विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
हनुमान जयंती पर नौकरी प्राप्ति, आर्थिक उन्नत्ति, राजनीतिक सफलता एवं शत्रुनाशक हनुमंत अनुष्ठान - 8 अप्रैल 2020
Astrology Services

हनुमान जयंती पर नौकरी प्राप्ति, आर्थिक उन्नत्ति, राजनीतिक सफलता एवं शत्रुनाशक हनुमंत अनुष्ठान - 8 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

Coronavirus in UP Live Updates: प्रदेश में सोमवार को 28 नए कोरोना संक्रमितों की हुई पुष्टि, बढ़ सकती है लॉकडाउन की अवधि

यूपी में सोमवार को 28 कोरोना पॉजिटिव मरीजों के साथ संक्रमितों की संख्या बढ़कर 311 हो गई है।

7 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

रायबरेली

मंगलवार, 7 अप्रैल 2020

युवक ने नहर में कूदकर जान देने का किया प्रयास

रायबरेली। कोरोना वायरस के बाद राजस्थान से घर लौट रहे एक परदेशी को रास्ते में पुलिस ने इतना परेशान किया कि शारदा नहर में उसने कूदकर जान देने का प्रयास किया। वह पैदल ही अपने घर जा रहा था। भूख से बेहाल था। जानकारी होने पर कोतवाल पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचकर उसकी जान बचाई। बुखार, खांसी आने पर पुलिस उसे सीएचसी जगतपुर ले गई, जहां इलाज के बाद उसे जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया।
जगतपुर कोतवाली क्षेत्र के उखहरा मजरे पहाड़गढ़ निवासी संतोष कुमार (20) पुत्र श्यामलाल राजस्थान में धागा मिल में दिहाड़ी मजदूर का कार्य करता था। कोरोना वायरस के चलते किए गए लॉकडाउन से मिल बंद हो गई है। इस वजह से वह राजस्थान से अपने घर आ रहा था। आरोप है कि राजस्थान से चलने के बाद उसे रास्ते में कई बार पुलिस ने प्रताड़ित किया। इससे वह क्षुब्ध था।
बुधवार देर शाम यहां पैदल पहुंचा संतोष कुमार जगतपुर-सलोन मार्ग पर शारदा सहायक नहर में कूद गया। इसी बीच कोतवाल हरिशंकर प्रजापति सलोन मार्ग पर पेट्रोलिंग कर रहे थे। सूचना मिलते ही वो टीम के साथ पहुंचे और युवक को नहर से बाहर निकलवाकर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र जगतपुर पहुंचाया। संतोष ने बताया कि उसे सात दिनों से बुखार आ रहा है।
रास्ते में पुलिस वालों ने उसे बहुत प्रताड़ित किया, जिसकी वजह से नहर में कूद गया। डॉ. सत्यपाल सिंह ने बताया कि प्राथमिक उपचार कर उसे जिला चिकित्सालय भेजा गया है। कोतवाल का कहना है कि युवक नहर में कूदकर जान देने का प्रयास किया था। जानकारी होने पर उसे बचा लिया गया।
... और पढ़ें

21.43 लाख गरीबों को 15 अप्रैल से पांच-पांच किलो चावल मिलेगा मुफ्त

रायबरेली। कोरोना से जंग में लॉकडाउन के दौरान गरीबों को मुफ्त भोजन देने के लिए प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत जिले को 10,717 मीट्रिक टन चावल मिला है। 15 अप्रैल से जिले के 21.43 लाख गरीबों को पांच-पांच किलोग्राम चावल दिया जाएगा। योजना में अंत्योदय और पात्र गृहस्थी के सभी लाभार्थियों को शामिल किया गया है।
प्रधानमंत्री ने लॉकडाउन की घोषणा के साथ ही गरीबों को मुफ्त अनाज मुहैया कराने के आदेश दिए हैं। इसके तहत संचालित योजना के तहत 15 अप्रैल से गरीबों में मुफ्त अनाज बांटा जाएगा। अप्रैल महीने में शासन से गरीबों में बांटने के लिए 10,717 मीट्रिक टन चावल दिया गया है। सभी गरीबों को पांच-पांच किलो चावल का वितरण होगा।
चावल का मिलने के बाद डीएसओ ने कोटेदारों को पांच अप्रैल से 14 अप्रैल तक गोदामों से चावल का उठान करके गरीबों को मुफ्त वितरण करने के आदेश दिए हैं। एक नगर पालिका व सात नगर पंचायतों के 3233 अंत्योदय व 34726 पात्र गृहस्थी कार्डधारकों के पूरे परिवार को पांच-पांच किलो चावल मुफ्त दिया जाएगा।
ब्लॉकवार चावल वितरण पर एक नजर-
ब्लॉक अंत्योदय की यूनिटें पात्र गृहस्थी की यूनिटें
अमावां 15381 75274
ऊंचाहार 13977 101737
खीरों 23237 101734
छतोह 11940 84123
जगतपुर 15532 55623
डलमऊ 22034 117742
डीह 12109 90190
गौरा 12103 66907
बछरावां 26689 88652
महराजगंज 16243 90702
राही 26469 113245
रोहनियां 6369 48787
लालगंज 20736 102083
शिवगढ़ 6611 79007
सतांव 19189 97126
सरेनी 26264 112768
सलोन 22181 164624
हरचंदपुर 14793 81690
प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत 15 अप्रैल से मुफ्त वितरण कराने के लिए 10,717 मीट्रिकटन चावल मिला है। जिले में 21.43 लाख यूनिटों को पांच-पांच किलो चावल का वितरण किया जाना है। यह वितरण नोडल अधिकारियों की मौजूदगी में कराया जाएगा।- केएन सिंह, जिला आपूर्ति अधिकारी
... और पढ़ें

खानपान की व्यवस्था को लेकर मारपीट, चार घायल

इन्हौना (रायबरेली)। अमेठी जिले के शिवरतनगंज थाना क्षेत्र के अकबरपुर फर्शी गांव में आश्रय स्थल में खानपान व्यवस्था को लेकर ग्राम प्रधान के समर्थकों और लोगों के बीच मारपीट हो गई। इसमें ग्राम प्रधान का एक समर्थक और तीन लोग घायल हुए। पुलिस ने दोनों पक्षों की तहरीर पर एफआईआर दर्ज कर ली है।
गैरप्रांत से आने वाले परदेसियों के रहने के लिए अकबरपुर फर्शी स्थित प्राथमिक स्कूल को आश्रय स्थल बनाया गया है। गांव निवासी शमीम सहित अन्य कई लोग आए और प्रधान समर्थक मेवालाल से कहने लगे कि आश्रय स्थल पर अव्यवस्था है। भोजन तक की व्यवस्था नहीं है। पहले दोनों पक्षों में कहासुनी हुई और फिर मारपीट हो गई।
मारपीट में एक पक्ष से ग्राम प्रधान समर्थक मेवालाल, जबकि दूसरे पक्ष से असलम, रियासत, शराफत घायल हो गए। घटना की सूूचना मिलते ही थानाध्यक्ष अजीत कुमार सिंह गांव पहुंचे। घायलों को सीएचसी भिजवाया, जहां पर घायल असलम को जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया।
थानेदार ने बताया कि मेवालाल की तहरीर पर हाजी इकबाल, आफताब, शमीम, रिययासत, असलम, मुब्बे व शराफत और दूसरे पक्ष के रियासत की तहरीर पर ग्राम प्रधान राजकुमार, महेंद्र प्रताप सिंह, दुर्गेश, मेवालाल, दिनेश कुमार के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।
... और पढ़ें

क्वारंटीन में भर्ती 14 और लोगों की जांच को सैंपल लखनऊ भेजा

रायबरेली। दिल्ली के तब्लीगी मरकज जमात में शामिल हुए दो जमातियों में कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद जिला प्रशासन सतर्क हो गया है। सोमवार को 14 और लोगों के सैंपल भी जांच के लिए केजीएमयू लखनऊ भेजा गया है।
इसमें एक व्यक्ति कोरोना संक्रमित जमाती के संपर्क में कई दिनों तक रहा है। सभी को अलग-अलग स्थानों पर बने क्वारंटीन सेंटरों में रखा गया है। उधर शहर के 10 मोहल्लों में सोमवार को भी सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध रहे। बैरियरों पर गहन पूछताछ के बाद ही लोगों को आने-जाने दिया गया।
बीती तीन अप्रैल को सर्च अभियान 49 जमातियों को पकड़कर क्वारंटीन सेंटर में रखकर सैंपल जांच के लिए केजीएमयू लखनऊ भेजा गया था। अब तक सैंपलों की आई जांच रिपोर्ट में दो सैंपल पॉजिटिव पाए गए।
बीती 31 मार्च व एक अप्रैल को ही दिल्ली से आकर दोनों खाली सहाट के एक धार्मिल स्थल में रुके थे। केस मिलने के बाद दोबारा लोगों की स्क्रीनिंग करके 14 लोगों को क्वारंटीन में रखा गया। सोमवार को सभी के सैंपल जांच के लिए केजीएमयू भेजा गया।
इसमें एक व्यक्ति कोरोना संक्रमित जमातियों के संपर्क में कई दिनों तक रहा है। उसके घर के सभी सदस्यों को भी क्वारंटीन करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। उधर, शहर के खालीसहाट, कहारो का अड्डा, सुरजूपुर, किला बाजार, अहियारायपुर, कैलाशपुरी, सुरजूपुर सहित 10 मोहल्लों में सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध रहे। सीएमएस डॉ. एनके श्रीवास्तव का कहना है कि 14 लोगों के सैंपल भेजवाए गए हैं। केजीएमयू में सैंपलों की उनकी जांच होगी।
सोमवार को चार और जमातियों की जांच रिपोर्ट आ गई है। इसमें दो जमातियों में कोरोना निगेटिव पाया गया है। केजीएमयू ने दो जमातियों के सैंपल दोबारा जांच के लिए भेजने के निर्देश दिए हैं। अब तक जांच के लिए भेजे 49 जमातियों के सैंपल भेजे गए थे।
इसमें 48 की रिपोर्ट आ चुकी है। इसमें 44 निगेटिव, दो पॉजिटिव मिले हैं। किन्हीं कारणोंवश दो जमातियों की जांच के लिए दोबारा सैंपल मांगे गए हैं। नोडल अधिकारी व एसीएमओ डॉ. नागेंद्र प्रसाद का कहना है कि अब तक 48 रिपोर्ट में 44 लोगों में कोरोना निगेटिव पाया गया है। दो व्यक्तियों के सैंपल दोबारा भेजा जाएरगा।
... और पढ़ें

बजार में इकट्ठा होने और क्वारंटीन से भागने पर 2

रायबरेली। शासन के कड़े निर्देशों के बाद भी लोग मनमानी से बाज नहीं आ रहे हैं। लॉकडाउन के दौरान धारा 144 को उल्लंघन करके सरेनी क्षेत्र की बाजार में रोक के बाद भी भीड़ इकट्ठा करने पर 23 लोगों पर मुकदमा दर्ज कराया गया है। इसके अलावा सरेनी क्षेत्र में क्वारंटीन सेंटर से भागे पांच लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ है।
सरेनी क्षेत्र में रविवार की शाम बेनी माधवगंज बाजार में लोगों की भारी भीड़ एकत्र हुई। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने लाउडस्पीकर से लोगों को भीड़ न करने की हिदायत दी, लेकिन लोगों पर असर नहीं पड़ा। मामले में वरिष्ठ उपनिरीक्षक बृजपाल यादव ने बेनी माधवगंज, रालपुर आदि गांवों के 23 लोगों के खिलाफ धारा 144 के उल्लंघन का मुकदमा दर्ज किया है।
उधर डीह क्षेत्र में सोमवार को क्वारंटीन सेंटर से घर भाग जाने वाले पांच लोगों पर मुकदमा दर्ज कराया गया है। पूरे नारायण मजरे टेकारीदांदू के लोगों को पुलिस ने इन सभी को बनाए गए क्वारंटीन सेंटर में रखा गया था।
उपनिरीक्षक कृष्णचंद्र ने जब क्वारंटीन सेंटर का निरीक्षण किया तो चार लोग गायब मिले। सभी के खिलाफ धारा 144 के उल्लंघन सहित अन्य धाराओं में मामला दर्ज कराया है। थानेदार जेपी यादव ने बताया कि मामला दर्ज करके कार्रवाई की जा रही है।
... और पढ़ें

क्वारंटीन सेंटरों में गुणवत्तापूर्ण भोजन न मिलने पर परदेशियों का हंगामा, तहरी फेंकी

रायबरेली। कोरोना वायरस से लोगों को बचाने के लिए बनाए गए क्वारंटीन सेंटर मजाक बन गए हैं। इन सेंटरों पर गुणवत्तापूर्ण भोजन बाहर से आए लोगों को नहीं दिया जा रहा है। इस पर रविवार को राही और खीरों क्षेत्र के सेंटरों पर लोगों ने हंगामा काटा।
साथ ही गुणवत्तापूर्ण तहरी न होने पर उसे फेंक दिया। यही नहीं इन सेंटरों पर सोशल डिस्टेंस की भी धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। ग्राम प्रधान से लेकर अधिकारी व्यवस्था फिटफाट करने में ध्यान नहीं दे रहे हैं।
राही ब्लॉक क्षेत्र के खागीपुर सड़वा स्थित भारतीय शिक्षा निकेतन इंटर कॉलेज को क्वारंटीन सेंटर बनाया गया है। यहां पर 18 गांवों के 140 लोगों को क्वारंटीन कराया जा रहा है। बाहर से आए इन लोगों को शनिवार को तहरी दी गई, जो गुणवत्तापूर्ण नहीं थी।
इस पर लोगों ने तहरी को फेंक दी। रविवार को भोजन न मिलने पर हंगामा काटना शुरू कर दिया। हाथ धोने के लिए साबुन या फिर सैनिटाइजर की व्यवस्था नहीं कराई गई। आरोप लगाया कि ग्राम प्रधान से लेकर अधिकारी महज खानापूर्ति कर रहे हैं।
जानकारी होने पर सुलखियापुर के प्रधान गोवर्धन ने पहुंचकर लोगों को शांत कराते हुए खानपान की व्यवस्था कराई। नोडल अधिकारी सुुषमा का कहना है कि खानपान की व्यवस्था कराने का प्रयास कराया जा रहा है।
खीरों ब्लॉक क्षेत्र में श्री दुर्गा इंटर कॉलेज खीरों को क्वारंटीन सेंटर बनाया गया है। यहां पर ठहरे सातनपुर निवासी राममहेश, अजीतपुर निवासी चंदिका प्रसाद आदि ने डीएम को फोन करके शिकायत की कि गुणवत्तापूर्ण भोजन नहीं दिया जा रहा है।
पानी भी शुद्ध नहीं दिया जा रहा है। कुछ लोगों ने घर फोन करके अपने लिए भोजन मंगाया। इन खामियों पर हंगामा किया। एसडीएम लालगंज जीतलाल सैनी ने बताया कि शनिवार देर रात तक लोगों को सेंटरों में लाने का प्रयास किया जा रहा था, जिससे देर रात तक संख्या बढ़ रही थी। इसके चलते कुछ दिक्कतें हुई थी। भोजन की व्यवस्था कराने के आदेश दिए गए हैं।
क्षेत्र में भी भोजन न मिलने पर लोगों ने हंगामा किया। ऊंचाहार कस्बे के राजकीय डिग्री कॉलेज में 265 लोग सुबह से भूखे थेे। खाना नहीं मिलने पर भूख से बेहाल लोग केंद्र से बाहर निकल आए। कॉलेज के मुख्यद्वार पर भीड़ लगाकर हंगामा किया।
कोटिया चित्रा के प्रधान नरेंद्र यादव, ऊंचाहार कोतवाल धर्मेंद्र दुबे ने मौके पर पहुंचकर भोजन की व्यवस्था कराकर लोगों को शांत कराया। इसी तरह धूता स्थित बनाए गए क्वारंटीन सेंटर इंटर कॉलेज में लोगों ने हंगामा किया। एसडीएम केशवनाथ गुप्ता ने पहुंचकर मामला शांत कराया।
... और पढ़ें

शहर के 500 घरों में कांटेक्ट ट्रेसिंग, पांच और संदिग्ध क्वारंटीन पहुंचे

रायबरेली। कोरोना वायरस के दो पॉजिटिव केस मिलने के बाद जिले में हड़कंप मच गया। शहर के खाली सहाट, कैलाशपुरी, सुरजूपुर सहित अन्य मोहल्लों में सुबह से ही कांटेक्ट ट्रेसिंग (सर्च अभियान) करके घर-घर लोगों की जांच की गई।
स्वास्थ्य विभाग की तीन टीमों ने अलग-अलग करीब 500 घरों में पहुंचकर घर में मिले लोगों की स्क्रीनिंग की। इसमें बुखार के लक्षण मिलने पर पांच लोगों को आइसोलेशन में भेजा गया है। शेष अन्य लोगों को घरों में ही रहने के निर्देश देने के साथ ही कोरोना से बचने के टिप्स दिए गए।
जिला समन्वयक शहरी स्वास्थ्य मिशन विनय पांडेय के पर्यवेक्षण में नगर की टीम में शामिल दिलीप मिश्रा, कौशलेंद्र, अभिषेक, अमित, इंद्रेश आदि की टीम ने घर-घर पहुंचकर लोगों की सेहत की जांच की। इस दौरान टीम व पुलिस के पहुंचने पर कई घरों के लोग बुलाने के बाद भी बाहर नहीं निकले।
पुलिस का दबाव बढ़ने के बाद लोगों ने घरों से बाहर आकर बुखार की जांच कराई। इस दौरान खाली सहाट में चार लोगों में बुखार के लक्षण मिलने के बाद उन्हें अस्पताल इलाज कराने के लिए भेजा गया। इसके अलावा कोरोना के पॉजिटिव व्यक्ति के संपर्क में आए एक युवक को पकड़ा गया। युवक फातिमा मस्जिद के बगल में ही रहता है और वृद्धों के संपर्क में लगातार रहा है। उसके सैंपल की भी जांच होगी।
लोगों के घरों में सेहत जांचने के लिए पहुंची स्वास्थ्य विभाग की टीमों के सदस्यों ने लोगों को समझाया कि उन्हें बुखार आए तो किसी भी स्तर पर लापरवाही न करें। बुखार आते ही तुरंत अस्पताल आकर जांच कराएं। बाहर से आए लोगों के संपर्क में भी आने से बसें और घरों में ही रहकर अपने आप को कोरोना से बचने का प्रयास करें। कारोनेे से बचने के लिए लॉकडाउन ही अच्छा इलाज है।
... और पढ़ें

दिल्ली से लौटे दो जमातियों में कोरोना पॉजिटिव, शहर के 10 मोहल्ले सील

रायबरेली। दक्षिणी दिल्ली के हजरत निजामुद्दीन स्थित तब्लीगी जमात में शामिल हुए दो लोगों में कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। सहारनपुर जिले के मिरजापुर थाना क्षेत्र के रहने वाले दोनों बुजुर्ग जलसे के बाद रायबरेली आकर शहर के एक धार्मिक स्थल में रुके थे।
सर्च अभियान में पकड़े गए 49 लोगों में ये दोनों भी शामिल थे। रिपोर्ट आने के बाद दोनों को रोहनियां सीएचसी के आइसोलेशन वार्ड में शिफ्ट कर दिया गया है। साथ ही शहर के करीब 10 मोहल्लों को सील कर दिया गया है। मोहल्लों के बार्डर पर बैरियर लगाकर भारी पुलिस बल तैनात करने के साथ ही लोगों के आने-जाने पर पाबंदी लगा दी गई है। स्वास्थ्य टीम ही आ जा सकेगी।
दिल्ली में तब्लीगी जमात के आयोजन कोरोना का खतरा देश में बढ़ गया। जलसे में शामिल लोग जिस भी जिले में गए, वहां कोरोना के संक्रमण के केस बढ़ गए। शासन की मंशा पर बीती तीन अप्रैल को सर्च अभियान चलाकर 49 जमातियों को पकड़कर क्वारंटीन सेंटर में रखकर सैंपल जांच के लिए केजीएमयू लखनऊ भेजा गया।
अब तक सैंपलों की आई जांच रिपोर्ट में दो सैंपल पॉजिटिव पाए गए हैं। कोरोना से संक्रमित पाए गए एक वृद्ध की उम्र 65 वर्ष व दूसरे की उम्र 70 वर्ष है। दोनों सहारनपुर के रहने वाले हैं। चर्चा है कि बीती 31 मार्च व एक अप्रैल को ही दिल्ली से आकर दोनों खाली सहाट के एक धार्मिल स्थल में छुपे थे।
दोनों को रोहनियां के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती करके इलाज शुरू किया गया है। इसी के साथ ही शहर के खालीसहाट, कहारों का अड्डा, सुरजूपुर, किला बाजार, अहियारायपुर, कैलाशपुरी, सुरजूपुर सहित 10 मोहल्लों को सील कर दिया गया है। बैरियर लगाकर भारी पुलिस तैनात करने के साथ ही लोगों के आने-जाने पर रोक लगा दी गई है।
जांच के लिए भेजे गए 49 जमातियों के सैंपल में अब तक 44 सैंपलों की जांच रिपोर्ट आ चुकी है। इसमें 42 जमातियों में कोरोना निगेटिव पाया गया। एफजीआईईटी के क्वारंटीन सेंटर में रखे गए सभी 42 जमातियों की रविवार को चिकित्सकों की टीम ने दोबारा स्क्रीनिंग की। लक्षण मिलने पर सभी की दोबारा जांच भी कराई जा सकती है।
डीएम शुभ्रा सक्सेना और एसपी स्वप्निल ममगाई ने शहर के कई मोहल्लों का निरीक्षण करके पुलिस की सुरक्षा को और चुस्त-दुरुस्त करने के आदेश दिए। बिना पूछताछ के किसी को भी संवेदनशील मोहल्लों में प्रवेश न देने के आदेश दिए।
चौराहों व बैरियरों पर लगाए अधिकारियों व पुलिस कर्मियों को सुरक्षा के कड़े निर्देश दिए गए। जो भी संदिग्ध मिलें, उन्हें तत्काल पकड़कर पूछताछ करने के आदेश दिए। डीएम ने कहा कि किसी भी स्तर पर लापरवाही सामने नहीं आनी चाहिए।
कोरोना का केस पॉजिटिव मिलने के बाद शहर के बस स्टेशन, कहारो का अड्डा, जोशियाना पुल, राजघाट के पास संबंधित मोहल्लों को जाने वाले मार्गों को सील कर दिया गया है। सड़कों पर बैरियर लगाकर पुलिस का पहरा बैठा दिया गया है।
यहां से कड़ी पूछताछ के बाद ही लोगों को आने-जाने दिया जा रहा है। एंबुलेंस, अधिकारियों व पुलिस की गाडिय़ों के अलावा किसी को भी प्रवेश नहीं दिया जा रहा है।
... और पढ़ें

जमाती में नहीं मिले कोरोना के लक्षण, 48 जमातियों की रिपोर्ट का इंतजार

रायबरेली। दक्षिण दिल्ली के हजरत निजामुद्दीन स्थित तब्लीगी मरकज जमात में शामिल होकर लौटे एक जमाती की जांच में कोरोना के लक्षण नहीं मिला है। सैंपल निगेटिव पाया गया है। साथ ही अन्य 48 जमातियों के सैंपलों की जांच केजीएमयू लखनऊ में हो रही है। सभी की रिपोर्ट आने का इंतजार है। सभी को क्वारंटीन सेंटर में रखा गया है। सभी लोगों की सेहत ठीक है।
दिल्ली में तब्लीगी मरकज जमात के आयोजन के बाद देश में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ गई। जलसे में शामिल होने के बाद लौटे लोगों को सर्च अभियान चलाकर पकड़ा गया। तीन दिन पहले शहर के किलाबाजार के एक व्यक्ति को पकड़कर क्वारंटीन में रखकर सैंपल जांच के लिए भेजा गया था।
जांच में कोरोना के लक्षण उसमें नहीं पाए गए हैं। इसके अलावा सर्च अभियान में पकड़े गए 48 जमातियों के सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं। सभी के सैंपलों की जांच केजीएमयू लखनऊ में हो रही है। उम्मीद है कि कुछ सैंपलों की जांच रिपोर्ट रविवार को आ सकती है।
सर्च अभियान जारी, टीमों को किया सक्रिय
जमातियों को पकड़कर उनकी जांच कराने के लिए शनिवार को भी सर्च अभियान चलाया गया। हालांकि कोई जमाती पकड़ में नहीं आया। पुलिस व प्रशासन की टीम को सक्रिय किया गया है। सूचना मिलते ही टीमें जमाती को सर्च करने के लिए पहुंच रही हैं। एएसपी नित्यानंद का कहना है कि सर्च अभियान जारी रखा गया है। जो भी जमाती मिलेगा उसे पकड़कर क्वारंटीन में रखवाया जाएगा।
दो दिन पहले जमाती के भेजे गए सैंपल की जांच निगेटिव होने की जानकारी मिली है। अन्य 48 लोगों के सैंपल भी जांच के लिए भेजे गए हैं। उनकी रिपोर्ट आनी बाकी है। जमातियों का पता लाने के लिए सर्च अभियान जारी है। कोरोना महामारी से जीतने के लिए जिले के सभी लोगों को साथ देना होगा। लॉकडाउन का शत-प्रतिशत पालन करें।
-शुभ्रा सक्सेना, जिलाधिकारी
... और पढ़ें

मासूका से मिलने पहुंचे युवक को ग्रामीणों ने पीटा

ऊंचाहार (रायबरेली)। लॉकडाउन का उल्लंघन करके एक युवक अपनी मासूका से मिलने उसके गांव पहुंच गया। ग्रामीणों को इसकी जानकारी हुई तो सभी ने उसे पकड़कर पिटाई कर दी। उसके बाद पुलिस के सुपुर्द कर दिया। मामला ऊंचाहार कोतवाली क्षेत्र के एक गांव का है।
डीह थाना क्षेत्र का निवासी एक युवक को ऊंचाहार के एक गांव की एक लड़की से प्रेम हो गया। दोनों का प्रेम मोबाइल फोन पर चलता रहा। बीच में एक-दो बार मुलाकात भी हुई। उसके बाद लॉकडाउन के कारण किसी का घर से बाहर निकलना मुश्किल हो गया। आशिक अपनी मासूका से मिलने को बेकरार था।
उसने बड़ा जोखिम लेने की योजना बनाई और अपनी मासूका से मिलने उसके गांव पहुंच गया। युवक जब गांव पहुंचा, तो ग्रामीण बाहरी व्यक्ति को देख सशंकित हुए। उसके बाद उसको पकड़ लिया। युवक ने ग्रामीणों को जब अपनी हकीकत और गांव आने का मकसद बताया तो ग्रामीणों ने उसको पीटना शुरू कर दिया। उसके बाद मामले की सूचना कोतवाली को दी गई। गांव पहुंची पुलिस ने युवक को कोतवाली लाई। इस बाबत कोतवाल धर्मेंद्र दुबे ने बताया कि युवक से पूछताछ की जा रही है।
... और पढ़ें

90 क्वारंटीन सेंटरों में शिफ्ट किए गए 9700 परदेशी, पुलिस बल तैनात

रायबरेली। दिल्ली, मुंबई व अन्य शहरों से लौटे 9700 लोगों को गांवों के प्राथमिक स्कूलों से हटाकर शनिवार को ब्लॉक स्तर के इंटर कॉलेजों में बनाए गए क्वारंटीन सेंटरों में शिफ्ट कर दिया गया है। लोग घरों को भाग न जाएं, इसके लिए सभी 90 क्वारंटीन सेंटरों पर पुलिस बल की तैनाती कर दी गई है।
ब्लॉक स्तरीय अधिकारियों को सेंटरों का प्रभारी बनाने के साथ ही लोगों के लिए भोजन सहित अन्य व्यवस्था कराने के आदेश दिए गए हैं। इसमें किसी भी स्तर पर लापरवाही न बरतने के आदेश दिए गए हैं। खंड विकास अधिकारियों को व्यवस्था के लिए आपदा राहत कोष से बजट भी दे दिया गया है।
शिवगढ़ प्रतिनिधि के अनुसार, क्षेत्र के केंद्रीय विद्यालय शिवगढ़, कैरियर प्लस इंटर कॉलेज शिवगढ़, श्रीबरखंडी विद्यापीठ इंटर कॉलेज शिवगढ़ व जनता इंटर कॉलेज गूढ़ा को क्वारंटीन सेंटर बनाकर गांवों के स्कूलों में रखे गए लोगों को यहां शिफ्ट कर दिया गया है। बीडीओ अजय कुमार सिंह ने बताया कि 786 लोगों को क्वारंटीन सेंटर में रखा गया है।
खीरों प्रतिनिधि के अनुसार, क्षेत्र के 936 परदेशियों को एमपीएस पब्लिक स्कूल, न्यू सरस्वती बालिका इंटर कालेज, श्रीदुर्गा बाल विद्या मंदिर इंटर कालेज में रखा गया है। एसडीएम लालगंज जीतलाल सैनी ने बताया कि गांव स्तर पर बने सेंटरों के लोगों को इंटर कॉलेजों में रखा गया है। सुरक्षा के बंदोबस्त भी किए गए हैं।
डीह प्रतिनिधि के अनुसार, बाहर से आए लोगों को रखने के लिए राजकीय इंटर कालेज, अमर सिह महाविद्यालय गड़वा, ज्ञानभारती इंटर कालेज परसदेपुर, स्वामी रामतीर्थ विद्यालय वीरगंज, जूनियर हाई स्कूल टेकारीदांदू, वैण्णव विद्यालय पोठई को क्वारंटीन सेंटर बनाया गया है। सभी केंद्रों के लिए प्रभारी तैनात करने के साथ ही पुलिस बल की तैनाती भी की गई है।
हरचंदपुर प्रतिनिधि के अनुसार, विश्वनाथ महाविद्यालय गंगागंज, बाल विद्या मंदिर इंटर कॉलेज तथा हरचंदपुर स्थित सकल नारायण मेमोरियल स्कूल को क्वारंटीन सेंटर बनाया गया है। थानाध्यक्ष अनिल कुमार सिंह ने बताया कि सेंटरों में सुरक्षा के बंदोबस्त किए गए हैं। जगतपुर प्रतिनिधि के अनुसार, बाहर से आए 454 लोगों को रखने के लिए राणा बेनी माधव सिंह स्मारक इंटर कॉलेज शंकरपुर, बलिकरन सिंह इंटर कॉलेज जगतपुर, डॉक्टर भीमराव अंबेडकर इंटर कॉलेज धोबहा, गंगादीन तिवारी जूनियर हाईस्कूल हेवतहा, राज नारायण मिश्र इंटर कॉलेज धूता को क्वारंटीन सेंटर बनाया गया है। बीडीओ राजेश बहादुर सिंह ने बताया कि सेंटरों में सारी व्यवस्था कराई गई है।
गांव स्तर पर क्वारंटीन सेंटरों में सुरक्षा और अन्य बंदोबस्त न होने के कारण 90 कॉलेजों को अधिग्रहीत कराकर क्वारंटीन बनाया गया है। 9700 लोगों को यहां रखा गया है। सुरक्षा के लिए सभी सेंटरों पर पुलिस बल की व्यवस्था की गई है। खाने पीने की व्यवस्था बीडीओ कराएंगे। सेंटरों के प्रभारियों की पूरी जिम्मेदारी होगी।
-शुभ्रा सक्सेना, जिलाधिकारी
... और पढ़ें

परदेशियों की खानपान व्यवस्था देखने गए पंचायत सदस्य को मारी गोली

बछरावां (रायबरेली)। कोतवाली क्षेत्र में शुक्रवार की रात कलुईखेड़ा गांव में आइसोलेट परदेसियों की खानपान व्यवस्था देखने गए ग्राम पंचायत सदस्य को गोली मार दी गई। गोली उसके बाएं हाथ में लगी। फायरिंग की घटना से अफरातफरी मच गई। घटना की जानकारी पर कोतवाल पंकज तिवारी पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचे और पड़ताल की। साथ ही घायल को सीएचसी भिजवाया, जहां से उसे जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। पुलिस ने दो हमलावरों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। कोतवाल का कहना है कि हमलावरों की गिरफ्तारी के लिए प्रयास किया जा रहा है।
बछरावां कोतवाली क्षेत्र के कलुईखेड़ा गांव निवासी एवं ग्राम पंचायत सदस्य अजय शंकर द्विवेदी (35) पुत्र राम कुमार द्विवेदी ने कोतवाली में दी गई तहरीर में कहा है कि परदेश से आए लोगों को गांव में आइसोलेट किया गया है। प्रधान के कहने पर रात में वह आइसोलेट लोगों के खानपान की व्यवस्था देखने क्वारंटीन सेंटर गए थे। इसी बीच गांव के रहने वाले दो लोगों ने उस पर तमंचे से फायर झोंक दिया। गोली पंचायत सदस्य के बाएं हाथ में लगी, जिससे वह खून से लतपत हो गया।
आसपास के लोग पहुंचे तो हमलावर फरार हो गए। पीड़ित का कहना है कि हमलावर हिस्ट्रीशीटर भी हैं। कोतवाल का कहना है कि ग्राम पंचायत सदस्य आइसोलेट लोगों के खानपान की व्यवस्था देखने गया था, तभी उस पर फायरिंग की गई। घायल ग्राम पंचायत सदस्य की तहरीर पर नितीश कुमार उर्फ शीलू पाल और पंकज सिंह के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है। दोनों हमलावरों की गिरफ्तारी के लिए प्रयास किया जा रहा है।
... और पढ़ें

किराना व्यवसायी के घर से नकदी समेत साढ़े सात लाख की चोरी

रायबरेली। कोतवाली क्षेत्र में चोरों ने एक किराना व्यवसायी के घर से नकदी समेत साढ़े सात लाख रुपये के जेवर पार कर दिए। चोर घर के आंगन में लगे लोहे के जंगले को हटाकर अंदर घुसे। कमरे में रखी अलमारी व बक्से को खोलकर नकदी व जेवर पार कर दिए। नवोदय चौराहा निवासी ओम प्रकाश की किराने की दुकान है। यहीं पर मकान भी है। गत रात चोर दो मंजिले की छत पर लगे लोहे के जाल को उठाकर घर के अंदर प्रवेश किया।
बेड़ पर सो रहे ओम प्रकाश और उनकी पुत्री के मुंह पर बेहोशी करने वाला कोई स्प्रे डाल दिया। इसके बाद बेड के सिरहाने बने काउंटर से नकदी निकाल ली। अलमारी व बक्से से भी नकदी व जेवर पार कर दिए। सुबह जब ओमप्रकाश की दुकान नहीं खुली तो सामान लेने आए ग्राहकों ने शटर खटखटाया। इसके बाद चोरी की जानकारी हुई। पीड़ित ने बताया कि दुकान में सामान भरना है। इसके लिए रुपये घर में रखे थे।
नकदी समेत करीब साढ़े सात लाख रुपये की चोरी हुई है। पीड़ित ने मामले की तहरीर कोतवाली में दी है। पुलिस जांच शुरू कर दी है। महराजगंज ब्लॉक मुख्यालय के बगल में रखे पान की दुकान का पटरा उखाड़कर चोरों ने नकदी समेत तीन हजार रुपये का सामान पार कर दिया। टूक गांव निवासी गिरजाशंकर ब्लॉक के बगल में पान, पुडिय़ा की दुकान रखे है। लॉक डाउन के चलते दुकान बंद थी। शुक्रवार को जब वह दुकान की तरफ आया तो पीछे का पटरा निकला था। जब उसने दुकान खोलकर देखा तो सामान गायब था। पीड़ित ने बताया कि करीब पांच रुपये समेत तीन हजार रुपये का सामान चोरी हुआ है।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं
RAEBARELI (27.10.19)
RAEBARELI (27.10.19)
RAEBARELI (27.10.19)
RAEBARELI (27.10.19)

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us