विज्ञापन
विज्ञापन

ट्रैंकुलाइज शॉट के बाद भी बच निकला बाघ

Pilibhit Updated Thu, 13 Sep 2012 12:00 PM IST
ख़बर सुनें
पूरनपुर। बुधवार को बाघ पकड़ने को चले पांच घंटे तक चले अभियान में उसे ट्रैंकुलाइज शॉट लगा, लेकिन बाघ फिर भी बच निकला। शॉट पड़ते ही वह दहाड़ने के साथ छलांग लगाकर खेतों में गायब हो गया। करीब डेढ़ घंटे तक एक्सपर्ट और वन विभाग के कर्मचारी लोगों के साथ बाघ को गन्ने के खेत में ढूंढ़ते रहे, लेकिन बाघ का कहीं पता नहीं चला।
विज्ञापन
विज्ञापन
बुधवार को गांव जटपुरा के दक्षिण में अभिलाप सिंह और बूटा सिंह के गन्ने के खेत से निकले बाघ को गांव के बिट्टू सिंह ओर ब्रजनंदन ने देखा, इसकी सूचना वन विभाग की टीम को देने पर शाहजहांपुर के डीएफओ एपी सिन्हा, हरीपुर के रेंजर जगन्नाथ प्रसाद अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंचे। बाघ के ताजे पद चिन्ह मिलने पर खेत की घेराबंदी कर दी गई। हाथियों पर सवार होकर एक्सपर्ट डॉ सौरभ सिंघई खेत में घुसे। करीब पौने दो घंटे की मशक्कत के बाद बाहर निकले एक्सपर्ट और वन विभाग के अफसरों ने बाघ के खेत में न होने की जानकारी दी। शाहजहांपुर डीएफओ का कहना था कि अगर बाघ होता तब हाथी संकेत दे देते। अभियान बंद कर एक्सपर्ट और वन विभाग के अफसर हरीपुर रेंज चले गए। डीएफओ ने जिस खेत मेें बाघ न होने की जानकारी दी थी। उसी से निकलकर बाघ सड़क पार करता हुआ विजय प्रकाश के खेत में प्रवेश कर गया। इस पर शोर-शराबा कर लोगोें ने खेत को घेर लिया। साथ ही भाकियू नेता मंजीत सिंह और प्रधान जटपुरा विपिन सिंह के नेतृत्व में ग्रामीणों ने हरीपुर रेंज चौकी में हंगामा किया। इस पर एसडीएम राम प्रकाश के हस्तक्षेप पर दुबारा पहुंचे एक्सपर्ट ने बाघ को देखकर उसके ट्रैंकुलाइज गन से शॉट मारा। शॉट लगते ही बाघ दहाड़ा और छलांग लगाकर गन्ने के खेत मेें गायब हो गया। करीब डेढ़ घंटे तक एक्सपर्ट टीम ग्रामीणों के साथ बाघ को गन्ने के खेत में ढ़ूढ़ते रहे, लेकिन बाघ नहीं मिल सका।
000000000
हाथी समय से पहुंचते तब मिल जाता बाघ
पूरनपुर। बुधवार सुबह चले अभियान के बाद हाथियों को भी हरीपुर रेंज कार्यालय भेज दिया गया था। दुबारा चले अभियान मेें एक्सपर्ट और अधिकारी पहुंच गए, लेकिन हरीपुर रेंज से रवाना किए गए हाथी मौके पर नहीं पहुंच पाए। इस बीच डीएफओ की गाड़ी से एक्सपर्ट ने बाघ को गन्ने के खेत के किनारे ट्रैंकुलाइज शॉट दिया। शॉट देने के करीब बीस मिनट बाद हाथी मौके पर पहुंच सके। इससे बाघ की तलाश में गन्ने के खेत में दहशत के चलते एक्सपर्ट और अन्य लोग नहीं घुस सके। यदि हाथी मौके पर मौजूद होते तो बाघ नहीं निकल सकता था।
2
डीएफओ का घेराव कर सुनाई खरी-खोटी

पूरनपुर। डीएफओ शाहजहांपुर ने गन्ने के खेत में बाघ न होने की बात कही तो लोग भड़क उठे। उत्तेजित लोगों ने डीएफओ की गाड़ी का घेराव कर लिया। उत्तेजित लोगों का कहना था कि वे लोग खेत में बाघ न होना मान रहे हैं, लेकिन जब बाघ नहीं तो खेत में वनकर्मियों को आगे घुसाएं पीछे वे लोग भी चलते है। इस पर डीएफओ का कहना था कि वे किसी को ऐसी अनुमति नहीं दे सकते। उत्तेजित ग्रामीणों का कहना था कि बाघ पकड़ने को केवल औपचारिकता अब बर्दास्त नहीं की जाएगी। बाद में प्रधान जटपुरा विपिन सिंह, शेरपुर कलां के इबादतनूर खां समेत कुछ लोगों के हस्तक्षेप से लोगोें ने डीएफओ को जाने दिया।
00000000
मोबाइल स्वीच आफ करने से भड़के लोग
पूरनपुर। खेत में बाघ होना लोग तय मान रहे थे। दुबारा बाघ देखे जाने पर प्रधान सहित कई प्रमुख लोगों ने वन विभाग के अफसरों को सूचना देने को फोन मिलाया। वन विभाग के अफसरों के मोबाइल स्वीच बंद होने पर लोग भड़क उठे। भाकियू नेता मंजीत सिंह ने इसकी शिकायत मोबाइल पर डीएम से की।
000000000
पांच से 55 मिनट तक रहता है बेहोश : डॉ सौरभ

पूरनपुर। ट्रैंकुलाइज एक्सपर्ट डॉ सौरभ सिंघई ने बताया कि बाघ पर नजर पड़ते ही उसे ट्रैंकुलाइज कर दिया था। गन्ने की पत्तियां बीच में पड़ने को लेकर हार्ट शार्ट मारा। उन्होंने बताया कि शाटपड़ने के बाद बाघ पांच मिनट तक भागता है। इसके बाद 55 मिनट तक बेहोश रहता है। फिर पंद्रह मिनट बाद सामान्य सा हो जाता जाता है। जबकि पूरी तरह से सामान्य स्थिति इसके भी एक घंटा बाद होती है। उन्होंने बताया कि बाघ को तगड़ा शार्ट लगा है। इससे अगर वह भागने वाला होगा तब जंगल की ओर भाग जाएगा।
000000
नीलगाय का पीछा करते हुए पहुंचा था
पूरनपुर। गन्ने के खेत में छिपा बाघ नीलगाय का पीछा करते हुए गन्ने के खेत के किनारे पहुंचा था। नीलगाय के रंभाने की आवाज पर एक्सपर्ट गाड़ी पर सवार होकर गन्ने के खेत के पास जा पहुंचे थे और बाघ को ट्रैंकुलाइज शाट मार दिया।
000000000
कब क्या हुआ-
सुबह 7.00 बजे : खेत से निकला बाघ दिखा।
7.30 बजे : वन विभाग की टीम पहुंची।
8.15 बजे : खेत के पूर्वी तरफ लगा दिया गया जाल।
9.40 बजे : पवनकली और गंगाकली हथिनी पहुंची।
10.00 बजे : हाथियों पर सवार ट्रैंकुलाइज एक्सपर्ट खेत में घुसे।
11.00 बजे: बाघ के खेत में न होने की जानकारी दी।
11.30 बजे: डीएफओ का लोगों ने किया घेराव।
1.00 बजे: गन्ने के खेत से निकला बाघ। खेत घेरा।
1.20 बजे: डीएम को वन विभाग के अफसरों के मोबाइल बंद होने की दी गई सूचना।
1.40 बजे: हरीपुर रेंज कार्यालय में लोगों का हंगामा।
2.50 बजे: एक्सपर्ट टीम मौके पर फिर पहुंची।
4.10 बजे : बाघ को मारा गया ट्रैंकुलाइज शॉट।
4.30 बजे : दोबारा मौके पर पहुंचे हाथी। खोज शुरू।
5.30 बजे तक : गन्ने के खेत में ढूंढ़ा गया बाघ।
6.00 बजे : एक्सपर्ट बोले, अब नहीं मिल पाएगा बाघ।
00000000000000
एक और दिखा बाघ
अमरैयाकलां। अमरैयाकलां-रंपुरा फकीरे के रास्ते पर गोपालपुर माइनर की ओर बाघ देखा गया। गांव सबलपुर के डोरी लाल अपने खेत की सिंचाई कर रहे थे। बाघ पर नजर पड़ते ही वे शोर करते हुए भाग खड़े हुए। इस पर तमाम ग्रामीण एकत्र हुए, लेकिन तब तक बाघ खेतों में छिप कर लुप्त हो गया।
00000000
बाघ आने से दहशत
माधोटांडा। मंगलवार की शाम सात बजे कस्बे की आबादी से सटे हाजी रहमत खां के बाग में बाघ आ धमका। अंधेरे में सुअर के चीखने पर लोगों ने टार्च की रोशनी में बाघ देखा तो शोर मचने लगा। इससे रात भर दहशत रही।
000000000
बाघ पकड़ने को रामदेव समर्थको का अनशन जारी

पूरनपुर। बाघों के आतंक से निजात दिलाने सहित विभिन्न मांगों को लेकर बाबा रामदेव समर्थक चेतन्य देव का आमरण अनशन दूसरे दिन भी जारी रहा। गायत्री परिवार और प्रगतिशील अधिवक्ता एसोसिएशन ने अनशन का समर्थन किया है। समस्याओं का निराकरण न होने पर वकीलों ने निंदा करते हुए न्यायिक कार्य से विरत रहकर अनशन स्थल पर बैठे। एसडीएम ने अनशन स्थल पहुंचकर वार्ता की और ज्ञापन देकर अनशन समाप्त करने की अपील की।

Recommended

Uttarakhand Board 2019 के परीक्षा परिणाम जल्द होंगे घोषित, देखने के लिए क्लिक करें
Uttarakhand Board

Uttarakhand Board 2019 के परीक्षा परिणाम जल्द होंगे घोषित, देखने के लिए क्लिक करें

शनि जयंती के अवसर पर शनि शिंगणापुर में शनि को प्रसन्न करने के लिए तेल अभिषेकम्
ज्योतिष समाधान

शनि जयंती के अवसर पर शनि शिंगणापुर में शनि को प्रसन्न करने के लिए तेल अभिषेकम्

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

लोकसभा चुनाव में किस सीट पर बदल रहे समीकरण, कहां है दल बदल की सुगबुगाहट, राहुल गाँधी से लेकर नरेंद्र मोदी तक रैलियों का रेला, बयानों की बाढ़, मुद्दों की पड़ताल, लोकसभा चुनाव 2019 से जुड़े हर लाइव अपडेट के लिए पढ़ते रहे अमर उजाला चुनाव समाचार।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Bareilly

तीन तलाक पीड़िता का हाथ थामा तो मिलीं धमकियां, धर्म परिवर्तन कर मंदिर में रचाई शादी

पीलीभीत की तीन तलाक पीड़िता रेशमा ने बुधवार को धर्म परिवर्तन कर पीलीभीत के ही दीपू से बरेली के मंदिर में शादी कर ली। वह नाम बदलकर रेशमा से रानी बन गई है।

17 मई 2019

विज्ञापन

#Votekaro: सरकारी अधिकारी लू के थपेड़ों से बचने के लिए कर रहे प्याज का इस्तेमाल

चुनाव अधिकारी भरी गर्मी में मतदान करवाने में जुटे हैं। गर्मी के थपेड़ों से निपटने के लिए इन अधिराकियों ने प्याज का सहारा लिया है। देखिए कैसे,

19 मई 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election