीड़न किया तो इसके खिलाफ धरना प्रदर्शन किया जाएगा। उन्होंने हक के लिए आवाज उठाई थी। शिकायत के बावजूद बिजली कर्मियों पर कार्रवाई नहीं की गई।

Spotlight

Most Read

Jharkhand

चारा घोटाला: चाईबासा कोषागार मामले में कोर्ट ने सुनाया फैसला, तीसरे केस में लालू दोषी करार

रांची स्थित विशेष सीबीआई अदालत ने चारा घोटाले के तीसरे मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को दोषी करार दिया है। साथ ही पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा को भी दोषी ठहराया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

जब रात में CM योगी के आवास के बाहर किसानों ने फेंके आलू

लखनऊ में आलू किसानों को जबरदस्त प्रदर्शन देखने को मिला। अपना विरोध जताते हुए किसानों ने लाखों टन आलू मुख्यमंत्री आवास, विधानसभा और राजभवन के बाहर फेंक दिया। देखिए आखिर क्यों भड़क उठा आलू किसानों का गुस्सा।

6 जनवरी 2018