‘किसानों के साथ छलावा किया’

मुजफ्फरनगर/अमर उजाला/ब्यूरो Updated Fri, 28 Sep 2018 12:40 AM IST
विज्ञापन
polictial
polictial - फोटो : अमर उजाला

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
खतौली।  भाकियू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेश टिकैत के नेतृत्व में किसान क्रांति यात्रा में शामिल किसानों का सैलाब मुजफ्फरनगर से चलकर बृहस्पतिवार शाम गांव भैंसी में पहुंचा। गांव में आतिशबाजी, ढोल नगाड़ों के साथ महिलाओं ने फूल बरसाकर यात्रा का भव्य स्वागत किया। बृहस्पतिवार रात यात्रा में शामिल किसान रात्रि विश्राम करेंगे। शुक्रवार की सुबह सात बजे गांव भैंसी से चलकर नगर से गुजरेगी। अगला पड़ाव दौराला में होगा। भाकियू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेश टिकैत ने कहा कि केंद्र और प्रदेश की सरकारों ने किसानों के साथ केवल छलावा किया है।
विज्ञापन

भाकियू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेश टिकैत ने कहा कि किसान सरकार बना सकता है, तो गिरा भी सकता है। हमारा सरकार का विरोध नहीं है, उसकी नीतियों का विरोध है। सरकार अपनी नीति को सुधारें। सरकार की सभी घोषणाएं हवाई हैं। किसान ने चीनी मिलों को गन्ना दिया है, किसान अपने गन्ने का भुगतान मांग रहे हैं।
हमें यह नहीं पता चल रहा है कि सरकार किसानों के लिए क्या कर रही है। इस सरकार को चला कौन रहा है। किसान बकाया गन्ने का भुगतान नहीं मिलने से परेशान हैं। भाजपा के घोषण पत्र में किसानों को 450 क्विंटल गन्ने का भाव देने की बात कही थी। मात्र 325 रुपये क्विंटल पर ही गन्ने का भाव सिमट गया। किसानों को गन्ने की पैदावार करने में जो खर्चा आ रहा है। उसके हिसाब से किसानों को मात्र 100 व 125 रुपये क्विंटल का ही दाम मिल पा रहा है। किसानों की कोई नहीं सुन रहा है। इसलिए भाकियू ने किसान क्रांति यात्रा की शुरुआत की है। हरिद्वार से किसान क्रांति यात्रा की शुरुआत की गई है, अभी तक सरकार की ओर से कोई प्रतिनिधिमंडल उनसे बातचीत करने के लिए भी नहीं आया है।
अगर किसानों की बात को नहीं सुना गया तो, किसान खुद निर्णय लेगा। 2019 के लोकसभा चुनाव नजदीक आ रहा है, किसान उसमें अपना निर्णय लेगा। किसान सरकार बना सकता है, तो सरकार गिरा भी सकता है। किसान को मजबूर होकर सड़क़ों पर उतरना पड़ा है। भाकियू के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा कि किसान अपनी मांगों को सरकार तक पहुंचाने के लिए किसान क्रांति यात्रा को निकालना पड़ा। किसानों का 22 हजार करोड़ रुपये का गन्ने का भुगतान बकाया है। दिल्ली में दो अक्तूबर को किसान घाट पर क्रांति यात्रा पहुंचेगी। स्वागत करने वालों में जिलाध्यक्ष राजू अहलावत, अहलावत खाप के चौधरी गजेंद्र सिंह, नगराध्यक्ष मनोज सहरावत, ब्लाक अध्यक्ष कपिल सोम, खडक़ सिंह सैनी, डा. सतेंद्र, डा. प्रवेंद्र ढाका, प्रधान सुनील अहलावत, संतरपाल, ऋषिपाल भाटी, चेयरमैन ओमबीर, कृष्ण त्यागी, चेयरमैन पति काजी जमील अहमद, मास्टर हरबीर, सुखलाल, देवेंद्र ढालू, जितेंद्र, रंजन अहलावत, गुडडू आदि शामिल रहे।

यात्रा में राकेश टिकैत की सेहत बिगड़ी
खतौली। भाकियू की किसान क्रांति यात्रा में पैदल चले रहे स्वास्थ्य ठीक नहीं होने पर राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत की हाईवे पर नावला कोठी पर अचानक तबियत खराब हो गई। वे अचेत होकर हाईवे पर गिर पड़े। उनको आनन फानन में किसान गांव भैंसी लेकर पहुंचे, जहां पर उनको नींबू पानी पिलाया गया। इसके बाद उनकी तबियत ठीक हुई। जिलाध्यक्ष राजू अहलावत ने बताया कि कुछ दिन पूर्व राकेश टिकैत ने एंजियोग्राफी कराई थी। वे पैदल यात्रा में हरिद्वार से लगातार चल रहे हैं। राजू अहलावत ने बताया कि चौधरी राकेश टिकैत की अचानक नोएडा तबीयत खराब होने पर कुछ दिन पूर्व एंजियोग्राफी हुई। चिकित्सकों ने उनको आराम करने के लिए कहा था। इसके बावजूद वे जान की परवाह किए बिना किसान क्रांति यात्रा में हरिद्वार से पैदल चल रहे हैं। राकेश टिकैत का कहना है कि किसानों के हितों के लिए लड़ाई लड़ी जाएगी।

हम हर कुर्बानी देने को तैयार
मंसूरपुर। मंसूरपुर में किसान क्रांति यात्रा का ढोल, नगाड़ों आतिशबाजी के साथ भव्य स्वागत किया गया। किसान क्रांति पैदल यात्रा का मंसूरपुर तिराहे पर भाकियू के पश्चिम उत्तर प्रदेश अध्यक्ष चंद्रपाल फौजी के नेतृत्व में किसानों ने भव्य स्वागत किया। चंद्रपाल फौजी ने कहा कि हम हर कुर्बानी देने के लिए तैयार हैं। किसानों को भाकियू के युवा नेता राजीव जोहरा, संजीव राठी सोंटा, वरिष्ठ भाकियू नेता चौधरी संदीप बालियान, मोहित बालियान, राजेंद्र जड़ौदा, कुलबीर प्रधान, सुमन बालियान, अंतरवीर, विकास बालियान, पंकज राठी, टीटू राठी, जगपाल जोहरा, राजीव फौजी, बिटटू ठाकुर, अनुज पहलवान, इमरान प्रधान, घनश्याम प्रधान, सहदेव आर्य, सुनील पहलवान, अशोक प्रधान, अंकित बालियान आदि शामिल रहे। मंसूरपुर में ही नमस्ते मिडवे पर डायरेक्टर अरविंद राठी ने किसान क्रांति यात्रा का स्वागत किया। स्प्रिंग डेल्स पब्लिक स्कूल में संजीव राठी, शाहपुर मोड पर भाकियू के वरिष्ठ नेता व खानुपुर के प्रधान भूपेंद्र राठी ने स्वागत किया। जड़ौदा में भाकियू जिला महासचिव विनय भारद्वाज के नेतृत्व में सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने स्वागत किया।


 
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X
  • Downloads

Follow Us