कारगिल स्मारक पर लगेगी शहीद भगत सिंह की प्रतिमा

Meerut Bureauमेरठ ब्यूरो Updated Thu, 27 Sep 2018 12:27 AM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
कारगिल स्मारक पर लगेगी शहीद भगत सिंह की प्रतिमा
विज्ञापन

मोरना (मुजफ्फरनगर)। पौराणिक शुकतीर्थ में गंगातट पर स्थापित कारगिल शहीद स्मारक पर शहीद-ए आजम सरदार भगत सिंह की प्रतिमा के अनावरण समारोह की तैयारियों में प्रशासन जुटा है। भागवत पीठ शुकदेव आश्रम परिसर में स्वामी कल्याणदेव हैलीपैड पर सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया गया। गृहमंत्री राजनाथ सिंह के 28 सितंबर के आगमन को लेकर पीठाधीश्वर स्वामी ओमानंद सरस्वती से प्रशासन और पुलिस के अफसरों ने कार्यक्रम की विस्तृत जानकारी ली।
स्वतंत्रता संग्राम अमर सेनानी सरदार भगत सिंह की जयंती पर केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह के शुकतीर्थ आगमन की तैयारियों को लेकर पुलिस प्रशासन मुस्तैद हो गया है। एडीएम प्रशासन अमित सिंह और एसपी क्राइम आरबी चौरसिया ने हैलीपैड की व्यवस्था का जायजा लिया। अधिकारियों ने स्वामी ओमानंद के साथ स्थलीय निरीक्षण किया। तहसीलदार पुष्करनाथ चौधरी, लोनिवि एई शिव कुमार, जेई गौरव एवं अरविंद कुमार की देखरेख में हैलीपैड को दुरुस्त किया गया। भोपा सीओ राम मोहन शर्मा शुकतीर्थ में ही कैंप कर रहे हैं। कारगिल शहीद स्मारक पर रंगाई-पुताई का कार्य अंतिम चरण में है। राष्ट्रीय सैनिक संगठन के प्रांतीय अध्यक्ष कैप्टन सुरेशचंद त्यागी तथा जिलाध्यक्ष सूबेदार अशोक कुमार के नेतृत्व में पूर्व सैनिक स्मारक के स्वच्छता कार्यों में जुटे हैं। वीतराग स्वामी कल्याणदेव द्वारा स्थापित कारगिल शहीद स्मारक पर शुक्रवार को शहीद भगत सिंह की प्रतिमा का अनावरण समारोह 12 बजे से एक बजे तक चलेगा। वीर चक्र विजेता कर्नल तेजेंद्रपाल त्यागी के निर्देशन में आयोजित कार्यक्रम की अध्यक्षता स्वामी ओमानंद सरस्वती करेंगे। शहीद भगत सिंह के भतीजे एवं पूर्व मंत्री स्वतंत्रता सेनानी कुलतार सिंह के पुत्र किरणजीत सिंह सिधु तथा अध्यात्म गुरु पवन सिन्हा की विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थिति होगी। स्मारक पर इससे पहले नेताजी सुभाषचंद्र बोस की प्रतिमा लगाई गई थी। तैयारियों को लेकर नगर पंचायत भोकरहेडी, विकास खंड मोरना के कर्मचारी जुटे हैं। एसडीएम जानसठ विजय कुमार ने शाम को निरीक्षण किया। पूर्व चेयरमैन कैप्टन ज्ञानेंद्र, नमामि गंगे के जिला संयोजक डॉ वीरपाल निर्वाल, ट्रस्ट के महामंत्री केके विज, रमेश मलिक, कथा व्यास अचल शास्त्री, मांगेराम, सुधीश कुमार, हरपाल सिंह, योगेंद्र पाल, जयपाल सिंह आदि मौजूद रहे।
शुकतीर्थ के गंगातट पर शहीदों की शौर्य गाथा
मोरना। शुकतीर्थ के गंगा तट पर स्थापित कारगिल शहीद स्मारक देशभक्ति और बलिदान का प्रतीक है। जुलाई 1999 में कारगिल युद्ध में भारत के वीर सैनिकों की शौर्य गाथा को पौराणिक तीर्थ से जोड़ने के लिए शिक्षा ऋषि वीतराग स्वामी कल्याणदेव ने संकल्प लिया। उन्हीं की सद्प्रेरणा से बने स्मारक पर 527 शहीद सैनिकों के नाम, बटालियन और प्रांत अंकित हैं। नौ मार्च 2003 को स्मारक को राष्ट्र को समर्पित किया गया था।
भागवत कथा श्रवण को शुकतीर्थ में देश-विदेश से प्रतिवर्ष लाखों श्रद्धालु आते हैं। गंगा स्नान पुण्य के साथ तट पर बने कारगिल सपूतों को श्रद्धा सुमन अर्पित करते हैं। ऑपरेशन विजय के दौरान की मिट्टी और टाइगर हिल्स के पत्थर स्मारक की जवान ज्योति पर रखे गए हैं। पूर्व उपथल सेनाध्यक्ष निरंजन सिंह मलिक के निर्देशन में बनी समिति की देखरेख में स्मारक का निर्माण पूरा हुआ था। लोकार्पण समारोह में कारगिल शहीदों के परिजनों को शुकतीर्थ आमंत्रित किया गया। पद्मभूषण वीतराग संत ने शहीदों के माता-पिता, विधवा और भाई बंधुओं का अभिनंदन किया था। परमवीर चक्र विजेता मनोज पांडे की मां मोहिनी पांडे और पिता गोपीचंद पांडे लखनऊ से शुकतीर्थ आकर भावविभोर हो गए थे। शिक्षा ऋषि के बुलावे पर वर्ष 2004 में तत्कालीन उपराष्ट्रपति भैरोसिंह शेखावत ने शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की थी। राज्यसभा के पूर्व सांसद कुलदीप नैयर ने सांसद निधि से सहयोग किया था। शेखावत के प्रयास से शुकतीर्थ के गंगा तट पर विजयंत टैंक रखा गया। वर्तमान में राष्ट्रीय सैनिक संगठन के पास स्मारक की देखरेख का जिम्मा है।
पांच सैनिकों ने दिया था बलिदान
मोरना। कारगिल युद्ध में जिले के पांच जवानों ने वीरगति पाई थी। पचेंडा कलां के लांस नायक बचन सिंह, बुढ़ाना के इटावा गांव के नरेंद्र राठी, विज्ञाना के रिजवान त्यागी, बेलड़ा गांव के अमरेश पाल और खतौली के फुलत गांव के सतीश कुमार ने भारत मॉ की रक्षा को अपने प्राणों की आहुति दी थी।

Trending Video

विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X
  • Downloads

Follow Us