अपराधियों को जरा भी नहीं पुलिस का खौफ

Pilibhit Updated Mon, 10 Sep 2012 12:00 PM IST
बीसलपुर। दिन दहाड़े हुई इंजीनियर अरविंद की हत्या से नगर समेत आसपास के इलाकों में सनसनी फैली है। पत्नी रीना और उनके परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। चार माह पूर्व दांपत्य जीवन में बंधी रीना की मेंहदी अभी छूटी भी नहीं थी कि हमलावरों ने उसकी मांग से सिंदूर ही मिटा दिया।
नगर के मोहल्ला दुर्गा प्रसाद निवासी अरविंद की गोलीमार कर हत्या होने की खबर जब फैली तो नगर समेत आसपास के इलाके में सनसनी फैल गई, जिसने सुना वह घटनास्थल की ओर दौड़ पड़ा। अरविंद की पत्नी रीना का का रो-रोकर बुरा हाल था। चार माह पूर्व ही अरविंद की शादी बरेली जिले के कसबा नवाबगंज निवासी रीना से हुई थी। इंजीनियर पति पाकर वह बेहद खुश थी। रविवार को वह बाइक से पति के साथ मायके से घर लौट रही थी। कि हमलावरों ने पति की हत्या कर उसकी खुशियां छीन लीं। उसके संजोए भविष्य के सारे सपने एक ही झटके में चूर-चूर हो गए। अपनी आंखों के सामने पति की हुई हत्या से वह बदहवाश हैं। रोते- रोते उसकी आंखों के आंसू सूख चुके हैं। वह रोते-रोते खामोश होती है फिर अचानक दहाड़े मारकर रो पड़ती है।
बाक्स
अरविंद की हत्या से टूट गए परिजन
गांव रुरिया निवासी बेसिक शिक्षक छत्रपाल गंगवार के दो पुत्र और एक पुत्री है। बड़े पुत्र अरविंद की हत्या के बाद परिजन टूट गए हैं। छोटा पुत्र गुड्डू मंद बुद्धि है। पुत्री का विवाह हो चुका है। छत्रपाल जल्द सेवानिवृत्त होने वाले हैं। पूरे घर का दारोमदार अरविंद पर ही था। इंजीनियर बेटे की मौत से उनके पिता छत्रपाल और माता सुमित्रा देवी पूरी तरह टूट गए हैं। छत्रपाल ने बताया कि गांव में रहने वाले उनके परिवार के ही कुछ लोग काफी समय से बेवजह परेशान करते थे। उनसे कोर्ट में मुकदमेबाजी भी चल रही है। रोज रोज के लड़ाई झगड़े से बचने के लिए नगर के मोहल्ला दुर्गा प्रसाद में अपना दूसरा घर बना लिया था। वह परिजनों के साथ ज्यादातर नगर वाले मकान में ही रहते थे।
0
इस साल 14 हत्याओं से थर्राए इलाके
04 जनवरी : सर्राफ राकेश वर्मा की लूटपाट के बाद गोली मारकर हत्या कर दी गई।
07 मार्च : गांव उगनपुर मरौरी के महेश कश्यप की गर्दन काटकर हत्या।
08 मार्च : गांव मुसेली निवासी रंगीलाल विश्वकर्मा को गोली मारकर हत्या।
12 मार्च : गांव बिचपुरी निवासी पंकज गंगवार की कुछ लोगों ने गला काटकर हत्या।
21 मई : गांव भैंसटा जलालपुर में अनंगपाल की गोली मारकर हत्या।
27 मई : गांव नगरिया फतेहपुर निवासी छोटेलाल का अपहरण करने के बाद गोली मारकर हत्या।
30 मई : सरकारी अस्पताल के वार्ड व्याय राहुल मिश्रा की गोली मारकर हत्या।
04 जून : गांव रोहनिया निवासी रामपाल शर्मा की पुत्री मैना देवी की गला दबाकर हत्या।
05 जुलाई : मोहल्ला हबीबुल्ला खां जनूबी निवासी जूस विक्रेता मोहम्मद हसीन की दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या।
19 जुलाई : बरेली रोड पर देवहा नदी के पुल पर गश्त कर रहे सिपाही गिरीश पाल को बदमाशों ने गोली मारकर घायल किया।
22 जुलाई : गांव गोवल निवासी भगवान दास की गोली मारकर हत्या।
30 जुलाई : गांव अमृता खास निवासी राकेश राना के 14 वर्षीय पुत्र राहुल की गला दबाकर हत्या।
31 जुलाई : मोहल्ला बख्तावर लाल निवासी सर्राफ राहुल रस्तोगी की बदमाशों ने लाखों की संपत्ति लूटने के बाद गोली मारकर हत्या।
14 अगस्त : मोहल्ला बाजार कटरा निवासी सेवानिवृत्त स्वास्थ्य निरीक्षिका रामेश्वरी देवी के घर से 32 लाख की संपत्ति लूटने के बाद गोली मारकर हत्या।
16 अगस्त : करमापुर माफी निवासी फखरूद्दीन की गोली मारकर हत्या।
000

समय पर होता इलाज तो बच जाती मंगू की जान
घायल को तीन घंटे बाद अस्पताल लाई पुलिस
बरखेड़ा। कसबे के मोहल्ला गोपी कॉलोनी में हुए मंगली हत्याकांड में पुलिस की लापरवाही उजागर हुई है। मौके पर पहुंची पुलिस यदि उसे तुरंत अस्पताल में भर्ती करा देती तो उसकी जान बचाई जा सकती है। मृतक की पत्नी पुलिस वालों पर चीख चीख कर लापरवाही बरतने का आरोप लगा रही थी।
ढकिया निवासी मंगली प्रसाद एक दशक से कस्बे की गोपी कॉलोनी में पत्नी गुड्डी देवी एवं नौ वर्षीय पुत्री रिंकी के साथ रह रहे थे। शनिवार की रात करीब एक 11.30 बजे पड़ोसी प्रेमपाल उर्फ रोशन लाल निवासी विजासन थाना क्योलड़िया जिला बरेली ने घर में घुसकर तमंचे से उसके गोली मार दी। सूचना पर दो सिपाही मौके पर पहुंचे। मामूली चुटहिल होने की बात कह वापस लौट गए। उसकी जांघ से खून बहता रहा। मृतक की पत्नी गुड्डी कह रही थी, कि पुलिस पति को समय से अस्पताल भिजवा देती तो उसकी मौत न होती। गुड्डी कहती है कि पुलिस वालों ने पति को जबरन उठाकर बैठा दिया। भोर करीब चार बजे हालत गंभीर होने की सूचना देने पर आए सिपाही ठेली से लादकर उसे थाने लाए। आरोप है कि उसके पति ने थाने पर ही दम तोड़ दिया था। मृतक की नौ वर्षीय पुत्री रिंकी हैं। पिता का साया सिर से उठने के बाद मां-पुत्री का रो-रोकर बुरा हाल है।
00
सात वर्ष पूर्व प्रेम विवाह बनी हत्या की वजह
एसओ हरेंद्र पाल सिंह ने बताया कि सात वर्ष पूर्व मृतक मंगली प्रसाद के साले सरोवर ने हत्यारोपी प्रेमपाल उर्फ रोशन लाल की पुत्री से पुत्री गुड्डी से प्रेम विवाह कर लिया था। इसी वजह से वह मंगली प्रसाद से रंजिश मानने लगा। इसी रंजिश के चलते शनिवार की रात उसकी गोली मार कर हत्या कर दी गई।
वर्जन
पुलिस घायल को तुरंत पीएचसी लाई। डॉक्टर न होने पर घायल का इलाज नहीं हो सका। वहां के कर्मचारियाें ने उसे जिला अस्पताल रेफर किया था। संसाधन की व्यवस्था के दौरान उसकी मौत हो गई। मृतक की पत्नी के आरोप गलत हैं।
डॉ अरविंद भूषण पांडे, एएसपी

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी में नौकरियों का रास्ता खुला, अधीनस्‍थ सेवा चयन आयोग का हुआ गठन

सीएम योगी की मंजूरी के बाद सोमवार को मुख्यसचिव राजीव कुमार ने अधीनस्‍थ सेवा चयन बोर्ड का गठन कर दिया।

22 जनवरी 2018

Related Videos

पीलीभीत पुलिस को हाथ लगी बड़ी सफलता, धर दबोचा ये शातिर गैंग

यूपी के पीलीभीत में पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है। पीलीभीत पुलिस ने कई राज्यों में वाहन चोरी को अंजाम दे रहे एक बड़े गैंग का धर दबोचा है। देखिए ये रिपोर्ट।

11 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper