आज से ओपीडी सेवाएं ठप करेंगे कर्मचारी

Pilibhit Updated Thu, 21 Nov 2013 05:46 AM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
राज्य कर्मचारियों की हड़ताल नौंवे दिन भी जारी
विज्ञापन

अमर उजाला ब्यूरो
पीलीभीत। राज्य कर्मचारी अधिकार मंच के आह्वान पर बुधवार को भी कर्मचारियों की हड़ताल जारी रही। सिंचाई विभाग परिसर में कर्मचारियों ने धरना देकर प्रदेश सरकार की नीतियों की कड़ी आलोचना की। कर्मचारियों ने यह भी निर्णय लिया कि गुरुवार से ओपीडी सेवाएं ठप कर देंगे।
धरना स्थल पर कर्मचारियों को संबोधित करते हुए डिप्लोमा इंजीनियर्स संघ के जिलाध्यक्ष पवन कुमार ने सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि एस्मा का भय दिखाकर डराना बंद करे। अपने अधिकार के लिए कर्मचारी जेल जाने को भी तैयार हैं, मांगे पूरी होने तक आंदोलन जारी रखा जाएगा। उ.प्र. मेडिकल एंड हेल्थ मिनिस्टीरियल एसोसिएशन के प्रांतीय महामंत्री कुंवर हीरेश सक्सेना ने उच्च न्यायालय के आदेश का स्वागत करते हुए सरकार को सद्बुद्धि देने की ईश्वर से प्रार्थना की। उन्होंने 21 नवंबर को सदर तहसील में कर्मचारियों से एकत्र होकर आंदोलन जारी रखने का आह्वान किया। अमीन संघ के अध्यक्ष राजेंद्र सिंह ने कहा कि कर्मचारियों की मांगों पर सरकार के ध्यान न देने पर जिले भर के कर्मचारी चक्का जाम करने को तैयार हैं। बिजली कर्मचारी संघ के मंडलीय अध्यक्ष अशोक कुमार शर्मा ने कहा कि उत्पीड़न हुआ तो बिजली कर्मचारी भी हड़ताल में कूद जाएंगे। संघर्ष समिति के संरक्षक हरदेव शर्मा ने कहा कि सरकार की हठधर्मिता बरकरार रहने पर कर्मचारी सरकार को उखाड़ फेकेंगे। मेडिकल हेल्थ मिनिस्टीरियल एसोसिएशन के प्रांतीय कोषाध्यक्ष नाहिद खां व जिलाध्यक्ष वासुदेव गंगवार ने मांगे पूरी न होने पर गुरुवार से ओपीडी सेवाएं बाधित करने की घोषणा की। सिंचाई विभाग के निरंजन कुमार ने मांगे पूरी न होने पर गुरुवार से कार्य पूर्ण रूप से बंद करने की घोषणा की। राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के अध्यक्ष हशमुद्दीन खां ने कहा कि सरकार ने समस्या का समाधान न किया तो चक्का जाम किया जाएगा। पीडब्ल्यूडी मिनिस्टीरियल एसोसिएशन के पंकज शर्मा ने आंदोलन तेज करने की चेतावनी दी। अमीन संघ के प्रांतीय संयुक्त मंत्री लालाराम भारती ने कहा कि अमीनों के हड़ताल पर जाने से राजस्व की जो क्षति होगी, इसकी जिम्मेदारी सरकार की होगी। मलेरिया फाइलेरिया कर्मचारी संघ के करन सिंह चौहान ने कहा कि विभाग के सभी कर्मचारी हड़ताल पर हैं। अब आवश्यक सेवाओें को ठप किया जाएगा। चकबंदी लेखपाल संघ के ओमपाल सिंह ने भी चक्काजाम का आह्वान किया। इस मौके पर संग्रह अनुसेवक संघ के अध्यक्ष इंद्रपाल सिंह, मंत्री नत्थूलाल, सिंचाई विभाग के अशोक कुमार, डिप्लोमा इंजीनियर्स संघ के खंडीय अध्यक्ष अनूप कुमार, लेखपाल संघ के बशीर अहमद कदीरी, हरद्वारी लाल, संग्रह अनुसेवक संघ के मंडलीय मंत्री नैनसुख गंगवार आदि ने विचार रखे।
000
इनकी रही उपस्थिति
सभा स्थल पर अजय सक्सेना, रामदेव शर्मा, सुधीर कुमार, सीमा कश्यप, किरण जौहरी,, बबिता, अमरीश कुमार, मोईन खां, एके चाकी, चंद्रिका प्रसाद वर्मा, सतीश, नरेंद्र कुमार सैनी, इंदल सिंह, मनोज कुमार, अवनीश सक्सेना, रमेश, सौरभ सक्सेना, दीपेश कुमार, कमल सक्सेना, गोपाल गिरी गोस्वामी, राजेश शुक्ला, सतीश चंद्र, लाखन सिंह, प्रमोद अग्रवाल, राजीव सिन्हा, सुनील, रामेश्वर, डीके गंगवार, दीवान सिंह समेत अनेक कर्मचारी थे।
000
रणनीति तय करने लखनऊ गए प्रांतीय महामंत्री
उ.प्र. मेडिकल एंड हेल्थ मिनिस्टीरियल एसोसिएशन के प्रांतीय महामंत्री कुंवर हीरेश सक्सेना ने स्वास्थ्य विभाग से जुड़े सभी घटकों की गुरुवार को लखनऊ में बैठक बुलाई है। लखनऊ जाने से पूर्व उन्होंने बताया कि कर्मचारियों से वार्ता कर आंदोलन को और तेज करने का मसौदा तैयार किया जाएगा।
000
हड़ताल से नहरों की सफाई प्रभावित
माधोटांडा। नहरों में क्लोजर का यह अंतिम सप्ताह है और कर्मचारी हड़ताल पर हैं। ठेकेदारों ने हौच-पौच में नहरों पर मरम्मत कार्य शुरू करा दिया हैं। आनन फानन में होने वाली नहरों की सफाई पर अंगुलियां उठने लगी हैं। बता दें कि सेंटर रिजर्व फंड से हेड वर्क्स खंड को बाइफरकेशन के महत्वपूर्ण नहरों की मरम्मत को धनराशि आवंटित की गई थी। तीन चुनिंदा ठेकेदारों को टेंडर प्रक्रिया की औपचारिकताएं पूरी कर अनुबंध किए गए। शारदा मुख्य नहर और हरदोई ब्रांच पर नहरों की कटिंग और वर्म डौला मरम्मत को बांस के खूटे, रेत डाली जा रही है। शारदा सागर डैम की नहरों, माइनरों का भी यही हाल है। हड़ताल के चलते ठेकेदारों ने कही जेसीबी मशीन चलाई है तो कहीं मजदूरों को लगाया है। गेहूूं की रोपाई के बाद अगले सप्ताह से सिंचाई की डिमांड बढ़ जाएगी। ऐसे में आनन फानन कराई जा रही नहरों की सफाई की गुणवत्ता पर सवाल उठना लाजिमी है।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
  • Downloads

Follow Us