बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

शेरपुर बवाल में 270 पर मुकदमा, डीआईजी गांव पहुंचे, चौकी इंचार्ज लाइन हाजिर      

अमर उजाला ब्यूरो/ मुजफ्फरनगर Updated Sun, 04 Jun 2017 12:55 AM IST
विज्ञापन
घटनाक्रम की जानकारी लेते डीआईजी।
घटनाक्रम की जानकारी लेते डीआईजी। - फोटो : अमर उजाला

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
गांव शेरपुर में पुलिस टीम पर हमला कर सरकारी वाहनों को आग लगाने के मामले में पुलिस ने प्रारंभिक कार्रवाई शुरू कर दी है। बवाल करने वाले 20 लोगों को नामजद और 250 अज्ञात के खिलाफ संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है। गांव में तनावपूर्ण शांति बनी है। शनिवार को डीआईजी सहारनपुर ने गांव का दौरा किया। लापरवाही के चलते चौकी इंचार्ज विनोद कुमार को लाइन हाजिर किया गया है। फरार आरोपियों की तलाश की जा रही है। देर रात गिरफ्तार किए गए चार लोगों को जेल भेज दिया गया है। 
विज्ञापन


शुक्रवार शाम शहर कोतवाली पुलिस को शेरपुर गांव में गोकशी की सूचना मिली थी। पुलिस को गांव में ग्रामीणों ने घेर लिया। कुछ ही देर में हालात बिगड़ते देर नहीं लगी। ग्रामीणों ने पुलिस पर आरोप लगाते हुए हंगामा शुरू कर दिया। हालात इतने खराब हुए कि उत्पाती भीड़ ने पुलिसकर्मियों को बंधक बनाकर पिटाई की।


चीता मोबाइल के तीन बाइकों को आग के हवाले कर दिया गया। घटना की सूचना मिलने पर कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची। भीड़ ने पुलिस पर हमला बोल दिया। जमकर पथराव किया गया। भीड़ के आक्रोश के आगे पुलिसकर्मियों को मौके से भागना पड़ा। सीओ सिटी तेजवीर सिंह, एसपी सिटी राजेश कुमार सिंह भी मौके पर पहुंचे। हमले में कुछ पुलिसकर्मी और ग्रामीण घायल भी हुए।

ग्रामीणों ने पुलिस पर फायरिंग करने का आरोप लगाया, जबकि पुलिस ने अपनी ओर से फायरिंग की बात से इंकार किया। चार लोगों को मौके से शुक्रवार को गिरफ्तार किया गया है। इनमें फरमान, सरफराज, अकबर, शाहरुख शामिल हैं। अधिकतर आरोपी अपने घरों से फरार हो चुके हैं। घटना के बाद से गांव छावनी के रूप में तब्दील हो गया है। भारी तादाद में पुलिस बल तैनात है। 

शनिवार को दिनभर पुलिस ने आरोपियों की धरपकड़ के लिए दबिशें दी, लेकिन कोई हाथ नहीं आया। शेरपुर बवाल मामले में आला अफसरों के निर्देश पर पुलिस ने एक्शन लिया है। पुलिस की ओर से शहर कोतवाली में 20 लोगों को नामजद करते हुए 250 अज्ञात के खिलाफ संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है। दोपहर के समय सहारनपुर रेंज के डीआईजी केएस एम्युनल ने एसपी सिटी राजेश कुमार के साथ शेरपुर गांव का दौरा किया।

उन्होंने घटनास्थल पर पहुंचकर पूरे मामले की जानकारी ली। उन्होंने ग्रामीणों को भी कानून हाथ में लेने पर कड़ी कार्रवाई करने की चेतावनी दी। डीआईजी ने बताया कि पुलिस पर हमला करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा। मुकदमा दर्ज हो चुका है। गिरफ्तारी के लिए दबिशें चल रही हैं। प्रथमदृष्टया लापरवाही पाए जाने पर चौकी इंचार्ज रुड़की चुंगी विनोद कुमार को लाइन हाजिर कर दिया गया है। डीआईजी ने मामले को लेकर मातहत अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश भी दिए।      
    
कौन-कौन सी लगी धाराएं
मुजफ्फरनगर। पुलिस टीम पर हमले में संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज हुआ है। पुलिस की ओर से ही दर्ज इस मुकदमे में 147, 148, 149, 333, 357, 554, 504, 307, 427, 433, 336, सात क्रिमिनल एक्ट में की धारा लगाई गई है।       

गलत सूचना की जांच  करेंगे एसपी सिटी      
मुजफ्फरनगर। डीआईजी केएस एम्युनल ने शेरपुर में पुलिस को दी गई सूचना की जांच एसपी सिटी राजेश कुमार सिंह को दी है। पुलिस को क्या सूचना दी गई थी, किसने दी थी। उसका उद्देश्य क्या था, इसकी जांच होगी। डीआईजी ने कहा कि एसपी सिटी मौके पर पहुंची पुलिस की भूमिका की भी जांच करेंगे।       

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us