कारोबारी चूल्हे पर घरेलू गैस

Pilibhit Updated Wed, 02 May 2012 12:00 PM IST
01बीएसडीपीएच 1 बिलसंडा में गैस पाने को एजेंसी पर लगी भीड़ और रेस्टोरेंट पर उपयोग में लेते हुए घरेलू गैस।बिलसंडा। नगर में कुकिंग गैस की किल्लत से लोग परेशान हैं। एक-एक सिलेंडर लेने को मारा-मारी है। हालत यह है कि गैस समय से न मिलने के कारण अधिकतर घरों में चूल्हे ठंडे रहते हैं, क्योंकि आपूर्ति मिलने के 21 दिन बाद बुकिंग और उसके पंद्रह दिन बाद आपूर्ति देने की व्यवस्था है। सहालग का समय है। ऐसे में हर कोई एक अदद गैस सिलेंडर पाने को एजेंसी के चक्कर लगा रहा है। होम डिलीवरी की बेहतर व्यवस्था न होने की वजह से भी उपभोक्ता परेशान हैं। यही वजह है कि जिस दिन गाड़ी आती है, उस दिन एजेंसी पर मेला लग जाता है। वहीं शहर की सड़कों पर ठेला लगाने वाले चाय दुकानदारों से लेकर रेस्टोरेंट तक के चूल्हे बेधड़क घरेलू गैस से ही जलते हैं।
गैस की यह भी है वजह
नगर की सोलह हजार और क्षेत्र की डेढ़ लाख आबादी के बीच महज एक गैस एजेंसी है। स्कूलों को मिलाकर करीब 5800 गैस कनेक्शन हैं। आपूर्ति महीने में बमुश्किल तीन हजार सिलेंडर की मिलती है। जिससे समय पर डिलीवरी की व्यवस्था नहीं हो पा रही है। बता दें कि इसमें भी गैस की फुटकर कालाबाजारी करने वाले आसानी से गैस प्राप्त कर लेते हैं। जबकि आम उपभोक्ताओं को जूझना पड़ता है।
बाक्स
क्या कहते हैं लोग
1
अधिकारियों की अनदेखी के चलते आम उपभोक्ताओं को गैस समय पर नहीं मिल पा रही है। प्रशासन को समय-समय पर गैस की किल्लत दूर करने का प्रयास करना चाहिए।
राजेंद्र कुमार गुप्ता बिलसंडा
2
कई दिनों तक गैस न मिलने पर लकड़ियां जलाकर खाना बनाना पड़ता है। आदत न होने के कारण सर्वाधिक परेशानी बर्तनों को साफ करने और धुएं की वजह से होती है।
कमलेश गुप्ता, गृहणी
3
एजेंसी स्वामी की मनमानी की वजह से आम उपभोक्ता त्रस्त है। पहले तो 21 दिन बाद बुकिंग की जाती है और उसके पंद्रह दिन बाद डिलीवरी दिए जाने को कहा जाता है, लेकिन फिर भी दो-दो महीने लग जाते हैं।
रामशंकर वर्मा
4
एजेंसी मालिक द्वारा दुकानदारों को गैस आसानी से दी जाती है। क्योंकि उनसे निर्धारित मूल्य से डेढ़ गुना मिलता है। होम डिलीवरी करने वाले कर्मचारी भी रास्ते में ओवररेट पर बिक्री कर देते हैं।
दीपक वर्मा
वर्जन
डिपो से गैस की आपूर्ति समुचित न हो पाने की वजह से उपभोक्ताओं को समय पर आपूर्ति करने में दिक्कत हो रही है। अप्रैल माह में मात्र 2700 सिलेंडर की ही आपूर्ति मिली है। 5800 कनेक्शन हैं, अगर महीने में तेरह गाड़ी की सप्लाई मिल जाए तो आसानी से सभी को गैस मिल सकेगी।
प्रमोद गौतम-एजेंसी मालिक

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, दोपहर 2 बजे बाद होगा सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

पीलीभीत पुलिस को हाथ लगी बड़ी सफलता, धर दबोचा ये शातिर गैंग

यूपी के पीलीभीत में पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है। पीलीभीत पुलिस ने कई राज्यों में वाहन चोरी को अंजाम दे रहे एक बड़े गैंग का धर दबोचा है। देखिए ये रिपोर्ट।

11 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls