धरना , प्रदर्शन और हड़ताल के नाम रहा गुरुवार

Pilibhit Updated Fri, 24 Aug 2012 12:00 PM IST
आंदोलन से काम रहा प्रभावित, लोग हुए परेशान

पीलीभीत। गुरुवार का दिन धरना, प्रदर्शन और हड़ताल के नाम रहा। नगर पालिका कर्मचारियों ने अनिश्चित कालीन हड़ताल पर जाने की घोषणा कर पालिका परिसर में प्रदर्शन किया। बैंक कर्मचारियों ने दूसरे दिन भी हड़ताल कर बैंक ऑफ बड़ौदा की मुख्य शाखा पर प्रदर्शन किया। जबकि मेडिकल एसोसिएशन की ओर से सिटी मजिस्ट्रेट को ज्ञापन सौंप कर अपनी मांगों का निस्तारण कराने की मांग की गई।

पालिका कर्मी अनिश्चित कालीन हड़ताल पर, प्रदर्शन

स्थानीय निकाय एवं सफाई कर्मचारी महासंघ के संयुक्त आह्वान पर पालिका कर्मियों ने अनिश्चित कालीन हड़ताल शुरू कर दी। सफाई, पेयजल व पथ प्रकाश सेवाओं को दो दिन के लिए हड़ताल से अलग रखा गया है। मांगे पूरी नहीं होने पर आवश्यक सेवाएं भी ठप कर देने की धमकी दी गई है। उधर, यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस के आह्वान पर गुरुवार को भी बैंकों की हड़ताल रही। इधर, दवाओं की न्यूनतम कीमत तय करने और कालाबाजारी रोकने समेत कई मांगों को लेकर मेडिकल रिप्रजेंटेटिव के सदस्यों ने हड़ताल रखी।
पालिका कर्मचारियों का 22 अगस्त को लखनऊ में धरना प्रदर्शन प्रस्तावित था। अपने जिले से केके त्रिपाठी, विकास बाल्मीकि, अमर किशोर, अफसर हसन खां, ग्यासउद्दीन व श्रीचन्द्र ने प्रदर्शन में प्रतिभाग किया। लखनऊ में प्रदर्शन के बाद प्रमुख सचिव नगर विकास विभाग से प्रांतीय नेताओं की वार्ता बेनतीजा रहने पर अनिश्चितकालीन हड़ताल का निर्णय लिया गया। गुरुवार को यहां वापस लौटे कर्मचारी नेताओं ने साथियों को पूरे हालत से अवगत कराते हुए अनिश्चित कालीन हड़ताल शुरू कर दी। पालिका के सभी कार्यालयों में तालाबंदी कर कर्मचारियों ने सात सूत्रीय मांगों को लेकर प्रदर्शन किया। प्रदर्शन करने वालों में अनेक कर्मचारी थे।

दूसरे दिन भी नहीं खुले, बैंकों के ताले, प्रदर्शन

यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस के आहवान पर गुरूवार को भी बैंकों की हड़ताल रही। बैंक कर्मियों ने बैंक ऑफ बड़ौदा की मुख्य शाखा पर प्रदर्शन किया। हड़ताल के लगातार दूसरे दिन भी जारी रहने से ग्राहकों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा।
फोरम संयोजक शैलेंद्र गुप्ता के नेतृत्व में बैंक कर्मचारी गुरुवार की सुबह बैंक ऑफ बड़ौदा की मुख्य शाखा पर जमा हुए और प्रदर्शन शुरू कर दिया। प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए श्री गुप्ता ने कहा कि खंडेलवाल समिति की रिपोर्ट को किसी भी कीमत पर लागू नहीं होने दिया जाएगा। कहा कि पुनरीक्षित अनुकंपा के आधार पर नियुक्ति योजना लागू करने और सेवा निवृत्त कर्मचारियों के कुछ वर्गों को पेंशन विकल्प न देने का विरोध जारी रहेगा। बैंक इंप्लाइज यूनियन अध्यक्ष सौरभ गंगवार हड़ताल पर न होते हुए भी समर्थन जारी रखने की घोषणा की। एसबीआई अधिकारी संघ के असिस्टेंट रीजनल सेकेट्री अशोक शर्मा ने सरकार व आईबीए पर कर्मचारियों व अधिकारियों के हितों की अनदेखी का आरोप लगाया। एनसीबीई के रीजनल सेकेट्री सतीश बाबू, अनिल अग्रवाल, एसके सिंह, महेश नारायण ने भी कर्मचारियों को संबोधित किया। हड़ताल के चलते लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा।

हड़ताल पर रहे मेडिकल रिप्रजेंटेटिव, सौंपा ज्ञापन

दवाओं की न्यूनतम कीमत तय करने और कालाबाजारी रोकने समेत विभिन्न मांगों को लेकर मेडिकल रिप्रजेंटेटिव हड़ताल पर रहे। मेडिकल एंड सेल्स रिप्रजेंटेटिव एसोसिएशन की ओर से सिटी मजिस्ट्रेट को ज्ञापन सौंपा गया।
एसोसिएशन अध्यक्ष एम एस धामी के नेतृत्व में मेडिकल रिप्रजेंटेटिव ने गुरुवार को सिटी मजिस्ट्रेट को सौंपे ज्ञापन कहा कि दवाओं की काला बाजारी रोकने और दवाओं की न्यूनतम कीमत निर्धारित करने का प्रावधान लाया जाए। दवाओं की गुणवत्ता के मानक निर्धारित हों। दवा कंपनियों की मनमानी रोकी जाए। दवा प्रतिनिधियों को कार्य करने के लिए वैधानिक नियम बनाने, राज्य सरकार से सेक्शन 22 ए के तहत एमआर की नियुक्तियां किए जाने, सभी सरकारी व गैर सरकारी अस्पतालों में कार्य करने की स्वतंत्रता देने की मांग की गई है। ज्ञापन सौंपने वालों में विकास सक्सेना, हरेंद्र सिंह, आकाश गंगवार, मिथुन गंगवार, नवीन शुक्ला, दलजीत, रोहित, विकास अवस्थी, जयजय राम, हिमांशु, गौरव सिंह, रुपेंद्र, एसएस बोरा, अमित गंगवार, सुनील कुमार, अमित सैनी, दीपक, आशीष दीक्षित, सूरज शर्मा, अभिषेक, विकास गंगवार, श्रीपाल सिंह, सुबोध, अनुराग मेहरा व रजनीश समेत अनेक एमआर थे।

Spotlight

Most Read

Champawat

एसएसबी, पुलिस, वन कर्मियों ने सीमा पर कांबिंग की

ठुलीगाड़ (पूर्णागिरि) में तैनात एसएसबी की पंचम वाहिनी की सी कंपनी के दल ने पुलिस एवं वन विभाग के साथ भारत-नेपाल सीमा पर सघन कांबिंग कर सुरक्षा का जायजा लिया।

21 जनवरी 2018

Related Videos

पीलीभीत पुलिस को हाथ लगी बड़ी सफलता, धर दबोचा ये शातिर गैंग

यूपी के पीलीभीत में पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है। पीलीभीत पुलिस ने कई राज्यों में वाहन चोरी को अंजाम दे रहे एक बड़े गैंग का धर दबोचा है। देखिए ये रिपोर्ट।

11 दिसंबर 2017

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper