..काले मेघा पानी दे, गुड़ धानी दे

Pratapgarh Updated Mon, 02 Jul 2012 12:00 PM IST
प्रतापगढ़। मानसून की बेरुखी से बेल्हा में सूखे की आशंका गहराती जा रही है। 15 जून से बरसात के लिए आसमान की ओर टकटकी लगाए लोगों में निराशा व्याप्त होने लगी है। फुहारों के लिए तरस रही धरती में गहरी दरारें पड़ रही हैं। वर्षा के लिए चारों तरफ त्राहि-त्राहि मची है। ग्रामीणों ने इंद्र को प्रसन्न करने के लिए तमाम टोटके करने शुरू कर दिए हैं। मानसून न आने से खेती किसानी पूरी तरह बिखरने लगी है। धान की नर्सरी डालकर किसान बारिश के लिए आसमान ताक रहे हैं। धान की रोपाई अधर में लटक गई है। भीषण गर्मी और उमस से परेशान लोगों को राहत की कोई गुंजाइश नजर नहीं आ रही है। दो दिनों से आसमान में सुबह शाम मंडरा रहे बादल बरसने का नाम नहीं ले रहे हैं। सूखे के चलते क्षेत्र के जो तालाब दस वर्षों में कभी नहीं सूखे उनमें भी दरारें नजर आ रही हैं। लोग सूखे की आशंका से सहमे हैं। बारिश के बिना बेहाल लोग इंद्र देवता को प्रसन्न करने के लिए तरह-तरह के टोटके कर रहे हैं।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी में नौकरियों का रास्ता खुला, अधीनस्‍थ सेवा चयन आयोग का हुआ गठन

सीएम योगी की मंजूरी के बाद सोमवार को मुख्यसचिव राजीव कुमार ने अधीनस्‍थ सेवा चयन बोर्ड का गठन कर दिया।

22 जनवरी 2018

Related Videos

एसपी के इस पूर्व विधायक के घर कुर्की, एक-एक सामान उखाड़ ले गई पुलिस

इलाहाबाद में पूर्व सांसद और बाहुबली नेता अतीक अहमद के भाई पूर्व विधायक के घर की कुर्की की गई। धूमनगंज थाने की पुलिस ने कोर्ट के आदेश के बाद कुर्की की है। अलक्मा और सुरजीत हत्या मामले में आरोपी अशरफ फरार चल रहा है।

25 दिसंबर 2017

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper