तीन साल में दोगुना हुए दिल के मरीज

Noida Updated Sat, 29 Sep 2012 12:00 PM IST
नोएडा। तमाम जागरूकता अभियानों के बावजूद दिल के मरीजों की लगातार बढ़ रही संख्या चौंकाने वाली है। शहर में करीब तीन वर्षों में दिल के मरीजों की संख्या दोगुना तक बढ़ गई है। युवाओं में दिल का मर्ज आम होता जा रहा है। हर माह हार्ट अटैक के चलते 40 साल से कम उम्र के औसतन दो मरीज शहर के प्रमुख अस्पतालों में पहुंच रहे हैं।
फोर्टिस अस्पताल के हृदय रोग विशेषज्ञ डॉक्टर परनीश अरोड़ा ने बताया कि पांच साल पहले जहां प्रतिवर्ष 40 साल से कम उम्र का बमुश्किल एक मरीज प्रकाश में आता था, वहीं गत दो वर्षों में ऐसे मरीजों की संख्या माह में औसतन दो हो गई है। कभी-कभी एक माह में 25 से 30 वर्ष की उम्र के 3 से 4 मरीज दिल की बीमारी के कारण भर्ती होते हैं। इनमें से कुछ ऐसे भी होते हैं, जिन्हें पहले कभी दिल की तकलीफ नहीं हुई और अचानक हार्ट अटैक पड़ गया।
कैलाश अस्पताल के हृदय रोग विशेषज्ञ डॉक्टर डीएस गंभीर के मुताबिक अस्पताल में प्रति माह पहुंचने वाले हार्ट अटैक के 8 से 10 मरीजों में औसतन 2 युवा होते हैं। युवाओं में दिल की बीमारी बढ़ने का कारण धूम्रपान और अत्यधिक तनाव है। मेट्रो ग्रुप्स ऑफ हॉस्पिटल्स के चेयरमैन एवं हृदय रोग विशेषज्ञ डॉक्टर पुरुषोत्तम लाल का कहना हे कि फास्ट फूड, वसा युक्त खाद्य पदार्थों, मीठी और डिब्बा बंद सामग्रियों का सेवन, अस्वस्थ जीवनशैली, व्यायाम और सैर से दूरी बना लेना दिल का मर्ज बढ़ने के मुख्य कारण हैं।
-----------

एक नजर मरीजों की संख्या (ओपीडी)-
अस्पताल वर्ष 2010 2011 2012 (अगस्त तक)
फोर्टिस 15000 25000 30000
मैक्स 7200 10100 14000
मेट्रो 10500 14700 20,300
कैलाश 12500 14500 20,000
(अस्पतालों से मिली जानकारी पर आधारित)
------

वायरल फीवर भी बीमारी का एक कारण
वायरल फीवर भी दिल की बीमारी का कारण बन रहा है। इंटरनल मेडिसिन विशेषज्ञ डॉक्टर जीसी वैष्णव ने बताया कि वायरल फीवर में कई बार वायरल संक्रमण दिल की मांसपेशियों तक पहुंच जाता है, जिससे वायरल मायोकार्डाइटिस नामक बीमारी हो जाती हैं। इसमें दिल की धड़कनें असामान्य हो जाती हैं। धमनियों में रक्त को पंप करने की क्षमता कमजोर हो जाती है, जिससे दिल कमजोर हो जाता है।
-------

दिल की बीमारी बनी शादी में बाधा
कार्डियोथोरिक एंड वैस्कुलर सर्जन डॉक्टर आदर्श एस. कोप्पुला ने बताया कि नोएडा, गाजियाबाद, अमृतसर, कानपुर से कई ऐसे मामले सामने आए हैं, जिसमें रूमैटिक हार्ट डिसीज के चलते लड़की की शादी नहीं हो रही थी। दरअसल रुमैटिक हार्ट डिसीज में वाल्व सिकुड़ जाते हैं या फिर लीक करने लगते हैं। ऑपरेशन से वाल्व बदल दिया जाता है। ऑपरेशन के बाद टांकों के निशान मरीज की छाती पर दिखाई देते हैं, जिसकी वजह से लड़के वाले शादी के लिए तैयार नहीं होते। ऐसे में उनकी काउंसलिंग की जाती है।
----
जिला अस्पताल में नहीं है हृदय रोग विशेषज्ञ
जिले की सरकारी स्वास्थ्य सेवाओं में दिल के मरीजों की इलाज की व्यवस्था नहीं है। जिला अस्पताल में एक भी हृदय रोग विशेषज्ञ नहीं है।

एक नजर में दिल का मामला
-जिले में हर 100 में 18 लोग दिल की बीमारी से पीड़ित हैं।
-यहां 25 फीसदी लोगों को हार्ट अटैक 40 साल से कम उम्र में हो रहा है।
-इनमें 50 प्रतिशत मरीज ऐसे हैं जिन्हें बिना किसी लक्षण के दिल का दौरा पड़ जाता है।
-66 प्रतिशत लोगों को बीमारी का एहसास तब होता है, जब इस बीमारी का इलाज भी संभव नहीं होता।
-सड़क दुर्घटना, कैंसर, ब्रेन स्ट्रोक से ज्यादा मरीज दिल की बीमारी से मरते हैं।
-दिल की बीमारी में हार्ट अटैक के बाद दूसरे नंबर पर रूमैटिक हार्ट डिसीज और तीसरे नंबर पर कंजेन्टाइटिल (दिल में छेद) है।
-देश में हर साल 50 लाख लोग हृदय और रक्त धमनियों काकार्य बाधित होने से मरते हैं।
----
समझें दिल का इशारा
-शरीर में अनियंत्रित मोटापे का बढ़ना हृदय के लिए घातक है।
-पांव में लगातार सूजन का बने रहना भी हृदयाघात का संकेत है।
-रक्त में ब्लड फैट्स (ट्राइग्लिसराइड) का 150 मिली प्रति डीएल से अधिक होना।
-रक्तचाप का 130/80 मिलीमीटर मरकरी से ज्यादा रहना।
-शरीर में ग्लूकोज (फास्टिंग) का स्तर 100 एमजी से ज्यादा होना।
-कुल कोलेस्ट्राल की मात्रा 200 मिलीग्राम प्रतिशत से ज्यादा होना।
------------
दिल का ऐसे रखें ध्यान
-धूम्रपान से बचें
-चीनी, चिकनाई और चिंता करने से बचें।
- मोटापे पर नियंत्रण के लिए संतुलित आहार करें।
- स्वस्थ्य दिल के लिए नियमित रूप से हंसना जरूरी।
- फल-सब्जियों का सेवन करें।
-रोजाना दो फलों का तीन से चार घंटे के अंतराल पर सेवन करें।
-समुद्री मछली का सेवन लाभदायक है।
- एल्कोहल का सेवन न करें।
- शारीरिक श्रम को अधिक महत्व दें।
-नियमित व्यायाम, सैर या योगा करें।
-प्रोटीनयुक्त, वसा और सैचुरेटेड फैट मुक्त भोजन का सेवन करें।
-25 साल के बाद हर साल स्वास्थ्य जांच कराएं।

Spotlight

Most Read

Kanpur

बाइकवालाें काे भी देना हाेगा टोल टैक्स, सरकार वसूलेगी 285 रुपये

अगर अाप बाइक पर बैठकर आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर फर्राटा भरने की साेच रहे हैं ताे सरकार ने अापकी जेब काे भारी चपत लगाने की तैयारी कर ली है। आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर चलने के लिए सभी वाहनों को टोल टैक्स अदा करना होगा।

17 जनवरी 2018

Related Videos

नोएडा में कपड़ा फैक्ट्री के इस गार्ड की हत्या कर लूटे 12 लाख रुपये

नोएडा में गार्ड की गोली मारकर हत्या कर दी गई। बदमाशों ने की बेखौफ होकर इस वारदात को एक गार्मेंट कंपनी में अंजाम दिया। यही नहीं बदमाशों ने फैक्ट्री के लॉकर से 12 लाख रुपये भी लूट लिए।

15 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper