इलाज में रोड़ा बना स्टाफ का टोटा!

Pilibhit Updated Fri, 31 Aug 2012 12:00 PM IST
पीलीभीत। जिले में संक्रामक रोगों के साथ दिमागी बुखार ने दस्तक दे दी है। सरकारी अस्पतालों पर रोगियों की भारी भीड़ उमड़ रही है। संसाधनों का अभाव और स्टाफ की कमी से अस्पताल प्रशासन मरीजों को बेहतर चिकित्सा सुविधा मुहैया नहीं करा पा रहा है। हालांकि महकमा प्रशासन संक्रामक रोगों से निपटने को पुख्ता इंतजाम होने का दावा कर रहा है।
बरसात के मौसम में आई फ्लू, वायरल बुखार, मलेरिया और दिमागी बुखार सहित कई संक्रामक रोग पनपने लगते हैं। अगस्त से लेकर नवंबर तक खासतौर पर जानलेवा दिमागी बुखार के रोगियों की संख्या तेजी से बढ़ने लगती है। इन दिनों जिला अस्पताल की ओपीडी में भारी भीड़ उमड़ रही है। यही आलम प्राइवेट अस्पतालों का है।
तीन दिन पूर्व जिला अस्पताल की इमरजेंसी में भर्ती हुए दिमागी बुखार के पूरनपुर के बिलसंडा के गांव लालपुर मुड़िया निवासी पांच वर्षीय खुशबू और दीननगर न्यूरिया निवासी जुवैद जिलानी भर्ती हैं। भर्ती बच्चों में दिमागी बुखार के लक्षण मिलने से अस्पताल प्रशासन में हड़कंप मच गया है। जिला अस्पताल में स्टाफ और संसाधनों का टोटा है। रेडियोलॉजिस्ट, आर्थोपेडिक सर्जन और फिजीशियन के दो पद है, लेकिन आर्थोपेडिक सर्जन व पैथालोजिस्ट एक-एक ही तैनात हैं। इमरजेंसी में ईएमओ के चार पद सृजित हैं, लेकिन सभी पद रिक्त हैं। छह चीफ फार्मासिस्ट के स्थान पर तीन, दो के स्थान पर एक चाइल्ड स्पेशलिस्ट तैनात है। कमोवेश यही हालत बीसलपुर, पूरनपुर, बिलसंडा सीएचसी पर भी है। ऐसे में बेहतर सुविधा उपलब्ध हो पाना नामुमकिन हो रहा है।
00000000
15 दिनों में हुईं पांच मौतें
क्र.सं मृतक उम्र पिता का नाम स्थान
1. रामलखन 14 बालकराम दिलावरपुर (पूरनपुर)
2. रमेश 12 नरेश कुमार सुहास (बरखेड़ा)
3. महशरजहां 5 शमसुल भगवंतापुर (पूरनपुर)
4. सोनम 14 गुड्डू सिंह करेली (बिलसंडा)
5. बृजलाल सिंह 45 नवदिया धनेश (पूरनपुर)
0000000000
दिमागी बुखार के लक्षण
0 तेज बुखार आना
0 बेहोश हो जाना
0 गर्दन नीचे की ओर न झुकना
0 उल्टी होना
बचाव
0 सोते वक्त मच्छरदानी का प्रयोग करें
0 उबले पानी का सेवन करें
0 तेज बुखार पर डाक्टरों की सलाह लें।
00000000
वर्जन
जिला अस्पताल में संक्रामक रोग कक्ष बना दिया गया है। पर्याप्त दवाएं और चिकित्सकों की व्यवस्था है। डॉक्टरों की कमी इमरजेंसी में हैं, लेकिन फिर भी बेहतर सुविधाएं उपलब्ध कराने के प्रयास किए जा रहे हैं।
डॉ केके शर्मा, कार्यवाहक सीएमएस, जिला अस्पताल

Spotlight

Most Read

National

सियासी दल सहमत तो निर्वाचन आयोग ‘एक देश एक चुनाव’ के लिए तैयार

मध्य प्रदेश काडर के आईएएस अधिकारी और झांसी जिले के मूल निवासी ओपी रावत ने मंगलवार को मुख्य चुनाव आयुक्त का कार्यभार संभाल लिया।

24 जनवरी 2018

Rohtak

बिजली बिल

24 जनवरी 2018

Rohtak

नेताजी

24 जनवरी 2018

Related Videos

पीलीभीत पुलिस को हाथ लगी बड़ी सफलता, धर दबोचा ये शातिर गैंग

यूपी के पीलीभीत में पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है। पीलीभीत पुलिस ने कई राज्यों में वाहन चोरी को अंजाम दे रहे एक बड़े गैंग का धर दबोचा है। देखिए ये रिपोर्ट।

11 दिसंबर 2017

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper