अलविदा: खुदा की बारगाह में झुके हजारा सिर

Pilibhit Updated Sat, 18 Aug 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
जिले भर की मस्जिदों में अदा की गई अलविदा की नमाज
विज्ञापन


पीलीभीत। रमजान शरीफ के आखिरी जुमा को जिले भर की मस्जिदों में अलविदा की नमाज अदा की गई। नमाज के लिए हजारों सिर खुदा की बारगाह में झुके। लोगों ने गुनाहों से माफी मांगी और मगफिरत की दुआ की। सुरक्षा की दृष्टि से सभी मस्जिदों के बाहर पुलिस बल तैनात रहा।
शहर की शाही जामा मस्जिद समेत तमाम मस्जिदों में अलविदा की नमाज अदा की गई। जामा मस्जिद में मौलाना सगीर अहमद जोखनपुरी ने नमाज अदा करवाई। नमाज से पहले उन्होंने रमजान शरीफ और कुरआन पाक की फजीलत बयान की। उन्होंने कहा कि रमजान माह के आखिरी जुमे को अलविदा कहा गया है। इस दिन रमजान के मुकद्दस महीने को विदाई दी जाती है। रोजेदारों और कुरआन की तिलावत करने वालाें पर नाजिल होने वाली खुदा की रहमतों का जिक्र करते हुए कहा कि कोई बिना वजह इन रहमतों से महरूम न रहे। इसके अलावा, दरगाह हजरत शाहजी मोहम्मद शेर मियां, दरगाह हजरत अल्लाहू मियां की मस्जिदों समेत, मोटा पाकर, बादशाह बेगम, कुरैशियान, मोहद्दिस सूरती, मौला अली, पांच पीर, मंसूरियान, सलमानियान, फीलखाना, कल्लन खां, पंजाबियान, खुदागंज, कचहरी व स्टेशन की मस्जिदों में भी अलविदा की नमाज अदा की गई। शाही जामा मस्जिद के बाहर मेला भी लगा। नमाज पढ़ने आए बच्चों ने मेले में खरीदारी की।
पूरनपुर। नगर समेत क्षेत्र की मस्जिदों में शक्रवार को अलविदा की नमाज पढ़ी गई। जामा मस्जिद में हाफिज मोहम्मद सलीम खां ने नमाज अदा करवाई। साबरी मस्जिद में हाफिज जाकिर, नूरी मस्जिद में हाफिज असलम, करीमगंज में हाफिज रिजवान, गुलशने रजा नूरी मस्जिद में हाफिज मोहम्मद अशफाक, गुलजारे फरीद मस्जिद में हाफिज कमर महबूब, रजवी मस्जिद में मौलाना शराफत खां, मस्जिद मुफ्ती ए आजम हिंद में मौलाना शेर मोहम्मद खां, कुरैशियान में हाफिज लईक, बमनपुरी में हाफिज याकूब खां, मदीना मस्जिद में हाफिज आरिफ, ढका मस्जिद में हाफिज अखलाक ने अलविदा की नमाज पढ़ाई। अन्य मस्जिदों में भी अलविदा की नमाज पढ़ी गई।
शेरपुरकलां। जामा मस्जिद में पेश इमाम हाफिज शहजादे आलम खां, कुरैशियान में मौलाना साजिद अली, सुनहरी मस्जिद में हाफिज अरशद खां, मस्जिद माहीग्राम में मौलाना हशमत रजा, इस्लामनगर में हाफिज महबूब हसन ने हजारों लोगों को नमाज पढ़ाई। लोगों की भारी भीड़ होने पर मस्जिदों के पास सड़कों पर नमाज पढ़ते लोग देखे गए।
माधोटांडा। कस्बे की नूरी मस्जिद में हाफिज शरफुद्दीन, जामा मस्जिद में मौलाना अफसार और इमामबाड़ा मस्जिद में मौलाना रशीद ने अलविदा की नमाज पढ़ाई।
बीसलपुर। नगर समेत पूरे तहसील क्षेत्र में अलविदा की नमाज निर्धारित समय पर पढ़ी गई। नगर में एक मीनार मस्जिद, जामा मस्जिद और चांद मस्जिद में नमाज अदा करने वालों की भीड़ इतनी ज्यादा हो गई कि मस्जिदों के सामने जमीन पर उन्हें नमाज पढ़नी पड़ी। एक मीनार और चांद मस्जिद के सामने सड़क पर नमाज पढ़े जाने के कारण उधर का यातायात थोड़ी देर के लिए बंद रहा। सभी मस्जिदों पर सुरक्षा के लिहाज से पुलिस बल तैनात रहा।
बिलसंडा। नगर की जामा मस्जिद में हाफिज शमशाद रजा और नूरी मस्जिद में हाफिज फईम खां ने अलविदा की नमाज अदा कराई। नमाजियों ने अल्लाह तआला से मुल्क और कौम की तरक्की की दुआ की। जामा मस्जिद के सामने खाली पड़ी जगह पर भी लोगों ने नमाज अदा की जबकि नूरी मस्जिद मेें कम जगह होने की वजह से लोगों ने मस्जिद की छत पर नमाज अदा की। सुरक्षा की दृष्टि से दोनों मस्जिदों में पुलिस फोर्स तैनात रही।
जहानाबाद। नगर की जामा मस्जिद में हाफिज मोहम्मद शाकिर, मस्जिद कुरैशियान में हाफिज समीउल्ला ने अलविदा की नमाज अदा करवाई। इसके अलावा पसियापुर, काजी टोला, बिलई, खिन्नी व मस्जिद मनिहारान में भी अलविदा की नमाज अदा की गई। गांव सुंदरपुर समेत अनेक गावों में भी नमाज अदा हुई।

जिला कारागार में बंद 86 बंदियों को भी अलविदा की नमाज अदा करने का अवसर दिया गया। कारागार में हाफिज मोहम्मद यामीन ने बंदियों को नमाज अदा करवाई। सभी ने गुनाहों पर तौबा करते हुए खुदा से रिहाई की दुआ की।

कड़े पहरे के बीच अलविदा की नमाज संपन्न
पुलिस ने की पांच के खिलाफ निरोधात्मक कार्रवाई
पीलीभीत। शहर में अलविदा की नमाज शांतिपूर्ण माहौल में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच संपन्न हुई। पुलिस ने नमाज पढ़ने जाते वक्त आपस में भिड़े पांच लोगों को शांति भंग की आशंका में पाबंद किया है।
नमाज को लेकर प्रशासन सुबह से ही अलर्ट था। जामा मस्जिद समेत शहर की अन्य मस्जिदों पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया था। खास प्वाइंटों पर तैनात सिपाही आने-जाने वालों पर नजर रख रहे थे। सीओ सिटी दिनेश कुमार शर्मा, शहर कोतवाल सुदेश कुमार सिंह जामा मस्जिद पर ही डटे रहे। नमाज पढ़ने जाते वक्त किसी बात को लेकर मोहल्ला सराय खाम के कुछ युवक आपस में भिड़ गए। शहर कोतवाल ने दोनों पक्षों को किसी तरह से समझा बुझाकर शांत कराया। कोतवाल ने बताया कि एक पक्ष के नाजिम, नासिर और शाकिर और दूसरे पक्ष के सैफ, साजिद के खिलाफ शांतिभंग करने की आशंका की कार्रवाई की गई है।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us