विज्ञापन

दबंगों ने महिला के समर्थक के झाले पर की फायरिंग

Pilibhit Updated Wed, 16 May 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
ख़बर सुनें
बिलसंडा। जमीनी विवाद में महिला को पेड़ से बांधकर पीटे जाने की घटना ने जहां इंसानियत को शर्मसार किया वहीं पीड़ित को इंसाफ दिलाने को उसकी मदद करने के बजाय पुलिस सच्चाई पर ही पर्दा डालने पर आमादा है। इस मामले में पुलिस का जो कहना है उससे तो साफ है कि वह घटना को ही झुठला रही है। उधर, सोमवार की रात दबंगों ने पीड़ित महिला के पक्षधर के झाले पर धावा बोलकर हवाई फायरिंग कर दहशत फैलाई। घटना से गांव के लोग भी दहशतजदा हैं। इधर, पुलिस ने महिला के पति की ओर से मामूली धाराओं में मारपीट की रिपोर्ट दर्ज की है तो दूसरे पक्ष की ओर से एनसीआर दर्ज की है। दूसरे दिन सीओ ने मामले की जांच की और तीन आरोपियों का चालान कर दिया गया।
विज्ञापन
मालूम हो कि थाना बिलसंडा क्षेत्र के गांव चठिया निवासी बल्देव सिंह के पिता शीशा सिंह ने 29 मार्च 12 को अपनी साढ़े चार बीघा जमीन का पड़ोस में रहने वाले गुरुमीत सिंह के नाम बैनामा कर दिया था। दाखिल खारिज हो पाता इससे पहले ही उसके पुत्र को भनक लग गई। लिहाजा उसने तहसील में आपत्ति दर्ज करा दी जिससे दाखिल खारिज नहीं हो पाया। इधर, गुरुमीत सिंह अपने कुछ साथियों के साथ ट्रैक्टर लेकर खेत पर कब्जा करने जा पहुंचे। बल्देव सिंह की पत्नी स्वर्ण कौर ने विरोध किया तो दबंगों ने महिला को पेड़ से बांधकर बेरहमी से पीटा था।
पुलिस ने इस मामले में उनके पति बल्देव सिंह की ओर से गुरुमीत सिंह, राजवीर सिंह, बलराज सिंह और गांव तिलछी निवासी गुरुनाम सिंह के खिलाफ एनसीआर दर्ज की थी। उधर, पुलिस ने इसी मामले में दूसरे पक्ष के बलराज सिंह की ओर से भी स्वर्ण कौर, अजायब सिंह और जोधा सिंह के खिलाफ एनसीआर दर्ज की। इधर, पुलिस ने गुरमीत सिंह, बलराज सिंह और राजवीर को गिरफ्तार कर चालान भेजा है, जिन्हें एसडीएम कोर्ट से जेल भेज दिया गया है। पुलिस के दूसरे पक्ष की ओर से भी एनसीआर दर्ज करने और उसमें घायल स्वर्णकौर समेत तीन को नामजद करने से पुलिस की भूमिका सवालों में आ गई है। पुलिस ने दूसरे पक्ष की एनसीआर इतनी जल्दबाजी में दर्ज करने से यह बात साफ हो गई है कि वह दबंगों के बचाव पक्ष में उतरी है।
इसके अलावा मारपीट की घटना के दूसरे दिन सोमवार की रात पीड़ित महिला के समर्थक गांव के अजायब सिंह के झाले पर जीप पर सवार कुछ लोग पहुंचे और दहशत फैलाने को हवाई फायरिंग की। जवाब में अजायब सिंह के ओर से भी फायरिंग की गई। पुलिस ने दो लोगों को हिरासत में लिया है। एसओ केपी यादव ने बताया कि गांव तिलछी निवासी गुरनाम सिंह की राइफल और अजायब सिंह के झाले पर मिली दो बंदूकों के लाइसेंस निरस्त कराने की रिपोर्ट भेज दी है। बंदूकें भी कब्जे में ले ली।

15बीएसडीपीएच 14- गांव चठिया हिल्गी स्थित स्वर्ण कौर का मकान, जहां पसरा है सन्नाटा
बाक्स
बैनामा से पहले शीशा सिंह ने छोड़ा था घर
29 मार्च को जब शीशा सिंह ने पड़ोसी गुरुमीत के नाम अपनी साढ़े चार बीघा जमीन का बैनामा किया। इससे पहले ही वह घर छोड़कर बहन के घर बाजारपुर बहेड़ा चला गया था। इस समय भी वह वहीं है। बेटा-बहू द्वारा सही ढंग से व्यवहार करने से वृद्ध दु:खी था, हालांकि पड़ोस के लोगों का कहना है कि शराब की लत बहू और बेटे पूरी नहीं करा पा रहे थे, इसलिए वह चला गया। जमीन बेचने पर मिले रुपये बमरोली स्थित पीएसबी बैंक में चल रहे। उसके खाते में क्रेता ने ही जमा किए। अब उसके बेटा और बहू को यह डर सता रहा है कि कहीं बची हुई करीब छह एकड़ जमीन भी न बेंच दें।
बाक्स
1
बेटे को पहले ही भेजा पंजाब
पीड़ित महिला स्वर्ण कौर ने बताया कि हमलावर काफी दिन से उसके 16 वर्षीय बेटे रमनदीप सिंह को जान से मारने की धमकी दे रहे हैं। डर के कारण 15 दिन पहले ही उन्होंने अपने बेटे को पंजाब भेज दिया था।
2
भयभीत है मंदीप
महिला स्वर्ण कौर की देवरानी की आठ वर्षीय बेटी मंदीप कौर दबंगों के हाथ में पिस्तौल और बंदूकें देखीं थीं। वह ताई को खेत में पीटने की घटना से दहशत में है और याद कर सिसक उठती है।
वर्जन
पीड़ित महिला और उसके घरवालों के अलावा प्रत्यक्षदर्शियों से पूछतांछ से साफ है कि दबंगों ने महिला को बेरहमी से पीटा, जो किसी क्रूरता से कम नहीं है। पेड़ से बांधने की घटना संदिग्ध है। जांच चल रही है।
तौफीक हुसैन सीओ बीसलपुर।

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Bareilly

वरुण गांधी, कलराज मिश्र और चार विधायकों के मुकदमे प्रयागराज स्पेशल कोर्ट ट्रांसफर

इलाहाबाद हाईकोर्ट के आदेश से यहां की अदालतों में चल रहे जिले के चारों विधायकों और दो सांसदों के मुकदमों को इलाहाबाद में बनाई गई स्पेशल जज स्पेशल कोर्ट एमपी-एमएलए में भेज दिया गया है।

14 नवंबर 2018

विज्ञापन

Related Videos

गन्ना किसानों पर मेनका गांधी का वीडियो वायरल होने के बाद बवाल, अब दी ये सफाई

सोशल मीडिया पर पीलीभीत सांसद मेनका गांधी का गन्ना किसानों को लेकर एक वीडियो वायरल होने के बाद बवाल हो गया। विरोधी उनपर जमकर निशाना साधने लगे। इसके बाद मेनका गांधी ने सफाई दी।

17 मई 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree