कई जगह घरों के ऊपर नाच रही मौत

Pilibhit Updated Sun, 28 Oct 2012 12:00 PM IST
पीलीभीत। पिछले दिनों जहानाबाद में प्राइवेट बस के ऊपर हाईटेंशन लाइन गिरने से आठ लोगों की मौत यहां पर कोई बड़ी घटना का संकेत कर रही है। जिले में घरों के ऊपर से हाइटेंशन लाइनें मौत बनकर नाच रही है। इन हाइटेंशन लाइनों के गुजरने से यहां पर रहने वाले हर समय खौफजदा रहते हैं। विभाग के अधिकारियों से कई बार स्थानीय लोगों ने इसकी शिकायत की लेकिन नतीजा सिफर ही निकला।
शहर के 132 केबीए रूपपुर कमालू सब स्टेशन से 33 हजार केवीए की लाइन नकटादाना से होती हुई राजीव कालोनी की तरफ जा रही है। इस घनी बस्ती में करीब बीस हजार से अधिक की आबादी है। यहां पर शहर के नर्सिंगहोम के अलावा प्राइवेट स्कूल कॉलेज भी है। यह सिलसिला यहीं रुकता है। शहर के डिग्री कॉलेज रोड के समीप 11 हजार केवीए की लाइन जा रही हैै। शहर के अति व्यस्ततम चौराहे में एक डिग्री कॉलेज के पास हर समय भीड़भाड़ भी रहती है। कई मुहल्ले इसमें आते है। जिन दिन कोई तार टूटकर गिर गया तो कोई बड़ी घटना हो सकती है।
बिलसंडा। ब्लाक के समीप स्थित विद्युत उपकेंद्र के लिए पहुंची विद्युत लाइन शिक्षक इतवारी सिंह यादव के मकान के ऊपर से गुजरी है। इस लाइन को हटवाने के लिए कई बार शिक्षक द्वारा प्रयास किया गया लेकिन अधिकारियों ने नहीं सुनीं।
पूरनपुर। नगर के मुहल्ला पटेल नगर, रामनगर, शिवाजी नगर, दुबे, ग्यासपुर, दुर्गाप्रसाद, बाजार कटरा, रामलीला कालोनी, बख्ताबर लाल, एकता नगर, गांधी नगर, रामबंगला, शास्त्री नगर, हबीबुल्ला खां शुमाली और हबीबुल्ला खां जनूबी आदि मोहल्लों के दर्जनों घरों के ऊपर से और अक्सा इंटर कॉलेज समेत कुछ शिक्षण संस्थाओं के ऊपर से हाईटेंशन लाइन गुजरती है। इस हाईटेंशन लाइन से लोगों को भारी खतरा बना हुआ है। घरों के लोगों और शिक्षण संस्थाओं के प्रबंधकों, अभिभावक ने कई बार शिकायतें की है, लेकिन कर्मचारियों ने कोई संतोषजनक जवाब नहीं दिया।
ट्रिपिंग रिले कितनी है कामयाब
हाइटेंशन लाइनों के तार टूटने पर कंट्रोल पर लगी ट्रिपिंग रिले ऑटोमैटिक शट डाउन होने का प्रावधान है। विभागीय अधिकारियों का मानना है कि जैसे ही तार जमीन पर टच होता है। ट्रिपिंग रिले अपने आप शट डाउन हो जाती है। लेकिन यह रिले पैनल डाउन पर कार्य कर रही है। इस पर शंका है।
हाईटेंशन लाइनों के मामले में गलती विभाग की नहीं है। यहां लाइन पहले से जा रही थी। मकान लोगों ने बाद में बनवाए है। जिन-जिन उपभोक्ताओं के घरों के ऊपर से हाइटेंशन लाइनें गुजर रही है। उन्हें स्टीमेट के अनुसार उपभोक्ताओं को धनराशि जमा करनी होगी। तभी लाइन दूसरी जगह शिफ्ट करायी जा सकती है।
अखिलेश कुमार श्रीवास्तव, अधिशासी अभियंता

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी में नौकरियों का रास्ता खुला, अधीनस्‍थ सेवा चयन आयोग का हुआ गठन

सीएम योगी की मंजूरी के बाद सोमवार को मुख्यसचिव राजीव कुमार ने अधीनस्‍थ सेवा चयन बोर्ड का गठन कर दिया।

22 जनवरी 2018

Related Videos

पीलीभीत पुलिस को हाथ लगी बड़ी सफलता, धर दबोचा ये शातिर गैंग

यूपी के पीलीभीत में पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है। पीलीभीत पुलिस ने कई राज्यों में वाहन चोरी को अंजाम दे रहे एक बड़े गैंग का धर दबोचा है। देखिए ये रिपोर्ट।

11 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper