दफ्तर के सामने दरी बिछाकर बैठे अध्यक्ष

Pilibhit Updated Tue, 25 Dec 2012 05:30 AM IST
पीलीभीत। गन्ना घटतौली और पर्चियां जारी न होने के खिलाफ गन्ना विकास समिति अध्यक्ष विनोद गंगवार ने सोमवार को समिति दफ्तर के बाहर दरी बिछाकर किसानों से मंथन शुरू कर दिया। दोपहर में समिति गेट पर ताला पड़ गया और कामकाज ठप हो गया। शाम को अध्यक्ष की ओर से प्रतिनिधि मंडल की डीसीओ से वार्ता हुई। बात बनते बनते आखिर में बिगड़ गई। किसान नेताओं ने 28 दिसंबर को आरपार की लड़ाई का ऐलान किया।
गन्ना क्रय केंद्रों और मिल गेट पर घटतौली, किसानों को समय से पर्ची न मिलने और पर्ची के अनुरूप गन्ने की प्रजाति तौल के समय बदले जाने को लेकर पिछले तीन दिन से चल रहे हंगामे का कारगर हल निकालने के लिए गन्ना समिति चेयरमैन विनोद गंगवार ने सोमवार को समिति कार्यालय के बाहर दरी बिछाकर मंथन शुरू कर दिया। दोपहर तक समिति कर्मचारी काम करते रहे। दोपहर बाद अचानक समिति के चैनल पर ताला पड़ गया। समिति सचिव सुधीर कुमार वर्मा ने अध्यक्ष पर समिति के चैनल गेट पर ताला ठाेंकने का आरोप लगाया, जबकि अध्यक्ष श्री गंगवार ने चैनल गेट पर सचिव द्वारा ताला डालने की बात कही गई। इस बीच भारतीय किसान यूनियन के तमाम नेता भी समिति कार्यालय पहुंच गए। उन्होंने भी समिति अध्यक्ष से लंबी मंत्रणा की। शाम को भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष सतविंदर सिंह कहलों, अजायब सिंह, शिव नारायण सिंह चौहान, मंजीत सिंह, गुरजीत सिंह, वेद प्रकाश शर्मा, भजन लाल क्रोधी, अरविंद गंगवार समेत अनेक किसानों ने जिला गन्ना अधिकारी से मुलाकात कर गतिरोध दूर कराने का प्रयास किया, लेकिन डीसीओ ने समिति आकर किसानों की सुनने से इनकार कर दिया। इस पर भाकियू नेताओं ने 28 दिसंबर को आरपार की लड़ाई का ऐलान कर दिया। बाद में डीएम को ज्ञापन देकर भी समस्याओं का निदान न होने पर आंदोलन की चेतावनी दी गई।
00
इस बात पर हो रही थी सहमति
किसानों के प्रतिनिधि मंडल और डीसीओ से वार्ता में एक जनवरी से गन्ने की पर्चियां समिति कार्यालय से निकलवाने, घटतौली की शिकायत पर कांटा बांट माप निरीक्षक के साथ चेकिंग करने और घटतौली पाए जाने पर एफआईआर कराने तथा चीनी मिल प्रशासन के साथ समिति अध्यक्ष के हुए विवाद को सुलह समझौते से निपटाने की सहमति बनी थी।
00
गन्ना समिति अध्यक्ष और चीनी मिल प्रशासन से हुए विवाद के बाद भारतीय किसान यूनियन का प्रतिनिधि मंडल मिलने आया था। उन्होंने मुझे प्रत्यावेदन देकर समस्याओं के निस्तारण को कहा। समस्याओं के समाधान में सभी का सहयोग जरूरी है। समिति में बेहतर माहौल बनने पर ही किसानों के हित में बेहतर ढंग से काम हो सकेगा।
ओम प्रकाश यादव, जिला गन्ना अधिकारी।
00
अध्यक्ष के आरोप बेबुनियाद
एलएच चीनी मिल में घटतौली और कर्मियों द्वारा गन्ना समिति अध्यक्ष से मारपीट करने का आरोप गलत है। किसानों का शोषण मिल नहीं कर रही है। कुछ असामाजिक तत्व गन्ना आपूर्ति में बाधा डालकर औने-पौने दामों पर गन्ना खरीदना चाहते हैं। ऐसी गतिविधियों को रिकार्ड करने के लिए चीनी मिल प्रशासन ने यार्ड में सीसीटीवी कैमरे लगवाए हैं।
राजीव अग्रवाल, जीएम एचआर।
---------------------------
गौहनिया वालों ने फूंका जीएम का पुतला
24 पीबीटीपी 16
चीनी मिल को गन्ना आपूर्ति के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले गौहनिया मार्ग और चिड़िया दाह के लोग काफी परेशान हैं। सोमवार को रालोद नगर अध्यक्ष हरीराम शर्मा के नेतृत्व में गुस्साए लोगों ने गौहनिया चौराहे पर चीनी मिल के जीएम का पुतला दहन करते हुए किसानों के शोषण का आरोप लगाया। प्रदर्शनकारियों का कहना था कि मिल में घटतौली कर किसानों का शोषण किया जा रहा है। प्रशासन इसे रोक नहीं पा रहा है। प्रदर्शन करने वालों में हरीराम शर्मा, खरगसेन, आबिद, मोबीन अहमद, रेहान, मोहम्मद नबी, रिजवान, सेरा खन्ना, कपिल, रोहित, रूपलाल, गंगा, सुनील शर्मा व राजू शर्मा समेत काफी लोग थे।

Spotlight

Most Read

Lucknow

डीजीपी ने हनुमान सेतु मंदिर में मांगी प्रदेश के लिए कामना तो 'भगवान' ने दिया आशीर्वाद

लंबे इंतजार के बाद प्रदेश के नवनियुक्त डीजीपी ओपी सिंह मंगलवार सुबह राजधानी पहुंचे। एअरपोर्ट से निकलने के बाद सबसे पहले वह राजधानी के सबसे वीवीआईपी मंदिर हनुमान सेतु मंदिर पहुंचे।

23 जनवरी 2018

Related Videos

पीलीभीत पुलिस को हाथ लगी बड़ी सफलता, धर दबोचा ये शातिर गैंग

यूपी के पीलीभीत में पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है। पीलीभीत पुलिस ने कई राज्यों में वाहन चोरी को अंजाम दे रहे एक बड़े गैंग का धर दबोचा है। देखिए ये रिपोर्ट।

11 दिसंबर 2017

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper