हाथी नहीं, नेपाल से आया गैंडा, दहशत

Pilibhit Updated Wed, 01 Aug 2012 12:00 PM IST
शुक्ला फांटा सेंच्युरी से बराही रेंज में घुस

पद चिन्ह तलाश करने में जुटे वन अधिकारी
दूसरे दिन नहीं मिली लोकेशन

माधोटांडा। सोमवार को धुरिया पलिया इलाके में देखे गए पद चिन्ह हाथी के नहीं, बल्कि गैंडा के हैं। बराही रेंज के रेंजर वेदराम ने इसकी पुष्टि करते हुए बताया, नेपाल की शुक्ला फांटा सेंच्युरी से भटककर कर गैंडा इलाके में आ गया है। दूसरे दिन गैंडा की लोकेशन जानने की कोशिश की, लेकिन पद चिन्ह नहीं मिल सके हैं।
बराही रेंज के धुरिया पलिया, मझरा इलाके में सोमवार रात सिख फार्मरों के घरों के पास पद चिन्ह देख लोगों ने हाथी के बताए थे। ग्रामीणों को जंगल किनारे तक पद चिन्ह दिखे थे। फार्मर दलजीत सिंह ने इसकी सूचना वन विभाग को दी थी। इधर, वन दरोगा प्रेमपाल सिंह और क्षेत्रीय वन रक्षक ओमप्रकाश ने उस इलाके में जाकर वन्य प्राणी के पद चिन्ह ट्रेस किए। इधर, डीएफओ वीके सिंह ने बताया कि बराही रेंजर वेदराम, फॉरेस्टर और वाचर को गैंडा ट्रैस करने के लिए लगाया गया है।

बराही रेंज से सटा है नेपाल का जंगल
नेपाल के लग्गा-भग्गा से सटी शुक्ला फांटा सेंच्युरी में जो गैंडे हैं। वह अक्सर शारदा पार आसपास इलाके में आ जाते हैं। उनके गले में ट्रांसमीटर चिप की बेल्ट बंधी होती है। जब यह गैंडे पांच किलोमीटर की दूरी से दूर हो जाते हैं तब नेपाल वनकर्मी उनको खोजते हैं। कई बार ट्रांसमीटर से ही दिशा का ज्ञान कर लग्गा-भग्गा में हाथियों से आकर गैंडों को सेंच्युरी में वापस ले जा चुके हैं। सीमा से सटे पीलीभीत की बराही रेंज का वन क्षेत्र गेंडों को हमेशा भाता रहता है, लेकिन नदी के इस पार बरसात में गैंडों के आ जाने से ग्रामीणों और गैंडे दोनों की सुरक्षा जरूरी हो गई है।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

पीलीभीत पुलिस को हाथ लगी बड़ी सफलता, धर दबोचा ये शातिर गैंग

यूपी के पीलीभीत में पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है। पीलीभीत पुलिस ने कई राज्यों में वाहन चोरी को अंजाम दे रहे एक बड़े गैंग का धर दबोचा है। देखिए ये रिपोर्ट।

11 दिसंबर 2017