ठाकुरद्वारा में घर में घुस कर तेंदुए का हमला

Moradabad  Bureauमुरादाबाद ब्यूरो Updated Sun, 12 Jul 2020 01:30 AM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
मुरादाबाद। शनिवार तड़के मोहल्ला बहेड़ावाला में एक घर में घुसकर तेंदुए ने जमकर कहर बरपाया। तेंदुए को बाहर निकालने की कोशिश की गए तो युवक पर तेंदुए ने हमला कर दिया। बेटे को बचाने आई मां को भी तेंदुए ने पंजों से हमला कर गंभीर रूप से घायल कर दिया। उनकी चीख-पुकार सुनकर तेंदुए को मोहल्ले के लोगों ने घेर लिया। भीड़ से बचने के लिए फिर से तेंदुआ उसी घर में घुसा तो इस बार भीड़ ने उसे घेर लिया और लाठी डंडों से पीट-पीटकर अधमरा कर दिया। वन विभाग की टीम बेहोश पड़े तेंदुए को अपने साथ ले गई। जहां पशु चिकित्सकों की मौजूदगी में तेंदुए का इलाज चल रहा है।
विज्ञापन

शनिवार को मोहल्ला बहेड़ावाला में प्राथमिक विद्यालय के पास स्थित मुर्तजा अली के घर में सुबह करीब साढ़े छह बजे एक तेंदुआ घुस गया। तेंदुए को देखकर छत से नीचे आ रहे मुर्तजा अली ने घर से बाहर निकालने की कोशिश की। डंडा उठाकर तेंदुए को भगाने की कोशिश की तो वह झपट पड़ा और शरीर पर कई जगह पंजों और दांतों से हमला किया। पास में कुछ दूरी पर खड़ी मुर्तजा की मां जाफरी भी बेटे को बचाने के लिए तेंदुए से भिड़ गई। लेकिन तेंदुए ने जाफरी पर भी हमला बोल दिया। उसकी बांह, गर्दन सहित कई स्थानों पर पंजों से हमला किया। मां बेटे की चीख पुकार सुनकर परिवार के अन्य लोग भी जाग गए। उन्होंने तेंदुए को घेरने की कोशिश की। लाठी डंडे लेकर तेंदुए की ओर बढ़े। जिस पर तेंदुआ वहां से भागकर मुर्तजा के घर से कुछ दूरी पर स्थित कब्रिस्तान में जाकर छिप गया।
वहीं पहुंच गई भीड़
मुर्तजा और उसके परिवार की चीख पुकार सुनकर मोहल्ले की भीड़ ने तेंदुए को कब्रिस्तान में घेर लिया। इस पर तेंदुआ वहां से भागकर मुर्तजा अली के घर के दोबारा घुस गया। युवक के घर के मुख्य गेट पर दरवाजा नहीं लगा है। इसलिए तेंदुए को दो बार अंदर घुसने में आसानी हुई। लेकिन मोहल्ले के लोगों की भीड़ ने युवक के घर में घुसकर तेंदुए को घेर लिया। लाठी डंडों से बुरी तरह पीट-पीटकर तेंदुए को अधमरा कर दिया। बाद में लोगों ने तेंदुए के पैरों को बांधकर युवक के घर से कुछ दूरी पर सड़क पर लाकर पटक दिया। बेहोश पड़े तेंदुए को देखने के लिए लोगों की भारी भीड़ मौके पर जमा हो गई। सूचना पर पुलिस और वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची। वन विभाग की टीम घायल और बेहोश पड़े तेंदुए को अपने साथ ले गई। जानकारी मिलने पर वन विभाग के डीएफओ और एसडीओ भी वन विभाग के काशीपुर रोड पर स्थित कार्यालय पर पहुंची। घटना से नगर और आसपास के क्षेत्र में दहशत फैल गई। उधर वन विभाग का कहना है कि तेंदुए के हमले में घायलों को नियमानुसार मुआवजा दिया जाएगा।
मादा है तेंदुआ, उम्र डेढ़ वर्ष
ठाकुरद्वारा। घर में घुसकर हमला करने वाला तेंदुआ मादा है। उसकी उम्र करीब डेढ़ वर्ष है। वजन करीब 20-22 किलो है। वन विभाग के रेंजर धीरेंद्र सिंह रावत ने बताया कि घटना के समय बारिश हो रही थी। इसलिए तेंदुआ बारिश से बचने के लिए मुर्तजा अली के बिना दरवाजे वाले घर के अंदर घुसकर एक कमरे में बैठा हुआ था। मुर्तजा ने उसे जीने से उतरते देख लिया था। युवक ने उसे घर से बाहर निकालने का प्रयास किया तो तेंदुए ने उस पर हमला बोल दिया। उन्होंने बताया कि तेंदुए का इलाज वन विभाग के ठाकुरद्वारा कार्यालय में ही कराया जा रहा है। स्थानीय पशु चिकित्सक डा. एसपी पांडे और डीएफओ की देख रेख में तेंदुए को इंजेक्शन लगाए जा रहे हैं। हमले में तेंदुए के घायल होने की जानकारी वन विभाग के लखनऊ कार्यालय को दे दी गई है। लॉकडाउन के कारण लखनऊ कार्यालय ने घायल तेंदुए का इलाज ठाकुरद्वारा में ही कराने के लिए कहा है। तेंदुए को कार्यालय में पिंजरे में सुरक्षित रखा गया है।
बेटे मुर्तजा को बचाने के लिए तेंदुए से भिड़ गई मां
ठाकुरद्वारा। बेटे को बचाने के लिए जाफरी तेंदुए से भिड़ गई। उसने बेटे को बचा लिया। लेकिन खुद गंभीर रूप से घायल हो गई। बेटे के प्राथमिक उपचार के बाद उसे अस्पताल से छुट्टी मिल गई है। लेकिन जाफरी अभी भी गंभीर हालत में सरकारी अस्पताल में भर्ती है। बेटे को बचाने के लिए मां की बहादुरी चर्चा का विषय बनी हुई है। बहेड़ावाला में जब सुबह मुर्तजा तेंदुए से अपनी जान बचाने के लिए जूझ रहा था तभी कुछ दूरी पर खड़ी उसकी मां जाफरी अपनी जान की परवाह किए बिना बेटे को बचाने के लिए तेंदुए पर टूट पड़ी। महिला ने डंडे से तेंदुए को मारना शुरू किया। जिस पर तेंदुए ने युवक को छोड़कर महिला पर हमला बोल दिया। तेंदुए ने महिला को उसके शरीर पर कई जगह मुंह और पंजों से वार किया। जिसमें वह गंभीर रूप से घायल हो गई। बाद में परिवार के अन्य लोगों के आ जाने पर तेंदुए ने महिला को अपने चंगुल से छोड़ा। महिला अभी भी गंभीर हालत में नगर के सरकारी अस्पताल में भर्ती है।
तेंदुए को देखने के लिए उमड़ी भीड़, पुलिस ने खदेड़ा
ठाकुरद्वारा। तेंदुए के हमले की सूचना पर भारी भीड़ मौके पर जमा हो गई। सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ती देखकर पुलिस के हाथ पैर फूल गए। बाद में पुलिस ने कई बार सड़क पर लाठी फटकार कर भीड़ को मौके से भगाने का प्रयास किया। लेकिन भीड़ तेंदुए के मौके से जाने के बाद ही वहां से हटी। भीड़ में मौजूद ज्यादातर लोगों के चेहरे पर मास्क भी नहीं लगे थे। संवाद
सूचना के डेढ़ घंटे बाद घायलों को लेने पहुंची एंबुलेंस
ठाकुरद्वारा। मोहल्ला बहेड़ावाला के लोगों का कहना है कि सूचना देने के बाद भी 108 एंबुलेंस, वन विभाग और पुलिस डेढ़ घंटे बाद पहुंची। जबकि मोहल्ला बहेड़वाला की कोतवाली, वन विभाग और अस्पताल से दूसरी मात्र एक किमी है। मुर्तजा अली के भाई आसिम अली और अन्य लोगों ने घटना की जानकारी देते हुए बताया कि घटना की सूचना पुलिस, सरकारी एंबुलेंस और वन विभाग को सुबह सात बजे दे दी गई थी। लेकिन सभी लोग सूचना के करीब डेढ़ घंटे बाद मौके पर पहुंचे। वार्ड सभासद पति हाफिज मोहम्मद यूसुफ ने लोगों की मदद से घायलों को एंबुलेंस से सरकारी अस्पताल भिजवाया।
युवक के परिवार में तेंदुए का खौफ
ठाकुरद्वारा। मुर्तजा अली का परिवार तेंदुए के हमले लेकर अभी भी खौफ में है। उसके परिवार में आठ लोग हैं। पहली बार हमले में सभी ने मिलकर तेंदुए को घर से बाहर निकालने की कोशिश की। लेकिन जब दोबारा तेंदुआ घर के अंदर आया तो मुर्तजा का 10 वर्षीय पुत्र, पुत्री महक, तमन्ना (7), फातिमा, मुर्तजा की पत्नी नसरीन अन्य लोग दोबारा तेंदुए को देखकर अपने कमरों के अंदर घुस गए। कमरों के दरवाजे बंद कर लिए। बाद में तेंदुए के पकड़े जाने पर वे अपने कमरों से बाहर आए। परिवार के बच्चों में अभी भी तेंदुए का खौफ दिखाई दे रहा है।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
  • Downloads

Follow Us