एमडीपीजी में छात्रा ने छत से लगाई छलांग

Pratapgarh Updated Sat, 03 Nov 2012 12:00 PM IST
प्रतापगढ़। आए दिन सुर्खियों में रहने वाले शहर के एमडीपीजी कालेज की एक छात्रा संदिग्ध हालात में शुक्रवार दोपहर बीएससी भवन की छत से बगल में स्थित तिलक कालेज के परिसर में गिर गई। हादसा होते ही साथ में मौजूद छात्राएं भाग खड़ी हुईं। गंभीर हालत में उसे अस्पताल पहुंचाया गया। वह छत में किसलिए गई थी इस बाबत उसने चुप्पी साध रखी है।
नगर कोतवाली के महुआर गांव निवासी हरीकांत पांडेय की बेटी शिवांगी (18) एमडीपीजी कालेज में बीए भाग एक की छात्रा है। वह सहेलियाें के साथ बीएससी भवन की दूसरी मंजिल पर गई थी। इस छत की ओर कालेज की छात्राएं नहीं जातीं। अचानक वह बगल स्थित तिलक इंटर कालेज परिसर की ओर गिर पड़ी तो अन्य छात्राओं ने नीचे आकर लोगाें को घटना की जानकारी दी। इस पर लोग भागकर तिलक कालेज की ओर पहुंचे और उसे उठाकर बाहर लाए। वहां मौजूद महिला सिपाही ने उसे जिला अस्पताल पहुंचाने के बाद परिजनों को सूचना दी। पिता व अन्य परिजन अस्पताल पहुंचे। होश आने पर शिवांगी ने बताया कि वह सहेलियाें के साथ छत पर चली गई थी। अचानक उसे चक्कर आ गया, जिससे वह गिर गई। हालांकि वह छत पर क्यों गई थी, इस बारे में कोई जवाब नहीं दिया।
छात्रा शिवांगी के छत से गिरने के कुछ ही देर बाद एक सुसाइड नोट मिलने की खबर पर सनसनी फैल गई। आनन फानन उस कागज को नष्ट कर दिया गया। कालेज प्रशासन ने उसे खुराफाती छात्रों की करतूत बताया।
छात्रा के गिरने के बाद से ही तरह-तरह की चर्चा होने लगी थीं। कोई उसके छत से कूदने की बात कह रहा था तो कोई गिरने की। दो घंटे बाद घटनास्थल पर एक सुसाइड नोट मिलने की सूचना से सनसनी फैल गई। कागज के टुकड़े पर बाहरी युवकाें से तंग आकर सुसाइड करने की बात कही गई थी। चीफ प्राक्टर एएन मिश्रा मौके पर पहुंचे और कागज को कब्जे में ले लिया। उन्होंने इसे कालेज के ही कुछ छात्राें की करतूत बताते हुए लड़की द्वारा लिखने की बात से इनकार कर दिया। कहा कि छात्रा पूरी तरह से होश में है। वह कोई भी सुसाइड नोट न लिखने की बात कह रही है। चीफ प्राक्टर ने बताया कि उन्हाेंने वह कागज फाड़कर फेंक दिया है। शिवांगी सहेलियों के साथ वहां क्यों पहुंची फिलहाल यह रहस्य बरकरार है।
घटना के समय कथित रूप से साथ मौजूद रहने वाली छात्राआें ने पूरे मामले में चुप्पी साध ली है। वे न केवल साथ मौजूद होने से इनकार कर रही हैं बल्कि उसके साथ कौन था इसकी भी जानकारी उन्हें नहीं है। उनका कहना है कि वह डर के कारण घर भाग आई थीं।
शिवांगी के छत से गिरने के बाद कहा गया कि उसके साथ दो-तीन और छात्राएं थीं। काफी देर बाद उनका नाम सामने आए। वह शहर के अचलपुर की निवासी पूजा पाल और राधा पाल बताई गईं। कालेज प्रशासन के साथ ही अन्य लोग भी उनकी तलाश में जुटे लेकिन उनका कोई अता पता नहीं चला। काफी खोजबीन के बाद पता चला कि वे दोनाें पूर्व सभासद राम आसरे पाल के घर की हैं। दोनाें छात्राआें ने शिवांगी के साथ मौजूद होने की बात से इनकार कर दिया। कहा कि वे दूर थीं और घटना के बाद डर के कारण घर चली आईं। यही नहीं शिवांगी के साथ घटना के समय कौन था, इससे भी अनभिज्ञता जता दी।
शिवांगी का रजिस्टर और आईकार्ड कहां गया, कोई नहीं बता पा रहा है। चीफ प्राक्टर सहित अन्य लोगाें का मानना था कि उसके पर्स में रजिस्टर और आईकार्ड रहा होगा। साथ मौजूद छात्राआें ने उसका सामान लिया होगा लेकिन उनके इनकार करने के बाद घटना का रहस्य और भी गहरा गया।
चीफ प्राक्टर एएन त्रिपाठी का कहना है कि पूजा पाल व राधा पाल के उसके साथ होने की बात बताई जा रही है। अभी घायल छात्रा से ज्यादा पूछताछ नहीं हो सकती। हालत में सुधार होने के बाद वह कुछ बता सकेगी। जहां से वह गिरी है वहां कोई जाता नहीं है।

Spotlight

Most Read

National

'पद्मावत' के विरोध में मल्टीप्लेक्स के टिकट काउंटर में लगाई आग

रात करीब पौने दस बजे चार-पांच युवक जिन्होंने अपने चेहरे ढक रखे थे, मॉल में आए और टिकट काउंटर के पास पहुंच कर उन्होंने हंगामा शुरू कर दिया।

20 जनवरी 2018

Related Videos

एसपी के इस पूर्व विधायक के घर कुर्की, एक-एक सामान उखाड़ ले गई पुलिस

इलाहाबाद में पूर्व सांसद और बाहुबली नेता अतीक अहमद के भाई पूर्व विधायक के घर की कुर्की की गई। धूमनगंज थाने की पुलिस ने कोर्ट के आदेश के बाद कुर्की की है। अलक्मा और सुरजीत हत्या मामले में आरोपी अशरफ फरार चल रहा है।

25 दिसंबर 2017

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper