रानीगंज इलाके के भागीपुर गांव में मची अफरातफरी

Pratapgarh Updated Tue, 11 Dec 2012 05:30 AM IST
रानीगंज। क्षेत्र के भागीपुर गांव में सोमवार सुबह तब सनसनी फैल गई जब प्राइमरी स्कूल में बम विस्फोट हो गया। सौभाग्य से उस समय परिसर में आसपास कोई बच्चा मौजूद नहीं था। परिसर में लगे हैंडपंप के पास रखे सुतली बंधे बम को गांव के एक युवक ने गेंद समझकर फेंक दिया। तेज धमाके के साथ विस्फोट होते ही मौके पर भारी भीड़ लग गई। सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने छानबीन शुरू कर दी है। ग्राम प्रधान और प्रधानाध्यापक ने घटना की बाबत थाने में तहरीर दी है।
रानीगंज थाना क्षेत्र के प्राथमिक विद्यालय भागीपुर (शिवगढ़) का मुख्य गेट हमेशा खुला रहता है। स्कूल परिसर में लगे हैंडपंप पर गांव के लोग पानी भरने और नहाने आते हैं। सोमवार सुबह साढे़ 8 बजे सफाई करने के लिए दिनेश स्कूल पहुंचा। सफाई के बाद वह कूड़ा फेंककर चला गया। इस दौरान उसे सुतली से बना बम मिला लेकिन उसने बच्चाें द्वारा बनाई गई गेंद समझ हैंडपंप के पास रख दिया। लगभग साढे़ नौ बजे तक कोई शिक्षक नहीं आया था। परिसर में चार-पांच बच्चे टहल रहे थे। तभी गांव के रामसमुझ विश्वकर्मा (30) और दीपक (18) पुत्र देवराज हैंडपंप पर नहाने आए। देवराज ने गेंद समझकर सुतली बम दीपक को दे दिया। दीपक ने उसे फेंका तो वह तेज आवाज के साथ विस्फोट कर गया। कुछ ही देर में गांववालों की भारी भीड़ जुट गई।
सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने बम के अवशेष समेटे तो उसमें छर्रों के साथ ही नट-बोल्ट भी मिले। ग्राम प्रधान हरीसिंह यादव और प्रधानाध्यापक इंद्रमणि उपाध्याय ने घटना की तहरीर थाने पर दे दी है। एसओ अशोक कुमार पांडेय ने कहा कि बम के अवशेष जांच के लिए भेजे जा रहे हैं। सहालग के सीजन में यह सुतली बम (पटाखा) कहीं से यहां पहुंच गया होगा या फिर किसी की शरारत भी हो सकती है। पूरे मामले की जांच की जा रही है।
यह तो संयोग ही था कि बच्चाें के आने से पहले ही विद्यालय परिसर में सुतली बम फट गया। आमचर्चा के मुताबिक किसी ने साजिश के तहत स्कूल परिसर में बम रखा था। अगर बच्चाें को यह बम दोपहर में मिलता और वह इससे खेलने लगते तो भयावह हादसे से इनकार नहीं किया जा सकता।
कई साल पहले मानधाता इलाके में ट्रांजिस्टर धमाके ने आला अफसराें को हिला दिया था। आईजी तक मौके पर आए थे लेकिन रानीगंज इलाके में एक के बाद एक तीसरा धमाका होने पर भी पुलिस-प्रशासन गंभीर नहीं है। उधर इलाके में लगातार धमाकाें से लोग हैरत में हैं।
चार साल पहले मानधाता इलाके में हुए ट्रांजिस्टर विस्फोट का रहस्य आज तक अनसुलझा है। रानीगंज के दुर्गागंज बाजार के पास सरायसेतराय गांव के पास ट्रांजिस्टर विस्फोट में हीरालाल घायल हुआ था। इस घटना के तत्काल बाद ही दुर्गागंज बाजार में एक साइकिल पर टंगे झोले में विस्फोट हो गया था। पुलिस ने दोनों घटनाआें का खुलासा करते हुए पांच लोगों को गिरफ्तार कर चालान भेज दिया। अब एक बार फिर स्कूल में सुतली बम रखने की घटना ने पुरानी घटनाआें को ताजा कर दिया है। हर कोई बम रखे जाने की हकीकत जानने के लिए परेशान है।
इनसेट.............
बम स्कूल के पीछे की ओर हैंडपंप के पास था। आशंका है कि नीलगाय आदि भगाने के लिए उसे किसी ने बनाया था। उसे हैंडपंप के पास रख दिया और वह फट गया। उसके अवशेष को प्रयोगशाला भेजा रहा है। मामले की जांच चल रही है।
राधेश्याम विश्वकर्मा
अपर पुलिस अधीक्षक, प्रतापगढ़।

Spotlight

Most Read

Jammu

J&K: पाक ने फिर दागे गोले, 2 नागरिकों की मौत, सरहद पर बने यु्द्ध जैसे हालात

बॉर्डर पर पाकिस्तान ने एक बार फिर से नापाक हरकत की है। जम्मू-कश्मीर में आरएस पुरा सेक्टर में पाकिस्तान की ओर से सीजफायर का उल्लंघन किया है।

19 जनवरी 2018

Related Videos

एसपी के इस पूर्व विधायक के घर कुर्की, एक-एक सामान उखाड़ ले गई पुलिस

इलाहाबाद में पूर्व सांसद और बाहुबली नेता अतीक अहमद के भाई पूर्व विधायक के घर की कुर्की की गई। धूमनगंज थाने की पुलिस ने कोर्ट के आदेश के बाद कुर्की की है। अलक्मा और सुरजीत हत्या मामले में आरोपी अशरफ फरार चल रहा है।

25 दिसंबर 2017

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper