प्रधान हत्याकांड की सीओ ने शुरू की जांच

Pilibhit Updated Tue, 15 May 2012 12:00 PM IST
बिलसंडा। ग्राम पंचायत रुरिया घुरिया के प्रधान की संदिग्ध हालातों में हुई मौत मामले में सोमवार को सीओ ने गांव पहुंचकर मामले की छानबीन शुरू कर दी है।
बात दें कि गांव रूरिया घुरिया निवासी प्रधान वीरेन्द्र कुमार राना छह अक्तूबर को गांव में ही पाकड़ के पेड़ पास बेहोशी हालत में मिले थे, जिनकी अस्पताल ले जाते मौत हो गई थी। परिजनों का आरोप है कि गांव के ही कुछ लोगाें ने शराब में जहर मिला कर पिला दिया था और बेहोशी हालत में डाल दिया था। मृतक के भाई की ओर से पुलिस ने गांव निवासी रामप्रताप, रामदुलारे, रामऔतार और धर्मपाल के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज की थी। उधर पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत का कारण स्पष्ट न होने से विसरा जांच को सुरक्षित किया गया था, जिसकी अभी तक जांच रिपोर्ट पुलिस को नहीं मिल सकी। उधर मृतक के घरवालों ने नामजद अभियुक्तों की गिरफ्तारी न किए जाने की शिकायत मानवाधिकार आयोग से की, जिस पर सीओ ने गांव पहुंचकर बयान लिए।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

पीलीभीत पुलिस को हाथ लगी बड़ी सफलता, धर दबोचा ये शातिर गैंग

यूपी के पीलीभीत में पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है। पीलीभीत पुलिस ने कई राज्यों में वाहन चोरी को अंजाम दे रहे एक बड़े गैंग का धर दबोचा है। देखिए ये रिपोर्ट।

11 दिसंबर 2017