खबर सुनते ही मॉल व प्रतिष्ठानों में छाया मातम

Noida Updated Sun, 18 Nov 2012 12:00 PM IST
नोएडा। वेव ग्र्रुप के मालिक पोंटी चड्ढा की हत्या की खबर पौने दो बजे के आसपास सेक्टर-18 स्थित सेंट्रल स्टेज मॉल में पहुंची। खबर सुनते ही मॉल के बेसमेंट में बने ऑफिस में मातम छा गया। हर कोई फोन पर खबर की पुष्टि के लिए अपने परिचितों को नंबर मिलाने में लगा था। पोंटी चड्ढा की मौत की जानकारी मिलते ही नोएडा पुलिस भी सतर्क हो गई। थाना सेक्टर-20 पुलिस मॉल पहुंच गई। मॉल के सुरक्षा अधिकारियों से बातचीत की और मॉल के बाहर चार पुलिसकर्मी तैनात कर दिए गए।
मॉल के सुरक्षा गार्ड से लेकर वेव कंपनी के हर कर्मचारी के चेहरे से रौनक गायब थी। हर कोई मौत के सही कारणों का पता लगाने के लिए एक दूसरे से पूछने पोंटी था। कुछ कयास लगा रहे थे तो कुछ हत्या के कारणों पर तर्क वितर्क कर रहे थे। मॉल के बेसमेंट में ही हरवीर चड्ढा का दफ्तर था। जिसमें वह अक्सर आकर बैठते थे। इस दफ्तर के कर्मचारियों ने भी अजीब सी खामोशी अख्तियार कर रखी थी। मॉल के कर्मचारियों ने पोंटी को सरल स्वभाव वाला व्यक्ति बताया। उनके मुताबिक पोंटी चड्ढा के पास भले ही अकूत संपत्ति हो लेकिन उनमें इसका घमंड कभी नहीं दिखा। कर्मचारियों की दिक्कत को तुरंत हल करते थे। सिटी सेंटर में स्थित वेव के कार्यालय व अन्य प्रतिष्ठानों का भी यही हाल रहा।
-------

विकलांगों के लिए चलाते थे निशुल्क स्कूल
पोंटी चड्ढा कारोबार जगत में जिस तेजी से उभर रहे थे उतनी ही तेजी से विवादों ने भी उन्हें घेरना शुरू कर दिया था। आरोप प्रत्यारोपों के बीच घिरे पोंटी का एक दूसरा रूप भी था। अपनी मां के नाम पर विकलांग बच्चों को निशुल्क शिक्षा देने के लिए स्कूल का संचालन भी करते थे। सेक्टर-6 में मां भगवती चड्ढा कौर के नाम से स्कूल का कई वर्षों तक संचालन किया। तीन साल पहले सेक्टर-128 में स्कूल की भव्य बिल्डिंग बना कर वहां से संचालन शुरू कर दिया। हर साल वार्षिक समारोह में खुद भी शिरकत करते थे। उनकी मौत की खबर सुनते ही स्कूल के स्टाफ में भी मायूसी छा गई।
------------

शराब कारोबार के भविष्य पर चर्चा
शराब कारोबार में अपना वर्चस्व कायम करने वाले पोंटी चड्ढा की मौत के बाद एक बार फिर शराब माफियाओं की निगाहें उनके शराब कारोबार पर टिकने जा रही हैं। उनकी मौत के कारणों से ज्यादा शहर के शराब कारोबारियों के बीच शराब के सिंडीकेट पर ही चर्चा शुरू हो गई। पोंटी की मौत के बाद उनका पूरा नेटवर्क बिखरने की आशंका जाहिर करते हुए नए सिंडीकेट के नामों पर भी चर्चा शुरू हो गई। यूपी के सर्फाबाद से ताल्लुक रखने वाले पूर्व दबंग विधायक से लेकर वाडिया ग्रुप तक के शराब कारोबार पर काबिज होने की चर्चा होती रही। पूर्व दबंग विधायक की बुलंदशहर में पोंटी के कुछ ठेकों में साझेदारी भी है। पोंटी ने पूर्व सरकार में अपने मनमाफिक शराब पॉलिसी लाकर शराब सिंडीकेट को तोड़ उस पर अपना वर्चस्व कायम किया था।
----------


लाव लश्कर के साथ नोएडा आते थे हरदीप चड्ढा
पेपर मिल व शुगर मिल का कारोबार देखने वाले हरवीर चड्ढा का ऑफिस सेक्टर-18 में सेंट्रल स्टेज मॉल के बेसमेंट में था। अक्सर वे इस ऑफिस में आते थे। उस दौरान पंजाब पुलिस के सुरक्षा कर्मियों के अलावा भारी संख्या में वॉकी टॉकी से लैस उनके निजी सुरक्षा गार्ड भी साथ रहते थे। बेसमेंट के जिस हिस्से में उनका ऑफिस था, उसके आसपास आम आदमी को फटकने नहीं दिया जाता था। आधुनिक हथियारों से लैस सुरक्षा कर्मी वहां किसी को रुकने नहीं देते थे। अंदर वही आदमी जा सकता था जिसे अंदर से बुलाने का फरमान वॉकी टॉकी पर दिया जाता था। यह ऑफिस फरवरी में उस वक्त चर्चा में आया था जब आयकर विभाग ने छापा मारा था और तिजोरी को काटा था। जिसमें करोड़ों रुपये होने की संभावना जाहिर की गई थी लेकिन जब तिजोरी खुली तो कुछ नहीं निकला था।
----------

एनएसजी के पूर्व कमांडो भी थे सुरक्षा में
चाहे पोंटी चड्ढा हों या फिर उनके भाई हरवीर चड्ढा दोनों की सुरक्षा में पंजाब पुलिस के अलावा निजी सुरक्षा गार्डों में एनएसजी के पूर्व कमांडो से लेकर तेज तर्रार रह चुके पुलिस कर्मी तक शामिल थे। बहुत से सुरक्षा कर्मी ऐसे थे जिन्होंने पुलिस की नौकरी छोड़ कर उनका सुरक्षाधिकारी बनना पसंद किया था। दोनों की सुरक्षा में चलने वाले लाव लश्कर में शामिल कर्मचारियों के पास एक से एक आधुनिक असलहे होते थे। अक्सर पोंटी अपने दोस्ताें या वीवीआईपी के साथ फिल्म देखने आते थे। वे नोएडा के बजाए मथुरा रोड स्थित कंपनी के ऑफिस में बैठते थे।

Spotlight

Most Read

Kanpur

बाइकवालाें काे भी देना हाेगा टोल टैक्स, सरकार वसूलेगी 285 रुपये

अगर अाप बाइक पर बैठकर आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर फर्राटा भरने की साेच रहे हैं ताे सरकार ने अापकी जेब काे भारी चपत लगाने की तैयारी कर ली है। आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर चलने के लिए सभी वाहनों को टोल टैक्स अदा करना होगा।

17 जनवरी 2018

Related Videos

नोएडा में कपड़ा फैक्ट्री के इस गार्ड की हत्या कर लूटे 12 लाख रुपये

नोएडा में गार्ड की गोली मारकर हत्या कर दी गई। बदमाशों ने की बेखौफ होकर इस वारदात को एक गार्मेंट कंपनी में अंजाम दिया। यही नहीं बदमाशों ने फैक्ट्री के लॉकर से 12 लाख रुपये भी लूट लिए।

15 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper