जावेद के हत्यारों को खोजने में नाकाम पुलिस

Pratapgarh Updated Wed, 22 Jan 2014 05:43 AM IST
कांग्रेस जिलाध्यक्ष मोहम्मद इशहाक खां के दामाद जावेद अहमद के हत्या के आरोपी पुलिस की गिरफ्त से दूर हैं। घटना के बाद से ही परिजन दहशत में हैं। कार्रवाई के नाम पर इलाकाई पुलिस केवल औपचारिकता ही निभा रही है।
रानीगंज थाना क्षेत्र के पूरे गोलिया गांव निवासी जावेद की हत्या 7 जनवरी की शाम बाजार से घर लौटते समय कर दी गई। पिता मकबूल की तहरीर पर पुलिस ने तिवारीपुर के प्रधान समेत चार लोगों को नामजद और दो अज्ञात के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई। घटना के तीसरे दिन पुलिस ने एक आरोपी ओम प्रकाश तिवारी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया जबकि प्रधान समेत अन्य आरोपी फरार हैं। इलाकाई पुलिस इस हत्याकांड के आरोपियों को 14 दिन बाद भी नहीं पकड़ सकी। पुलिस की उदासीनता से परिजन अनहोनी की आशंका जता रहे हैं। उनका कहना है कि पुलिस की ढिलाई से आरोपी खुलेआम घूम रहे हैं।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

एसपी के इस पूर्व विधायक के घर कुर्की, एक-एक सामान उखाड़ ले गई पुलिस

इलाहाबाद में पूर्व सांसद और बाहुबली नेता अतीक अहमद के भाई पूर्व विधायक के घर की कुर्की की गई। धूमनगंज थाने की पुलिस ने कोर्ट के आदेश के बाद कुर्की की है। अलक्मा और सुरजीत हत्या मामले में आरोपी अशरफ फरार चल रहा है।

25 दिसंबर 2017