बसपा ने की सरकारी धन की लूट: रियाज

Pilibhit Updated Tue, 05 Jun 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
ख़बर सुनें
पीलीभीत। प्रदेश के खादी ग्रामोद्योग राज्यमंत्री हाजी रियाज अहमद ने कहा पूर्व में बसपा सरकार में पार्कों और मैदान के नाम पर अकूत संपत्ति खर्च की गई। सरकारी धन की लूठ की गई और जनता का कोई ध्यान नहीं रखा गया। लेकिन सपा की सरकार जनता का पैसा जनता की बेहतरी के लिए खर्च करने का निर्णया लिया है। उन्होंने कहा निकाय चुनाव में अवाम सपा समर्थित प्रत्याशी को जिताना चाहती है। आजादी के बाद पहली बार आम जनता को राहत देने वाला प्रदेश के मुख्यमंत्री ने बजट पेश किया है। बजट में बिना कोई नया कर लगाए हर तबके के लोगों राहत दी गई हैं।
विज्ञापन

वे सोमवार को निकाय चुनाव में प्रत्याशियों के चयन को लेकर नकटा दाना स्थित सपा के जिला कार्यालय पर आयोजित बैठक में कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने सभी प्रत्याशियों से आपसी सहमति बनाकर अध्यक्ष और सभासद पदों के लिए जिताऊ उम्मीदवार का नाम तय करने की अपील की। बैठक में शहर की लचर बिजली व्यवस्था का मुद्दा छाया रहा, जिसके जवाब में राज्यमंत्री हाजी रियाज अहमद ने कहा कि प्रदेशवासी बिजली कटौती की जिस समस्या से जूझ रहे हैं, उसकी जिम्मेदार पिछली बसपा सरकार है। उसने 25 हजार करोड़ रुपये बिजली का बकाया भुगतान छोड़ रखा है। 29 जून को सरकार का बजट पास होगा, जिसमें 300 करोड़ रुपया पीलीभीत की बिजली व्यवस्था सुधारने के लिए दिया जाएगा। उन्होंने कहा शीघ्र ही पीलीभीत के लिए 22 घंटे बिजली सप्लाई दी जाएगी। पांच जुलाई तक बजट का पैसा संबंधित विभागों के खातों में पहुंच जाएगा, उसके बाद विकास की रफ्तार तेज से होगी।
सपा जिलाध्यक्ष रामकुमार कश्यप ने कहा निकाय चुनाव लड़ने के इच्छुक उम्मीदवार छह मई तक अपना आवेदन पत्र जमा कर दें। आवेदन पत्र इकठ्ठा होने के बाद प्रत्याशियों को समर्थन का निर्णय लिया जाएगा।
बैठक को राकेश मिश्रा, रामबहादुर यादव, मोहम्मद जरीन अंसारी, नफीस अहमद, इम्त्याज अली, मास्टर गुरदयाल सिंह, आफताब आलम, हरवीर सिंह बिट्टू, सयुस जिलाध्यक्ष विकास वाल्मीकि आदि ने संबोधित किया। संचालन अमित पाठक ने किया।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us