सिय ने डाला जयमाल, देवों ने की पुष्पवर्षा

Pratapgarh Updated Sun, 21 Oct 2012 12:00 PM IST
प्रतापगढ़। शहर में चौक के पास विशालकाय मंच पर जयमाल होते ही तालियों की गड़गड़ाहट से समूचा इलाका गूंज उठा। वहां उपस्थित भारी भीड़ ने जयकारे लगाए और देवों ने पुष्पवर्षा की। इस ऐतिहासिक नजारे को देखने के लिए शनिवार की देर रात चौक के आसपास के इलाके में तिल रखने की भी जगह नहीं बची थी। इसके साथ ही वास्तविक जीवन में भी राम (हरेंद्र सिंह) और सीता (सपना सिंह) एक दूसरे के हो गए।
पहली बार रामलीला समिति द्वारा आयोजित राम विवाह के कलाकारों को वास्तविक जीवन में भी साथ होने की व्यवस्था की गई थी। जिस जोड़े की पहले से शादी तय थी उसे ही राम-सीता का पात्र बनाया गया। पूरब की तरफ से पालकी पर राम अपने चारों भाई के साथ चौक केपास बने मंच पर पहुंचे तो रामधुन बजने लगी। राम (हरेंद्र सिंह) को रथ से उतारकर मंच पर लाया गया तो भीड़ ने तालियां बजाकर उनका स्वागत किया। पश्चिम की तरफ से सीताजी (सपना सिंह) भी पालकी पर चढ़कर मंच पर पहुंची। रामधुन के साथ ही मंच को इसके बाद ऊंचा किया जाने लगा। इसके बाद गोल चक्र पर रामसीता को घूमते देख लोगों में श्रद्धा का सागर हिलोरें मारने लगा। सर्वप्रथम सीता माता ने राम केगले में जयमाल डालकर उनका वरण किया। इसके बाद भगवान राम ने जयमाल डाला तो दर्शकों ने तालियों के साथ स्वागत किया। इसके बाद लगभग 10 फिट ऊंचे मंच से राम और सीता ने सभी को आशीर्वाद दिया।
बेल्हा के इतिहास में पहली बार इस तरह की शादी को लेकर लोग ही नहीं इसके पात्र भी अचंभितरहे। जयमाल के दौरान सकुचाई सीता (सपना) की नजरें ऊपर नहीं उठ सकीं।
प्रतापगढ़। भगवान राम के चौक पर आने के बाद भारी भीड़ जमा हो गई। इसके बाद ज्योंहि सीता की पालकी आने की जानकारी लोगों को हुई वे बेकाबू हो गए और उनके दर्शन के लिए धक्का-मुक्की करने लगे। हालत यह हो गई कि श्रृंखला बनाने केबाद भी भीड़ को संभाल पाना कठिन लगने लगा। पालकी जब धीरे-धीरे मंच पर पहुंची तो समिति के लोगों ने किसी प्रकार भीड़ से प्रार्थना कर उन्हें शांत कराया।
राम और सीता का विवाह बेल्हा में ऐतिहासिक हो गया। हरेंद्र और सपना को शायद सपने में भी उम्मीद नहीं रही होगी कि उनके विवाह का साक्षी समूचा शहर बनेगा। इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि राम और सीता भी चौक पर लोगों की श्रद्धा देख ठगे से रह गए।

Spotlight

Most Read

Mahoba

मंडल में जीएसटी की कम वसूली देख अधिकारियों के कसे पेंच

कर चोरी पर अब होगी सख्त कार्रवाई-

19 जनवरी 2018

Related Videos

एसपी के इस पूर्व विधायक के घर कुर्की, एक-एक सामान उखाड़ ले गई पुलिस

इलाहाबाद में पूर्व सांसद और बाहुबली नेता अतीक अहमद के भाई पूर्व विधायक के घर की कुर्की की गई। धूमनगंज थाने की पुलिस ने कोर्ट के आदेश के बाद कुर्की की है। अलक्मा और सुरजीत हत्या मामले में आरोपी अशरफ फरार चल रहा है।

25 दिसंबर 2017

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper