शहर में चप्पे-चप्पे पर रहेगा खाकी का पहरा

Pratapgarh Updated Tue, 23 Oct 2012 12:00 PM IST
प्रतापगढ़। जिले का ऐतिहासिक भरत मिलाप सकुशल संपन्न कराने के लिए इलाहाबाद और कौशांबी पुलिस भी बुलाई जाएगी। दौ सौ से अधिक जवानों की जरूरत का पत्र अधिकारियों को भेजा गया है।
जिले का ऐतिहासिक भरत मिलाप 26 अक्तूबर की रात होगा। भरत मिलाप की ऐतिहासिकता को देखते हुए जिला प्रशासन ने अभी से ही तैयारियां शुरू कर दी है। भरतमिलाप के लिए इलाहाबाद और कौशांबी से पुलिस बल की मांग की गई है। सीओ सिटी शिवाजी शुक्ल ने बताया कि दौ सौ सिपाही, 50 दरोगा व दो प्लाटून पीएसी के जवान बाहर से ड्यूटी के लिए बुलाए गए हैं। इसके अलावा जिले के एसओ अपनी टीम के साथ मुस्तैद रहेंगे। उन्होंने बताया कि नगर को कई सेक्टरों में बांटा गया है। अलग-अलग एसडीएम और सीओ पुलिस बल के साथ भ्रमण कर हालात पर नजर रखेंगे। उन्हाेंने बताया कि दशहरा और भरतमिलाप के दिन रूट डायवर्ट रहेगा। शहर में आने वाली सड़कों पर यातायात पूरी तरह से प्रतिबंधित रहेगा। दशहरे के दिन शाम पांच बजे से बड़े वाहनों का प्रवेश भुपियामऊ से बंद कर दिया जाएगा। इधर सदर बाजार चौराहे से भी बड़े वाहन प्रवेश नहीं कर सकेंगे। छोटे वाहनों को भी भंगवा चुंगी चौकी के पास से कचहरी की सड़क पर घुमा दिया जाएगा। भरतमिलाप के दिन अपरान्ह तीन बजे से ही बड़े और छोटे वाहनों का प्रवेश बंद हो जाएगा। बड़े वाहनों को भुपियामऊ से होकर पट्टी, कोहंडौर की ओर से भेजा जाएगा जबकि सुल्तानपुर से आने वाले वाहनों को भी कोहंडौर में ही रोक दिया जाएगा। यह आदेश 27 अक्तूबर को सुबह आठ बजे तक प्रभावी रहेगा। छोटे वाहनों को भुपियामऊ से कचहरी और गड़वारा होकर चिलबिला की ओर भेजा जाएगा।
महिलाओं के साथ अश्लील हरकत रोकने के लिए भरतमिलाप पर शहर की गलियों पर बैरीकेडिंग करने के साथ ही चीता मोबाइल की टीम गश्त करेगी। किसी ने शिकायत की तो मनचलों और बदमाशों की धरपकड़ के लिए पुलिस फौरन हरकत में आएगी।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, दोपहर 2 बजे बाद होगा सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

एसपी के इस पूर्व विधायक के घर कुर्की, एक-एक सामान उखाड़ ले गई पुलिस

इलाहाबाद में पूर्व सांसद और बाहुबली नेता अतीक अहमद के भाई पूर्व विधायक के घर की कुर्की की गई। धूमनगंज थाने की पुलिस ने कोर्ट के आदेश के बाद कुर्की की है। अलक्मा और सुरजीत हत्या मामले में आरोपी अशरफ फरार चल रहा है।

25 दिसंबर 2017