बाबागंज और विश्वनाथगंज को तहसील बनाने की उठी मांग

Pratapgarh Updated Wed, 22 Jan 2014 05:43 AM IST
विधान परिषद सदस्य और पूर्व सांसद अक्षय प्रताप सिंह उर्फ ‘गोपालजी’ ने जिले में बाबागंज और विश्वनाथगंज विधानसभाओं को तहसील बनाने की मांग की है। उन्होंने मुख्यमंत्री को भेजे पत्र में नई तहसीलों के बनने से शांति व्यवस्था और जनहित के कार्यक्रम लागू करने में आसानी होने की बात कही है।
विधान परिषद सदस्य और पूर्व सांसद अक्षय प्रताप सिंह ने मुख्यमंत्री को भेजे पत्र में बाबागंज और कालाकांकर ब्लाक को मिलाकर नई तहसील बाबागंज सृजित करने की बात कही है। एमएलसी ने बाबागंज और कालाकांकर ब्लाक में 285 राजस्व गांव और 61 लेखपालों का क्षेत्र होने की बात करते हुए विश्वनाथगंज और मानधाता ब्लाकों में 265 राजस्व गांव और 56 लेखपाल क्षेत्र होने का हवाला देते हुए अविलंब तहसील गठित करने की बात कही है। सूबे के मुखिया का घ्यान तहसील बनाने के प्रति आकर्षित करते हुए कहा है कि इससे न केवल क्षेत्र का विकास होगा, बल्कि प्रशासनिक अधिकारियों की मौजूदगी से शांति व्यवस्था सुधारने में भी मदद मिलेगी। 245 बाबागंज क्षेत्र वर्तमान में कुंडा क्षेत्र और 247 विश्वनाथगंज सदर तहसील के अंतर्गत आता है। एमएलसी का यह प्रयास अगर सार्थक हुआ तो जिले में तहसीलों की संख्या बढ़कर सात हो जाएगी। वर्तमान समय में कुंडा, पट्टी, रानीगंज, सदर और लालगंज सहित पांच तहसीलें हैं। एमएलसी अक्षय प्रताप सिंह ने बताया कि मुख्यमंत्री से मिलकर यह पत्र सौंप दिया गया है। उन्होंने जल्द ही तहसीलों के गठन की पहल होने की बात कही है।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

एसपी के इस पूर्व विधायक के घर कुर्की, एक-एक सामान उखाड़ ले गई पुलिस

इलाहाबाद में पूर्व सांसद और बाहुबली नेता अतीक अहमद के भाई पूर्व विधायक के घर की कुर्की की गई। धूमनगंज थाने की पुलिस ने कोर्ट के आदेश के बाद कुर्की की है। अलक्मा और सुरजीत हत्या मामले में आरोपी अशरफ फरार चल रहा है।

25 दिसंबर 2017