अतिक्रमण हटाने को लगेंगे लाल निशान

Pilibhit Updated Wed, 12 Dec 2012 05:30 AM IST
पीलीभीत। शहर को अतिक्रमण मुक्त करने के लिए मंगलवार को प्रशासन, पालिका और व्यापारियों की संयुक्त बैठक हुई। स्थायी अतिक्रमण हटाने के लिए अतिक्रमित क्षेत्रों को चिन्हित कर लाल निशान लगाने का निर्णय लिया गया।
पालिका परिसर में सिटी मजिस्ट्रेट डॉ एमएम खान की अध्यक्षता में हुई बैठक में व्यापारियों ने कहा कि प्रशासन जब भी अतिक्रमण विरोधी अभियान चलाए, व्यापारियों को इसकी सूचना होनी चाहिए। कुछ व्यापारियों ने शहर में होने वाले स्थाई अतिक्रमण के लिए पालिका को दोषी ठहराया। उनका कहना था कि जब स्थायी अतिक्रमण होता है, तो पालिका प्रशासन अनदेखी करता है। इससे उस पर संदेह होता है। व्यापारियों ने राम स्वरूप पार्क के बाहरी क्षेत्र में किए गए स्थायी अतिक्रमण को भी हटाने की मांग रखी। साथ ही स्टेशन चौराहे से छतरी चौराहा और गौहनिया चौराहा तक फड़ खोखे लगाने वालों को शहर में कहीं स्थान देने की मांग रखी गई। सिटी मजिस्ट्रेट ने कहा कि स्थायी अतिक्रमणों को पालिका चिन्हित कराए। अतिक्रमणकारियों को नोटिस दे। इसके बाद उसे तुड़वाया जाएगा। नालों पर हुआ अतिक्रमण भी हटेगा। अभियान का पहला चरण नौगवां चौराहे से जेपी रोड होते हुए बेलों वाले चौराहे तक, दूसरे चरण में कोतवाली से रेलवे स्टेशन तक, तीसरे चरण में बिजली घर से नकटादाना तक अभियान चलाया जाएगा। बैठक में पालिका अध्यक्ष प्रभात जायसवाल, ईओ हमेराज, व्यापार मंडल के महामंत्री अफरोज जिलानी, निजामउद्दीन अंसारी, रमेश गुप्ता, राजेश अग्र्रवाल, जितेन्द्र गुप्ता, संजय अग्रवाल, संजीव मोहन अग्रवाल समेत अनेक व्यापारी मौजूद रहे।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

पीलीभीत पुलिस को हाथ लगी बड़ी सफलता, धर दबोचा ये शातिर गैंग

यूपी के पीलीभीत में पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है। पीलीभीत पुलिस ने कई राज्यों में वाहन चोरी को अंजाम दे रहे एक बड़े गैंग का धर दबोचा है। देखिए ये रिपोर्ट।

11 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls