तितावी में छात्र-छात्राओं का जोरदार प्रदर्शन

Muzaffar nagar Updated Tue, 25 Dec 2012 05:30 AM IST
तितावी (मुजफ्फरनगर), 24 दिसंबर। दिल्ली गैंगरेप कांड की आग में पूरे देश में सुनाई पड़ रही है। शहरों से होकर अब इस कांड की लपटें गांव-देहात तक भी पहुंच गई हैं। चहुंओर से सिर्फ एक ही आवाज आ रही है ‘दोषियों को फांसी दो, फांसी दो’। तितावी में सोमवार को भड़के छात्र-छात्राओं ने करीब डेढ़ घंटे तक जाम लगाकर विरोध-प्रदर्शन किया। इस दौरान दोनों ओर वाहनों की लंबी-लंबी कतारें लगी रहीं।
दिल्ली में चलती बस में युवती के साथ हुए गैंगरेप के आरोपियों को फांसी की सजा दिलाए जाने की मांग जोर पकड़ती जा रही है। इस मुद्दे को लेकर सोमवार को राष्ट्रीय छात्र लोकदल की बैठक कस्बे के दीवान सिंह इंटर कॉलेज में हुई। बैठक के बाद पीटी ऊषा इंटर कालेज के छात्र भी तितावी बस स्टैंड पहुंचे और जाम लगाकर रोष प्रकट किया। पुलिस ने छात्र-छात्राओं को समझाने का प्रयास किया, लेकिन आक्रोशित छात्र टस से मस नहीं हुए। जिस कारण दोनों ओर वाहनों की लंबी-लंबी कतारें लग गई। शुगर मिल से हिंडन नदी के पुल तक पानीपत-खटीमा मार्ग करीब डेढ़ घंटा पूरी तरह जाम रहा। छात्रों की मांग थी कि दिल्ली गैंगरेप कांड के आरोपियों को फांसी की सजा सुनाई जाए। पीटी उषा कन्या इंटर कॉलेज की प्राचार्या ऊषा सिंह ने कहा कि ऐसे जघन्य अपराध के विरोध में वह हमेशा छात्र-छात्राओं के साथ हैं। नेतृत्व चौधरी छोटूराम महाविद्यालय के छात्रनेता एवं अध्यक्ष प्रवेंद्र बालियान ने किया। इस दौरान राष्ट्रीय छात्र लोकदल के जिलाध्यक्ष समद खान, सलमान सैफी, वैभव बालियान, गुड्डू, दानिश खान, आशीष, बादल, अमित, मक्खन सिंह, शोरभ त्यागी, आदित्य लाटियान, विनीत चौधरी, शारदा शर्मा, पूनम देवी,कल्पना, पवित्रा, गायत्री, मोनिका और दीपा सिंह मौजूद रहीं।

पहली जनवरी को होगा जिले का चक्का जाम!
तितावी (मुजफ्फरनगर), 24 दिसंबर। आक्रोशित छात्र-छात्राओं ने प्रदर्शन और जाम के दौरान दिल्ली पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। घोषणा की कि अगर दिसंबर के आखिरी तक आरोपियों को फांसी की सजा नहीं दी गई तो छात्र-छात्राएं मुजफ्फरनगर जिले का चक्का जाम करेंगे।
राष्ट्रपति के नाम तितावी एसओ को दिए गए ज्ञापन में छात्र-छात्राओं ने आरोपियों को फांसी की सजा दिए जाने की मांग की है। साथ ही चेतावनी भी दी कि अगर दिसंबर माह के आखिरी तक आरोपियों को फांसी की सजा नहीं दी गई तो छात्र-छात्राओं को मजबूरन बड़ा आंदोलन करना पड़ेगा। उन्होंने फांसी नहीं होने की स्थिति में पहली जनवरी, 2013 को मुजफ्फरनगर जिले का चक्का जाम करने का आह्वान किया। छात्रों ने विरोध-प्रदर्शन कर रहे लोगाें पर लाठी चार्ज, आंसू गैस और पानी की बौछार करने पर रोष जताया। दिल्ली पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए व्यवस्था को सुधारने की अपील की।

कानून में बदलाव की मांग
मुजफ्फरनगर। वरिष्ठ अधिवक्ता राममेहर राठी ने गृहमंत्री सुशील कुमार सिंदे को पत्र लिखकर रेप संबंधी कानून में बदलाव किए जाने की मांग की है। उन्होंने कहा कि बलात्कार के दोषियों को फांसी की सजा होनी चाहिए, जबकि 164 सीआरपीसी के तहत बयान कलमबद्ध होने के बाद अगर पीड़िता बयान बदलती है तो उसके खिलाफ भी कार्रवाई का प्रावधान होना चाहिए।

Spotlight

Most Read

Madhya Pradesh

MP निकाय चुनाव: कांग्रेस और भाजपा ने जीतीं 9-9 सीटें, एक पर निर्दलीय विजयी

मध्य प्रदेश में 19 नगर पालिका और नगर परिषद अध्यक्ष पद पर हुए चुनाव में कांग्रेस और भाजपा के बीच कड़ा मुकाबला देखने को मिला।

20 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: यूपी में देवी देवताओं की फोटो फाड़ने वाले युवक का हुआ ये हाल

मुजफ्फरनगर से एक घटना का वीडियो सामने आया है जिसको देखकर आपकी रूह कापं उठेगी। वीडियो में एक युवक को कुछ तथाकथित हिंदू संगठन के लोग जमीन पर गिरकार बेरहमी से पीट रहे हैं। मामला जानने के लिए देखिए ये रिपोर्ट।

17 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper