खस्ताहाल सड़कें बनी वार्ड नौ की पहचान

Pilibhit Updated Mon, 05 May 2014 05:31 AM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
पीलीभीत। वार्ड नौ की तकरीबन 7000 की आबादी को बुनियादी सुविधाएं भी नसीब नहीं हैं। साफ-सफाई की व्यवस्था लड़खड़ा गई है, सफाईकर्मियों की अनदेखी से सड़कों पर गंदगी फैली है और नालियां बजबजा रही हैं। खस्ताहाल सड़कें तो वार्ड की पहचान बन गई हैं।
विज्ञापन

वार्ड नौ में बल्लभनगर कॉलोनी और नई बस्ती आदि इलाके शामिल हैं। इसकी साफ-सफाई की जिम्मेंदारी छह सफाईकर्मियों पर है, लेकिन ये साफ-सफाई के लिए निर्धारित मोहल्लों में ये दर्शन ही नहीं देते। नतीजतन नाली की सिल्ट सड़कों पर पड़ी रहती है। जगह-जगह कूड़े के ढेर भी लगे हुए हैं। लीची बाग के पास लोगों को पेयजल लाइन से पानी ही नहीं मिल पा रहा है।
‘जी का जंजाल’ बनी सड़क
रेलवे पटरी के पास नए शिव मंदिर से रामलीला रोड तक बनी सड़क वार्डवासियों के लिए जी का जंजाल बनी हुई है। सड़क के स्वामित्व को लेकर रेलवे और नगरपालिका के बीच विवाद से इस सड़क की मरम्मत नहीं कराई जा रही है।

फैक्ट फाइल :
कुल वोटर- 3000
आबादी- 7000
प्रमुख समस्याएं- गंदगी और जर्जर सड़कें

क्या कहते हैं बाशिंदे
सफाई के लिए मजूरों की खुशामद
कॉलोनी में साफ-सफाई करने कोई सफाई कर्मचारी आता ही नहीं है। निजी तौर पर साफ-सफाई के लिए मजदूरों की खुशामद करनी पड़ती है। - अमर गुप्ता, बल्लभ नगर
पाइप लाइन से नहीं मिलता पानी
नगरपालिका की पाइपलाइन से पानी नहीं मिलता है, मजबूरन 150 फुट तक बोरिंग करानी पड़ी।- विमला, बल्लभनगर
पता बताने में आती है शर्म
नई बस्ती में सफाई व्यवस्था नाम की कोई चीज ही नहीं है, सभी सड़कों पर कचरे का अंबार लगा रहता है। यहां का पता बताने में भी शर्म आती है।- अजय गंगवार, नई बस्ती
संक्रामक रोग बढ़े
वार्ड की सफाई के लिए सफाई कर्मचारी तैनात है लेकिन वार्ड में कहीं भी सफाई नहीं मिलती है। घर के बाहर से तीन दिन से सिल्ट पड़ी हुई है। - कमल कुमार, पीलीभीत

करा रहे हैं विकास कार्य
वार्ड में विकास कार्य कराए जा रहे हैं। एक दो सड़कों को छोड़कर लगभग सड़कें बनी हुई हैं। कुछ हिस्से में पाइपलाइन नहीं है, शीघ्र ही पाइपलाइन बिछाई जाएंगी।- देवी सिंह, सदस्य, नगरपालिका।
सड़क पर ही छोड़ देते हैं कूड़ा
वार्ड में सफाई व्यवस्था चरमरा गई है, अगर कभी सफाई हो भी गई तो सफाई कर्मचारी कचरा इकट्ठा कर सड़क पर ही छोड़ देते हैं। - संगीता मौर्य, द्वितीय स्थान पर रही प्रत्याशी।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us