विकास कार्यों को कोड देने का काम शुरू

Noida Updated Sat, 13 Oct 2012 12:00 PM IST
नोएडा। प्राधिकरण ने शहर में होने वाले सारे छोटे बड़े विकास कार्यों को कोड देने का काम शुरू कर दिया है। डिवीजन समाप्त करके वर्क सर्किल बनाने के बाद यह प्रक्रिया शुरू की गई है। इसके बाद अधिकारी एक क्लिक पर हर प्रोजेक्ट की सटीक जानकारी प्राप्त कर सकेंगे।
प्राधिकरण ने साढ़े पांच हजार करोड़ रुपये से होने वाले विकास कार्यों की खबर रखने के लिए नया सिस्टम लागू कर दिया है। इसके तहत प्राधिकरण के इंजीनियरिंग विभाग, जल, सीवर, उद्यान और विद्युत यांत्रिक में होने वाले सारे कार्यों को कोड नंबर देना अनिवार्य होगा। उच्च पदस्थ अधिकारिक सूत्रों के अनुसार अभी तक कार्यों की सूचना प्राप्त करने के लिए संबंधित पीई, एपीई और जेई से संपर्क करना पड़ता था। कई बार फाइलों के फेर में जानकारियां उलझ कर रह जाती थीं। इसी सिस्टम को सुधारने के लिए कोड नंबर देने का काम शुरू किया गया। अब विकास कार्यों के शुरू होने के साथ ही कोड दे दिया जाता है, जिससे जानकारियां एक स्थान पर मिल सकें। सूत्रों ने बताया कि यह निर्णय सीईओ संजीव सरन ने पिछले माह लिया था, जिसके बाद कार्रवाई को शुरू करने के लिए सॉफ्टवेयर कंपनियों से भी संपर्क किया गया, जिससे ऑनलाइन जानकारियां प्राप्त की जा सकें। हालांकि, यह सुविधा केवल अधिकारियों और प्रोजेक्ट से जुड़े लोगों के पास ही रहेंगी। इसका लाभ यह मिलेगा कि उच्च अधिकारी कहीं से भी शहर में किसी भी प्रोजेक्ट पर निगरानी रख सकते हैं।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

देखिए, कैसे 'राम भरोसे' आपकी रखवाली करते हैं यूपी के ये पहरेदार

जिनके भरोसे आप अपना घर छोड़ते हैं। जिनके भरोसे बड़ी-बड़ी कंपनियां होती हैं। जो दिन-रात एटीएम के बाहर लाखों रुपए की सुरक्षा करते हैं। वो खुद कितने सुरक्षित हैं। आइए इस पड़ताल में हमारे साथ और देखिए सेक्युरिटी गार्ड्स की सुरक्षा की इनसाइड स्टोरी।

24 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls