शारदा उफनी, कटान हुआ तेज

Pilibhit Updated Mon, 23 Jul 2012 12:00 PM IST
नहरोसा और श्रीनगर की आबादी क्षेत्र को खतरा
निचले इलाकों में सड़कों पर दो फिट पानी
चालीस एकड़ फसल नदी में समाई

हजारा। शारदा का जलस्तर बढ़ जाने एक बार फिर भू-कटान कर किसानों की चालीस एकड़ गन्ने फ सल सहित बजूद मिटा कर आगे बढ़ाती जा रही है जिससे नहरोसा और श्रीनगर की आबादी क्षेत्र को खतरा पैदा हो गया है।
पहाड़ों पर हो रही बारिश तथा नेपाल की बमनी नदी का पानी आने से शारदा एकाएक उफ ना गई जिससे इलाके का निचली भाग जलमग्न हो गया। सिद्धनगर, भुरजुनियां,नेहरूनगर, चंदनगर, अशोकनगर मार्गो के उपर पानी की दो फ ीट ऊंची तेज धाराएं बहाने से आवागमन प्रभावित है। उधर जलस्तर बढ़ते ही शारदा ने उग्र भू-कटान तेज करते हुए नहरोसा प्रधान समीद्दीन, क्षेत्र पंचायत सदस्य इकरार अहमद, अतीक, अजमुद्दीन, विक्कर सिंह, सज्जन सिंह, सुक्खा सिंह, कुलवंत सिंह,गुलजार सिंह तथा श्रीनगर के किसान जलीम अहमद, इकबाल, मेघई विशंबर, रामदरथ, पारस, पलकधारी, सुरेंद्र, फू लचंद की गन्ने की फ सल सहित करीब 40 एकड़ कृषि भूमि पर बजूद मिटाते हुए आगे बढ़ाती जा रही है जिससे नहरोसा का मजरा कुलवा फ ार्म की आबादी शारदा से महज सौ मीटर पर है जबकि श्रीनगर दो किलोमीटर आंकी है। उधर दोनों गांवों में भू-कटान रोकने को मनरेगा के तहत कराया जा रहा कार्य भी बंद हो गया है।

कागजों में चल रही बाढ़ चौकियां
हजारा। बाढ़ से निपटने को प्रशासन द्वारा खोली गई बाढ़ चौकियां कागजों में काम कर रही है। क्योंकि सूचना के लिए लगाये गए वायरलेस सेट खराब है, ग्राम पंचायत ने नाव तक ठीक नही करायी और पूर्ति विभाग ने राशन, तेल का स्टाक भी नही किया जबकि दावा निपटने का हो रहा है।

Spotlight

Most Read

Gorakhpur

मानबेला : अफसरों के जाते ही किसानों ने उखाड़ फेंका कब्जे का खूंटा

जीडीए ने पैमाइश के बाद खूंटा गाड़कर राप्ती नगर विस्तार आवासीय योजना के आवंटियों को दिया था कब्जा

19 जनवरी 2018

Related Videos

पीलीभीत पुलिस को हाथ लगी बड़ी सफलता, धर दबोचा ये शातिर गैंग

यूपी के पीलीभीत में पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है। पीलीभीत पुलिस ने कई राज्यों में वाहन चोरी को अंजाम दे रहे एक बड़े गैंग का धर दबोचा है। देखिए ये रिपोर्ट।

11 दिसंबर 2017

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper