हैरत : पक्षियों में भी हुआ वर्चस्व का खूनी संघर्ष

Noida Updated Sun, 18 Nov 2012 12:00 PM IST
नोएडा। केवल मनुष्यों में ही नहीं पक्षियों में भी वर्चस्व को लेकर खूनी भिड़ंत हो सकती है। शुक्रवार को कुछ यही नजारा जिला गौतमबुद्ध नगर के जेवर ब्लॉक के रोही बट्टा गांव वासियों को देखने को मिला। कुछ स्थानीय सारस और बाहर से आए सारसों के बीच आपस में युद्ध छिड़ गया। जिसमें छह सारस शुक्रवार को मौके पर ही मृत पाए गए। तीन घायल पक्षियों को गांव के पास मौजूद आश्रम में इलाज के लिए लाया गया। इन तीनों सारसों ने शनिवार को उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। मृत पक्षियों को शनिवार को पोस्टमार्टम के लिए कासना भेजा गया है।
गांव और आसपास के क्षेत्रों में इस घटना को लेकर चर्चाएं जारी हैं। मौके पर मौजूद कुछ गांववालों ने वन अधिकारी को बताया कि पिछले कुछ दिनों से गांव में 15 से 18 की संख्या में सारस मौजूद थे। इस दौरान कुछ अन्य सारस एक दो दिन पहले वहां पहुंच गए। शुक्रवार को अचानक दोनों झुंड आपस में भिड़ गए और अपनी चोंचों से एक-दूसरे को घायल करने लगे। यह देखकर गांववासियों ने पक्षियों को डराकर हटाया। तब तक नौ पक्षी जमीन पर गिरकर तड़प रहे थे। गांववासियों ने पुलिस और वनकर्मियों को इसकी सूचना दी। सूचना के बाद पहुंची वेटरनरी डॉक्टरों की टीम ने छह सारसों की मौत की पुष्टि की। वहीं, तीन घायल सारसों का इलाज गांव के पास ही मौजूद आश्रम में हुआ। शनिवार शाम को पहले दो पक्षियों ने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। इसके बाद बचे एक सारस ने शाम को दम तोड़ दिया।

गांववासियों से आपसी लड़ाई के बाद सारसों की मौत की बात पता चली है। मैंने सिकंदराबाद रेंजर के साथ मौके पर जाकर जांच भी की है। मृत पक्षियों का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। रिपोर्ट आने के बाद साफ तौर पर कुछ कहा जा सकता है।
बी प्रभाकर (जिला वन अधिकारी)

इंसर्ट--------
आश्चर्यजनक है पक्षियों का व्यवहार
पक्षी विशेषज्ञ टीके राय ने बताया कि शेर और हाथियों में जगह को लेकर आपसी भिड़ंत हो जाती है। कई बार यह खतरनाक स्थिति तक पहुंचती है। पक्षियों में अक्सर खाने को लेकर या जगह को लेकर या फिर ब्रीडिंग को लेकर हल्की नोक-झोंक होती है। ऐसा मामला तो पहले कभी सामने नहीं आया है जिसमें किसी पक्षी की मौत हो गई हो। यह मामला बेहद संदेहास्पद लग रहा है। इसकी जांच के बाद ही तथ्य उजागर हो सकते हैं कि यह पक्षी आपस में भिड़े थे या कोई अन्य कारण है इनकी मौत के।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

देखिए, कैसे 'राम भरोसे' आपकी रखवाली करते हैं यूपी के ये पहरेदार

जिनके भरोसे आप अपना घर छोड़ते हैं। जिनके भरोसे बड़ी-बड़ी कंपनियां होती हैं। जो दिन-रात एटीएम के बाहर लाखों रुपए की सुरक्षा करते हैं। वो खुद कितने सुरक्षित हैं। आइए इस पड़ताल में हमारे साथ और देखिए सेक्युरिटी गार्ड्स की सुरक्षा की इनसाइड स्टोरी।

24 जनवरी 2018