प्रतापगढ़ में महिला अफसर से दुष्कर्म, बनाई अश्लील वीडियो, आरोपी के खिलाफ एफआईआर दर्ज

vinod kumar singh अमर उजाला नेटवर्क, प्रयागराज Published by: विनोद सिंह
Updated Sat, 16 Jan 2021 12:56 AM IST
विज्ञापन
demo pic
demo pic - फोटो : AMAR UJALA

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
जिले में तैनात एक महिला अफसर ने शाहजहांपुर निवासी युवक के खिलाफ दुष्कर्म और शारीरिक शोषण का आरोप लगाते हुए एफआईआर दर्ज कराई है। महिला अफसर का आरोप है कि दुष्कर्म के दौरान आरोपी ने उसकी अश्लील फोटो और वीडियो बना ली और वायरल करने की धमकी देकर उसे ब्लैकमेल कर रहा है। आरोपी आठ वर्ष से उसका शारीरिक शोषण कर रहा है। बात नहीं मानने पर उसने सरकारी दफ्तर और आवास में घुसकर गालीगलौज करते हुए जाने से मारने की धमकी दी है। पुलिस आरोपी को हिरासत लेकर पूछताछ कर रही है।  
विज्ञापन


फतेहपुर निवासी महिला अफसर ने पुलिस को दी तहरीर में बताया है कि वर्ष 2012 में दिल्ली में कोचिंग के दौरान शाहजहांपुर के बसंतपुर निवासी गुरुविंदर सिंह पुत्र साधू सिंह उसके साथ छेड़छाड़ करता था। जिससे वह बीमार व अक्सर बेहोश रहने लगी। इसी दौरान दिल्ली स्थित अपने कमरे में एक दिन वह अचेत पड़ी थी। तभी गुरुविंदर वहां पहुंचा और उसके साथ दुष्कर्म किया।


आरोपी ने घटना की अश्लील वीडियो व फोटो बना ली। घटना के पंद्रह दिन बाद कोचिंग में उसने वीडियो दिखाया और वायरल करने की धमकी देते हुए उसे ब्लैकमेल करना शुरू कर दिया। वह उसके साथ घूमने जाने की बात करने लगा। इससे वह डिप्रेशन में रहने लगी। दो साल बाद वर्ष 2015 में बरेली में बैंक में नौकरी लगने पर वह किराए का कमरा लेकर वहां रहने लगी, लेकिन आरोपी ने उसका पीछा नहीं छोड़ा। एक दिन गुरुविंदर बरेली स्थित उसके कमरे में पहुंचा और मारपीट कर उसे कुर्सी से बांधने के बाद शारीरिक शोषण करते हुए वीडियो व फोटो बना ली।

महिला अफसर का आरोप है कि गुरुविंदर सिंह ने अपने नाम से सिम खरीदकर उसे दिया और परिजनों से दूर रहने पर मजबूर किया। उसने उसके बैंक खाते से अवैध तरीके से रुपये का लेनदेन किया। बात नहीं मानने पर गुरुविंदर ने उसकी बहन के व्हाट्सएप नंबर पर अश्लील फोटो व वीडियो भेज दी। इस बीच उसकी वर्ष 2017 में प्रतापगढ़ जिले में तैनाती हो गई।

यहां तैनाती के बाद से आरोपी उसको फोन व व्हाट्सएप पर धमकी व ब्लैकमेल करने के लिए संदेश भेजता रहा। आरोपी ने वीडियो वायरल करते हुए उसकी अश्लील फोटो दीवारों पर चस्पा करने की धमकी देकर उसका मानसिक व सामाजिक शोषण किया। इसके बाद भी उसकी बात नहीं मानी तो बीते 18 दिसंबर को अपने दो अज्ञात साथियों के साथ मेरे सरकारी आवास पर पहुंचा और साथ चलने का दबाव बनाने लगा। यह देख मैं अपने ड्राइवर के साथ कार से सरकारी आवास पर चली गई।

इसके बाद वह वहां भी आ धमका और साथ ले जाने पर अड़ गया। महिला अफसर के ड्राइवर ने जब शोर मचाया तो आरोपी भाग निकले। जिसके बाद पीड़ित महिला अफसर ने लालगंज कोतवाली में आरोपी गुरुविंदर समेत दो अज्ञात लोगों के खिलाफ दुष्कर्म, शारीरिक शोषण, जान से मारने की धमकी देने समेत कई गंभीर धाराओं में मुकदमा पंजीकृत कराया। चर्चा है कि पुलिस आरोपी को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। प्रभारी कोतवाल रामअधार ने बताया कि केस दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है। 

पखवारे भर मामला दबाए रही पुलिस

महिला अफसर की तहरीर पर दो जनवरी को ही मुकदमा दर्ज कर लिया गया था, लेकिन पुलिस मामले को दबाए रही। दो दिन पहले मीडियाकर्मियों को किसी तरह जानकारी मिली तो घटना के बारे में खंगालना शुरू किया। प्रभारी कोतवाल रामअधार जानकारी से इनकार करते रहे। सीओ ने भी पूरी तरह अनभिज्ञता जाहिर की। प्रभारी कोतवाल तो घटना के बारे में बयान भी देने से कतराते रहे। काफी कुरेदने पर उन्होंने केस दर्ज करने की बात स्वीकार की।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X