अब ‘डैमेज कंट्रोल’ में जुटे सपाई

Muzaffar nagar Updated Tue, 04 Dec 2012 05:30 AM IST
मुजफ्फरनगर, 3 दिसंबर। सपा का टिकट लेकर पहली बार राजनीति के मैदान में उतरे गौरव स्वरूप को प्रशासन ने जोर का झटका दिया। अवैध दुकानें लगवाने की बेटे की पहल ने मंत्रीजी की भी किरकिरी करा दी। अब इस मामले में पार्टी के ही लोग ‘डैमेज कंट्रोल’ में जुट गए हैं।
राज्यमंत्री चितरंजन स्वरूप पिछले दिनों को अपने बेटे गौरव स्वरूप को टिकट दिलाने में कामयाब रहे। गौरव का राजनीति में यह पहला कदम है। जनाधार बटोरने के चक्कर में जिला अस्पताल के बाहर अवैध दुकानें लगवाने का पहला प्रयास उलटा पड़ गया। हालांकि इस मामले में उनके करीबियों ने ही उन्हें अंधेरे में रखा। दरअसल, इस मामले में मंत्रीजी ने शासन को लिखा था कि अतिक्रमण हटाओ अभियान में बेरोजगार हुए लोगों को मानवीय आधार पर कहीं जगह दे दी जाए। इसके जवाब में प्रशासन को आदेश मिला कि नियमानुसार कार्रवाई की जाए, बस इसी बात को किसी ने उड़ा दिया कि दुकानें फिर से लगवाने के आदेश आ गए हैं। इस पर दुकानदार जश्न मनाते हुए मंत्रीजी के आवास पर पहुंच गए और उन्हें सम्मानित कर दिया। सोमवार सुबह गौरव भी वाहवाही लूटने पहुंच गए। उन्होंने फीते की जगह प्रशासन द्वारा लगाए गए कंटीले तारों को काटकर फोटो खिंचवा लिए। यह मामला उलटा पड़ते देख अब पार्टी के लोगों में आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है। पार्टी के कुछ नेता मामले के ‘डैमेज कंट्रोल’ में जुट गए हैं। अब मंत्रीपुत्र गौरव स्वरूप भी कह रहे हैं कि सबकुछ अंजाने में हुआ, इसे तजुर्बे की कमी भी कह सकते हैं। इस मामले से सीख मिली है। जिसका भविष्य में ख्याल रखेंगे।

चौतरफा हो रही निंदा
मुजफ्फरनगर। जिला अस्पताल के बाहर जबरन अस्थाई दुकानें लगवाए जाने के मामले की चौतरफा निंदा शुरू हो गई है।
सामाजिक संगठन लोक मंच की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि अवैध अतिक्रमण हटाकर प्रशासन ने जन-मानस को राहत दी थी, जिसकी सभी ने सराहना की थी। लेकिन निजी स्वार्थ के चलते सत्ताधारियों के संरक्षण में फिर से जिला अस्पताल के बाहर किया गया अतिक्रमण का प्रयास निंदनीय है। इस दौरान सत्य प्रकाश त्यागी, महक सिंह, हरनाथ सैनी, जोगेंद्र सिंह, बलराज सिंह, बृजपाल सिंह, भंवर सिंह वर्मा और अविनाश त्यागी आदि मौजूद रहे। पश्चिमी उत्तर प्रदेश संयुक्त उद्योग व्यापार मंडल की बैठक अमित गर्ग के प्रतिष्ठान पर हुई। जिसमें प्रदेश के वरिष्ठ प्रचार मंत्री अनिल कंसल ने कहा कि फुटपाथ पर बैठने वालों को राज्यमंत्री द्वारा बैठने के लिए न्यौता देकर वोटों की राजनीति की है। सभा में मौजूद युवा प्रदेश महामंत्री जयवीर सिंह, अमित गर्ग, सरदार तरनजीत सिंह, सुमित गर्ग, शिवकुमार, पंकज माहेश्वरी आदि ने भी इस प्रकरण की निंदा की।

Spotlight

Most Read

Varanasi

मतदाता पुनरीक्षण में लापरवाही, चार अफसरों को नोटिस

मतदाता पुनरीक्षण में लापरवाही, चार अफसरों को नोटिस

19 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: यूपी में देवी देवताओं की फोटो फाड़ने वाले युवक का हुआ ये हाल

मुजफ्फरनगर से एक घटना का वीडियो सामने आया है जिसको देखकर आपकी रूह कापं उठेगी। वीडियो में एक युवक को कुछ तथाकथित हिंदू संगठन के लोग जमीन पर गिरकार बेरहमी से पीट रहे हैं। मामला जानने के लिए देखिए ये रिपोर्ट।

17 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper