बीएड पेपर के प्रारूप में बदलाव

Noida Updated Sun, 23 Sep 2012 12:00 PM IST
नोएडा। चौधरी चरण सिंह यूनिवर्सिटी (सीसीएसयू) ने मौजूदा सत्र 2012-13 के पेपर प्रारूप में बदलाव कर दिया है। इस साल बीएड में दाखिला लेेने वाले छात्रों पर ये बदलाव लागू हुआ है। इनकी परीक्षाएं जुलाई-2013 में होंगी। इसके तहत प्रश्नपत्रों को तीन खंडों में बांट दिया गया है। यूनिवर्सिटी ने नए प्रारूप के आधार पर ही कॉलेजों को पढ़ाई कराने के निर्देश दिए हैं। साथ ही यूनिवर्सिटी ने एमएड के पेपर का प्रारूप भी बदल दिया है।
यूनिवर्सिटी के कुलसचिव ने शनिवार को इस संबंध में सभी बीएड/एमएड संस्थानों को ब्योरा जारी कर दिया है। बीएड प्रश्नपत्रों में जो संशोधन किया गया है, उसके मुताबिक तीन खंडों में से ‘खंड-अ’ में तीन विस्तृत उत्तरीय/निबंधात्मक प्रश्न पूछे जाएंगे। इसमें एक-एक आंतरिक चयन का विकल्प होगा। प्रत्येक प्रश्न 20 अंकों का होगा। वहीं ‘खंड-ब’ में आठ लघु उत्तरीय प्रश्न पूछे जाएंगे, जिनमें से पांच सवालों का उत्तर देना होगा। तीसरे ‘खंड-स’ में दस अति लघु उत्तरीय प्रश्न पूछे जाएंगे, जिनमें सभी का जवाब देना होगा।
इसके साथ ही यूनिवर्सिटी ने एमएड कॉलेजों में भी इस साल के मौजूदा सत्र 2011-12 से पेपर का प्रारूप बदल दिया है। ये प्रारूप सेमेस्टर प्रणाली वाले स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों की तरह ही अतिलघु उत्तरीय, लघु उत्तरीय और विस्तृत उत्तरीय प्रश्नों वाले तीन खंडों में बांट दिया गया है।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, दोपहर 2 बजे बाद होगा सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

देखिए, कैसे 'राम भरोसे' आपकी रखवाली करते हैं यूपी के ये पहरेदार

जिनके भरोसे आप अपना घर छोड़ते हैं। जिनके भरोसे बड़ी-बड़ी कंपनियां होती हैं। जो दिन-रात एटीएम के बाहर लाखों रुपए की सुरक्षा करते हैं। वो खुद कितने सुरक्षित हैं। आइए इस पड़ताल में हमारे साथ और देखिए सेक्युरिटी गार्ड्स की सुरक्षा की इनसाइड स्टोरी।

24 जनवरी 2018