भाकियू ने किया मोरना चीनी मिल पर प्रदर्शन

Muzaffar nagar Updated Fri, 02 Nov 2012 12:00 PM IST
मोरना। भाकियू कार्यकर्ताओं ने मोरना चीनी मिल को चलाए जाने की मांग को लेकर मिल के गेट पर जोरदार प्रदर्शन किया। चार घंटे बाद मिल प्रबंधक ने 11 नवंबर क ो मिल चलाए जाने का आश्वासन दिया। किसानों ने चेतावनी दी है कि यदि वादे के अनुसार पेराई सत्र शुरू न हुआ तो अनिश्चितकालीन धरना दिया जाएगा। मौके पर पहुंचे एसडीएम से मांग करते हुए कहा यदि तौल में घटतौली मिलती है तो कर्मचारियों को जेल भेजा जाए।
भाकियू के पश्चिमी उत्तर प्रदेश अध्यक्ष चंद्रपाल फौजी के नेतृत्व में किसानों ने मिल के गेट पर धरना प्रदर्शन किया। मिल परिक्षेत्र के अथाई, भोपा, भोकरहेड़ी, करहेड़ा,वजीराबाद, मजलिसपुर तोफीर, बेहड़ा सादात, तिस्सा, रहमतपुर गढ़वाड़ा, जौली आदि गांवों के किसानों ने बताया कि पेराई शुरू न होने से पशुओं के लिए चारे का संकट गहरा गया है। वहीं, कोल्हू मालिक मनचाहे दामों पर गन्ना खरीदने के लिए किसानों को मजूबर कर रहे हैं। किसानों ने चेतावनी दी है कि आठ नवंबर से पर्ची का वितरण हो जाना चाहिए। यदि मिल चलाने के लिए कर्मचारी नहीं मिलते है तो किसान स्वयं मिल चलाने के लिए तैयार हैं। शाम चार बजे मिल के प्रधान प्रबंधक रामअवतार सिंह ने डीएम सुरेंद्र सिंह से वार्ता कर 11 नवंबर से पेराई सत्र शुरू करने का आश्वासन दिया। भाकियू का कहना है कि यदि निर्धारित तिथि पर मिल नहीं चला तो 12 से अनिश्चितकालीन धरना शुरू हो जाएगा। घटतौली पर नजर रखने के लिए भाकियू ने पांच सदस्यीय समिति बनाई। संचालन ओमपाल सिंह और अध्यक्षता काले खां सरदार ने किया। किसानों ने एसडीएम जानसठ जेपी गुप्ता को पांच सूत्रीय मंाग पत्र भी दिया। किसानों को बिल्लु प्रमुख, अनुज पहलवान, संजय राठी, जगत सिंह, राजीव कुमार, विजय रायल, बबलू यादव, अनंगपाल राठी, बिन्नू राठी, धर्मपाल सिहं राठी, बिजेंद्र आर्य ने संबोधित किया। इस दौरान सुमित सहरावत, प्रधान महक सिंह, सत्ता सरदार,ओमपाल, रविंद्र प्रधान, पुष्पेंद्र प्रधान, सतीश प्रधान, बंबर भान, रामपाल आदि समेत सैकड़ों किसान मौजूद रहे।
*
पुलिस बल रहा तैनात
मोरना। भाकियू का धरना प्रदर्शन रोकने के लिए पुलिस बल तैनात रहा। किसानों ने मिल प्रबंधन से वार्ता न होने पर रातभर गेट पर बैठने की घोषणा कर दी। किसान अपना बोरा, बिस्तर, सिलेंडर, सब्जी-आटा लेकर मौके पर पहुंचे तो पुलिस और मिल अधिकारियों में हड़कंप मच गया। 11 नवंबर से मिल चलने का आश्वासन मिलने पर किसान शांत हो गए।
*
गंग नहर से रेत निकालने की मांग
मोरना। किसानों ने एसडीएम जेपी गुप्ता से मांग की है कि रेत माफियों पर शिकंजा कसा जाए और किसानों को रेत निकालने का मौका दिया जाए। फिलहाल रेत खनन पर पाबंदी लगाई गई है।

Spotlight

Most Read

Lucknow

21 साल का साहिल बना पीजीआई थाने का एसओ, टोपी न पहने सिपाहियों की लगाई क्लास

राजधानी के पीजीआई थाने का नजारा शुक्रवार को दो घंटे के लिए बदल गया। शिकायत लिए आए लोग सामने बैठे 21 साल के एसओ को देखकर कुछ देर के लिए ठिठक गए।

19 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: यूपी में देवी देवताओं की फोटो फाड़ने वाले युवक का हुआ ये हाल

मुजफ्फरनगर से एक घटना का वीडियो सामने आया है जिसको देखकर आपकी रूह कापं उठेगी। वीडियो में एक युवक को कुछ तथाकथित हिंदू संगठन के लोग जमीन पर गिरकार बेरहमी से पीट रहे हैं। मामला जानने के लिए देखिए ये रिपोर्ट।

17 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper